WELCOME TO FRENDZ4M
Mon, Apr 22, 2024, 02:16:37 PM

Current System Time:

Get updatesShare this pageSearch
Telegram | Facebook | Twitter | Instagram Share on Facebook | Tweet Us | WhatsApp | Telegram
 

Forum Main>>Sms/Jokes/Poems>>

MEHFIL-E-SHAYARI

Page: 1   
pratapa007User is offline now
PM [1729]
Rank : Newbie
Status : Member

#1
[b]ONLY SHAYARI[b]-----------------
1 ❤:
Mr.Love,

pratapa007User is not available now
[PM 1729]
Rank : Newbie
Status : Member

#2
मेरे न होने को वो , कुछ इस तरह से बयाँ करेगा,
मेरा नाम लेकर, रो रो कर हंसा करेगा,

जीते जी कभी मिला नहीं वो ,मुझसे सलीके से,
मेरे मरने के बाद वो क्या मेरे लिए दुआ करेगा,

तोड़ दी मैंने उसके रिश्ते की सब टहनियां,
अब बिना आग के कैसे वो, धुंआ करेगा,

उसकी 'ना 'को जीते रहे हम इस उम्मीद पर
कभी तो हार कर वो , मुझसे हाँ करेगा

हम जान बूझ कर ,उस पर जान दे बैठे
कभी तो वो मेरे लिए भी,कुछ नया करेगा

थोड़ा दर्द और दे देते तो ,ग़ज़ल पूरी कर लेता
इससे ज्यादा कोई उससे, इश्क और क्या करेगा

pratapa007User is not available now
[PM 1729]
Rank : Newbie
Status : Member

#3
*हसरतों की मखमली चादर ओढ़,*
*बुनते रहे ख़्वाबों के ताने- बाने।*

*कुछ मिले कुछ समेटे कुछ छूटे,*
*और बनते रहे जीवन के फ़साने।*

*हर रोज़ उठ रही नयी ख्वाहिशें,*
*इसी सिलसिले में बीत गए ज़माने।*

*अपेक्षाएं खुद की कभी औरों की,*
*गुनगुनाते रहे ताउम्र यही तराने।*

*जज़्बात गुम और हम बेजुबान,*
*बस भाग रहे न जाने क्या पाने।*
Reply
You are not logged in, please

Login

Page: 1   

Jump To Page:

Keywords:mehfil, shayari,
Related threads:

Mazahiya Gazal and Shayaries


New Shayaris/Quotes


शायराना ऐ महफ़िल


MUGHAL-E-AZAM 1960 Mp3 FULL ALBUM


** Check Section Rules Before Posting **


...Anniversary Wishes...


Aapka Swagat Hai Shayari Bazar Mai


ƒƒ *::??MEGA SMS THREAD?? ƒƒ *::


TERMS & CONDITIONS | DMCA POLICY | PRIVACY POLICY
Home | Top | Official Blog | Tools | Contact | Sitemap | Feed
Page generated in 1.41 microseconds
FRENDZ4M © 2024