WELCOME TO FRENDZ4M
Sun, Mar 3, 2024, 05:02:09 AM

Current System Time:

Get updatesShare this pageSearch
Telegram | Facebook | Twitter | Instagram Share on Facebook | Tweet Us | WhatsApp | Telegram
 

Forum Main>>Sms/Jokes/Poems>>

कोशिश अच्छे विचारों की

Page: 1   
raman31User is offline now
PM [109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#1
कोशिश हमेशा परिणाम मिलने तक करें,
क्योंकि.....
दुनिया सिर्फ परिणामों को सलाम करती है कोशिशों को नहीं।-----------------
thread sticked by-Sonu
-----------------
2 ❤:
Mr.Love,Sonu,

raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#2
" जीवन एक "प्रतिध्वनि" है।
यहाँ सब कुछ वापस लौटकर
आ जाता है,

अच्छा, बुरा, झूठ, सच...।

अतः दुनिया को आप सबसे
अच्छा देने का प्रयास करें

.....और......

निश्चित ही सबसे अच्छा
आपके पास वापस आएगा"
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#3
जंहा` से `अहम` नही जाता

वहां से `रिश्ते` स्वयं चले `जाते` है
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#4
]
खामोशियाँ ही बेहतर हैं,
शब्दों से
लोग रूठते बहुत हैं..."
जिंदगी गुजर गयी....

सबको खुश करने में ..
जो खुश हुए वो अपने नहीं थे,
जो अपने थे वो कभी खुश नहीं हुए...

कितना भी समेट लो..
हाथों से फिसलता ज़रूर है..
ये वक्त है साहब..
बदलता ज़रूर है.....
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#5
अरमान सिर्फ उतने
ही अच्छे हैं जिनमें
स्वाभिमान गिरवी रखने
की जरूरत ना पडे
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#6
तीन बातें कभी न भूलें -
प्रतिज्ञा करके, क़र्ज़ लेकर और विश्वास देकर। -

तीन बातें करो -
उत्तम के साथ संगीत, विद्वान् के साथ वार्तालाप और सहृदय के साथ मैत्री। -

तीन अनमोल वचन -
धन गया तो कुछ नहीं गया, स्वास्थ्य गया तो कुछ गया और चरित्र गया तो सब गया।

तीन से घृणा न करो -
रोगी से, दुखी से और निम्न जाती से

तीन के आंसू पवित्र होते हैं -
प्रेम के, करुना के और सहानुभूति के

तीन बातें सुखी जीवन के लिए-
अतीत की चिंता मत करो, भविष्य का विश्वास न करो और वर्तमान को व्यर्थ मत जाने दो।

तीन चीज़ें किसी का इन्तजार नहीं करती
समय, मौत, ग्राहक।

तीन चीज़ें जीवन में एक बार मिलती है -
मां, बांप, और जवानी।

तीन चीज़ें पर्दे योग्य है -
धन, स्त्री और भोजन।

तीन चीजों से सदा सावधान रहिए -
बुरी संगत, परस्त्री और निन्दा।

तीन चीजों में मन लगाने से उन्नति होती है
- ईश्वर, परिश्रम और विद्या।

तीन चीजों को कभी छोटी ना समझे -
बीमारी, कर्जा, शत्रु।

तीनों चीजों को हमेशा वश में रखो -
मन, काम और लोभ।

तीन चीज़ें निकलने पर वापिस नहीं आती -
तीर कमान से, बात जुबान से और प्राण शरीर से।

तीन चीज़ें कमज़ोर बना देती है -
बदचलनी, क्रोध और लालच।

तीन चीज़े असल उद्धेश्य से रोकता हैं -
बदचलनी, क्रोध और लालच।

तीन चीज़ें कोई चुरा नहीं सकता
- अकल, चरित्र, हुनर।

तीन व्यक्ति वक़्त पर पहचाने जाते हैं -
स्त्री, भाई, दोस्त।

तीनों व्यक्ति का सम्मान करो -
माता, पिता और गुरु।

तीनों व्यक्ति पर सदा दया करो -
बालक, भूखे और पागल।

तीन चीज़े कभी नहीं भूलनी चाहिए -
कर्ज़, मर्ज़ और फर्ज़।

तीन बातें कभी मत भूलें - उपकार, उपदेश और उदारता।

तीन चीज़े याद रखना ज़रुरी हैं -
सच्चाई, कर्तव्य और मृत्यु।

तीन बातें चरित्र को गिरा देती हैं
- चोरी, निंदा और झूठ।

तीन चीज़ें हमेशा दिल में रखनी चाहिए -
नम्रता, दया और माफ़ी।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#7
जिस इंसान के पास
समाधान करने की शक्ति
जितनी ज्यादा होती है
उसके रिश्तों का दायरा
उतना ही विशाल होता है....

ऊंचाई पर वो लोग पहुचते हैं ,,
जो ‘‘बदला‘‘ लेने की नही
‘‘बदलाव‘‘ लाने की सोच रखते हैं.
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#8
रिश्ता बहुत गहरा हो या न हो
परन्तु भरोसा
बहुत गहरा होना चाहिये..
गुरु वही श्रेष्ठ होता है
जिसकी प्रेरणा से
किसी का चरित्र बदल जाये
और मित्र वही श्रेष्ठ होता है
जिसकी संगत से रंगत बदल जाये
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#9
पूरे दिन में एक बार स्वयं से बात करें
अन्यथा आप एक बेहतरीन इंसान से मिलने का मौक़ा चूक जाएँगे।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#10

जब पैसा नहीं होता है ....
तो सब्जियां पका के खाता है....

जब पैसा आ जाता है तो ....
सब्जियां कच्ची खाता है.....

जब पैसा नहीं होता है ....
तो मंदिर में भगवान के दर्शन करने जाता है...

जब पैसा आ जाता है तो ....
इंसान भगवान को दर्शन देने जाता है....

जब पैसा नहीं होता है .....
तो नींद से जगाना पड़ता है.....

जब पैसा आ जाता है तो .....
नींद की गोली देके सुलाना पड़ता है......

जब पैसा नहीं होता है तो ...
अपनी बीवी को सेक्रेट्री समझता है....
लेकिन जब पैसा आ जाता है ....
तो सेक्रेट्री को बीवी समझने लगता है।।

अजीब है ये पैसा...
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#11
कागज के टुकड़े करना सरल है
कपडे के टुकड़े करना थोडा कठिन है
लोहे के टुकड़े करना काफी कठिन है
लेकिन
हमारे जीवन में सबसे ज्यादा कठिन कुछ है तो वह है हमारे दिमाग के अन्दर स्थित
"अहम"
के टुकड़े करना
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#12
"जिंदगी मे चुनौतियाँ हर किसी के
हिस्से नहीं आती,क्योकि किस्मत भी
किस्मत वालो को ही
आज़माती है !!" -----------------
1 ❤:
Mmrtai,
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#13
परेशानी आये तो इमानदार रहें,
धन आ जायें तो सरल रहें,
अधिकार मिलने पर विनम्र रहें,
क्रोध आने पर शांत रहें,
यही जीवन का प्रबंधन कहलाता है।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#14
हंसी खुशी में काट लो

मत किसी का दिल दुखा ,
दर्द सबके बाँटलो

कुछ नही हैं साथ जाना,
एक नेकी के सिवा,

कर भला होगा भला,
गाँठ में ये बांध लो!
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#15
वक़्त हँसाता है वक़्त रुलाता है
वक़्त ही बहुत कुछ सिखाता है!
वक़्त की कीमत जो पहचान ले
वही मंज़िल को पाता है,
खो देता है जो वक़्त को
जीवन भर पछताता है
क्योंकि गुजरा हुआ वक़्त
कभी लौटकर नहीं आता है।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#16
मंजिल मिले ना मिले
ये तो मुकददर की बात है!
हम कोशिश भी ना करे
ये तो गलत बात है...
जिन्दगी जख्मो से भरी है,
वक्त को मरहम बनाना सीख लो,
हारना तो है एक दिन मौत से,
फिलहाल जिन्दगी जीना सीख लो!!
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#17
जब भी देखता हूँ
किसी  को हँसते हुए..,

तो यकीन आ जाता है..
की खुशियों का ताल्लुक
दौलत से नहीं होता...

जिसका मन मस्त है
उसके पास समस्त है..!!
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#18
जिसकी आँखों में नींद है …. उसके पास अच्छा बिस्तर नहीं …जिसके पास अच्छा बिस्तर है …….उसकी आँखों में नींद नहीं …

जिसके मन में दया है ….उसके पास किसी को देने के लिए धन नहीं…. और जिसके पास धन है उसके मन में दया नहीं …

जिन्हे कद्र है रिश्तों की … उन से कोई रिश्ता रखना नही चाहता....जिनसे रिश्ता रखना चाहते हैं ….उन्हें रिश्तों की कद्र नहीं

जिसको भूख है उसके पास खाने के लिए भोजन नहीं….और जिसके पास खाने के लिए भोजन है ………उसको भूख नहीं…

कोई अपनों के लिए…. रोटी छोड़ देता है…तो कोई रोटी के लिए….. अपनों को….

बताओ, है ना ये दुनिया निराली !! राम की माया
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#19
दुनिया का सबसे खूबसूरत पौधा,
प्रेम" और "स्नेह" का होता है,
जो जमीन पर नहीं,
दिलों में उगता है,
राहत" भी अपनों से मिलती है,
चाहत" भी अपनों से मिलती है,
अपनों से कभी रूठना नहीं,
क्योंकि, "मुस्कुराहट" भी सिर्फ,
अपनों से मिलती है।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#20
अलार्म से
इंसान नहीं जागता
उसकी जिम्मेदारियाँ
उसे जगाती हैं।
सुप्रभात।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#21
*मुठ्ठियों में क़ैद हैं जो खुशियाँ*
*वो बांट दो यारों,*
*ये हथेलियां तो इक दिन वैसे भी*
*खुल ही जानी हैं।*
सुप्रभात
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#22
हमेशा दूसरों की सफलता
के बारे में जानने के
बजाय खुद की सफलता
पर काम किया जाए तो बेहतर होगा


raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#23
स्वयं का दर्द महसूस होना
जीवित होने का प्रमाण है
लेकिन
औरों का दर्द महसूस करना
इन्सान होने का प्रमाण है l
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#24


*प्रसन्न वो रहते हैं जो*
*अपना खुद का मूल्यांकन*
*करते हैं और परेशान*
*वो रहते हैं जो दूसरों का*
*मूल्यांकन करते हैं...!*

raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#25
गुणवान मनुष्य के संपर्क में रहकर
सामान्य मनुष्य भी गौरव प्राप्त करता है
जैसे की फूलों के हार में रहकर धागा भी
मस्तक के ऊपर स्थान प्राप्त करता है l
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#26
*लोग जरूरत के मुताबिक हमारा इस्तेमाल करते है*
*और हम ये समझते है कि वो हमें पसंद करते है*
*"यही तो भरम है जिंदगी का"*

raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#27
*कविता छोटी है,परंतु सारांश बड़ा है*


*वाह रे जिंदगी*
""”"""""""""""""""'""""
* दौलत की भूख ऐसी लगी की कमाने निकल गए *
* ओर जब दौलत मिली तो हाथ से रिश्ते निकल गए *
* बच्चो के साथ रहने की फुरसत ना मिल सकी *
* ओर जब फुरसत मिली तो बच्चे कमाने निकल गए *
*वाह रे जिंदगी*
""”"""""""""""""""'""""


*वाह रे जिंदगी*
""”"""""""""""""""'""""
* जिंदगी की आधी उम्र तक पैसा कमाया*
*पैसा कमाने में इस शरीर को खराब किया *
* बाकी आधी उम्र उसी पैसे को *
* शरीर ठीक करने में लगाया *
* ओर अंत मे क्या हुआ *
* ना शरीर बचा ना ही पैसा *
""""‛"""''""""""""'''''''''''''''''''''''''''''''''""""""""""
*वाह रे जिंदगी*
""”"""""""""""""""'""""


*वाह रे जिंदगी*
""”"""""""""""""""'""""
* शमशान के बाहर लिखा था
* मंजिल तो तेरी ये ही थी *
* बस जिंदगी बित गई आते आते *
* क्या मिला तुझे इस दुनिया से *

* अपनो ने ही जला दिया तुझे जाते जाते *
*वाह रे जिंदगी*
""”"""""""""""""""'""""
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#28
पहचान बडे लोगों सें नहीं
साथ देने वालो सें होनी चाहिए ..

raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#29
*"समय" एक ऐसी चीज़ है, जो..*
*गिनते रहेंगें तो कम पडेगा,*
*उपयोग करेंगे तो वृद्धि होगी,*
*संग्रह करें तो हाथो से निकल जायेगा*
*पर...*
*संभाल लेंगे तो ये आपका हो जायेगा!*

raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#30
?☘?☘???☘?☘
.☕*
*✏रिश्ता बहुत गहरा हो या न हो*
*परन्तु भरोसा*
*बहुत गहरा होना चाहिये..*
*गुरु वही श्रेष्ठ होता है*
*जिसकी प्रेरणा से*
*किसी का चरित्र बदल जाये*
*और मित्र वही श्रेष्ठ होता है*
*जिसकी संगत से रंगत बदल जाये..✍*

raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#31
आजाद रहिये विचारों से… लेकिन बंधे रहिये अपने संस्कारों से…

raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#32
-----------------
*आज का सुविचार*
*नजरअंदाज करिए उन लोगों को,*
*जो आपकी पीठ पीछे आप के बारे में बात करते है,*
*क्योंकि वे उसी जगह रहने लायक है – आपके पीछे !!*


*अंधेरों की साजिशें,*
*रोज रोज होती है।*
*फिर भी उजाले की जीत,*
*हर सुबह होती है।*

raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#33
*किसी भी क्लास में नहीं पढ़ाया जाता है कि*
*कैसे बोलना चाहिए।*

*लेकिन जिस प्रकार से आप*
*बोलते हैं, वह तय कर देता है कि*
*आप किस क्लास के हैं।*

raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#34
*मुस्कुराहट इसलिए नहीं कि खुशियां ज़िंदगी में ज़्यादा हैं*

*मुस्कुराहट इसलिए है कि ज़िन्दगी से न हारने का वादा हैं.. !
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#35
मुस्कराहट वो हीरा है जिसे आप बिना खरीदे
पहन सकते हो और जब तक यह हीरा
आपके पास है आपको सुंदर दिखने के लिये
किसी और चीज की जरुरत नहीं है
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#36
-----------------
*आज का सुविचार*
*_कल आएगा, यह "बात" तय है,_*
*_लेकिन आप उसे.. किस सूरत में देखना चाहते हैं_*
*_यह आपको आज ही तय करना होगा!_*

raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#37
श्रद्धा से ज्ञान , नम्रता से मान
और योग्यता से स्थान मिलता है
यह तीनों मिल जाए तो
व्यक्ति को हर जगह सम्मान मिलता है।

raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#38
*Very Emotional: Value Your Parents While They Are Alive.*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#39
*A Frog gets caught in the spiders web,*
*But the Frog is not spider’s food,*
*So it helps it go unharmed.*
*This is simply amazing, how nature works...*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#40
*"Remember, you have been criticizing yourself for years and it hasn’t worked. Try approving of yourself and see what happens.”*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#41
*A Life without love is no life.*
*Don’t ask yourself What kind of love you should seek, Spiritual, material or mundane, Eastern or Western.*
*Divisions only lead to more divisions. Love has no labels, no definitions.*
*It is what it is Pure and simple.*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#42
?हिसाब सिर्फ़ ऊपर वाले ने ही सही लगाया है ...

सबको खाली हाथ भेजा और खाली हाथ ही बुलाया है !!?

raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#43
चर्चा और आरोप
ये दो चीजें सिर्फ
सफल व्यक्ति के
भाग्य में ही होती है
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#44
खूबसूरत जिंदगी वह होती है
जहां मित्र आपको परिवार
समझता है और परिवार मित्र

raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#45
*A Creative Man Is Motivated By The Desire To Achieve,*
*Not By The Desire To Beat Others...*

*_GooD MorninG...?_*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#46
*Observe your each breath You cannot take in breath unless you give out one.*
*Learn to give rather than to expect from others in life.*

*GooD MorninG...?*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#47
*_U may ATTRACT people by the Quality u Display._*

*_But..._*

*_U RETAIN people_*
*_only by the Quality u Possess...!_*

*_GooD MorninG...?_*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#48
*_U may ATTRACT people by the Quality u Display._*

*_But..._*

*_U RETAIN people_*
*_only by the Quality u Possess...!_*


raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#49
*"नाराज़गी" भी एक*
*खूबसूरत रिश्ता है।*
*जिससे होती है..*

*वह व्यक्ति दिल और*
*दिमाग, दोनों में रहता है।*

??? *शुप्रभात*???
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#50

???????????
सुविचार - "सामान्य क्रम में आपत्तियों के आने पर व्यक्ति घबरा जाता है; उसके हाथ-पैर फूल जाते हैं। वास्तव में कठिनाइयों एवं आपत्तियों के प्रति हमें हमारी सोच बदलने की आवश्यकता है। हमारे जीवन में कठिनाइयाँ हमारे आध्यात्मिक विकास के लिए आती हैं । ये हमारा प्रारब्ध काटती हैं और हमारे संचित कर्मों का बोझ हलका कर हमारे जीवन को और भी बेहतर बनाती है।"
"विचार क्रांति अभियान"
?गायत्री परिवार ?
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#51
?"सुप्रभात"?
??????????
सुविचार - मनुष्य अपने जीवन में कुछ नया कार्य तभी कर सकता है, जब वह अपने अतीत से मुक्त होकर वर्तमान में पूरी तरह एकाग्र होता है, क्योंकि ऐसा होने पर वह अतीत की जंजीरों, बंधनों से आजाद होता है और कुछ कर पाने मे सक्षम होता है ।"
"विचार क्रांति अभियान"
?गायत्री परिवार?
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#52
केवल उन्हीं के साथ मत रहिये जो आपको खुश रखते हैं, थोड़ा उनके साथ भी रहिये जो आपको देखकर खुश होते हैं।
ॐ जय बालाजी ॐ
????
?सुप्रभात?
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#53
®​​​​​​? *꧁!! Զเधॆ Զเधॆ !!꧂*?​​​​​​®

??
*जिनके पास अपने हैं*,
*वो अपनों से झगड़ते हैं*...
*जिनका कोई अपना नहीं*,??
*वो अपनों को तरसते हैं*..।
*कल न हम होंगे न गिला होगा।*
*सिर्फ सिमटी हुई यादों का सिललिसा होगा।*??
*जो लम्हे हैं चलो हंसकर बिता लें।*
*जाने कल जिंदगी का क्या फैसला होगा।*

*◆●स्वयं विचार करें​●◆*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#54
*थोड़े आदर से स्पर्श*
*करके तो देखिये..*

*इंसान का ह्रदय भी टच*
*स्क्रीन से कम नही...*

? *सुप्रभात* ?
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#55
*मन की कड़वाहट को भी*
*क्वारेंटिंन करते चलिए..*

*देखियेगा बहुत सारे सम्बंध*
*वेंटिलेटर पर जाने से बच जायेंगे..*

*शुभ प्रभात*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#56
*जरूर कोई तो लिखता होगा *"कागज" और "पत्थर" का भी नसीब..*
*वरना ये मुमकिन नहीं कि,*कोई पत्थर "ठोकर" खाये..!*
*और कोई पत्थर "भगवान्" बन जाये.*और*
*कोई कागज "रददी"और*
*कोई कागज" गीता" बन जाये..*
*?सुप्रभात?*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#57
*किसी ने क्या खूब लिखा है*
*तु कर ले अपना हिसाब,अपने हिसाब से,*
*लेकिन ऊपर वाला लेगा हिसाब,*
*अपने हिसाब से...*

*जिंदगी में हम कितने सही है और*
*कितने गलत है,*

*ये सिर्फ दो ही शख्स जानते हैं...*
*"परमात्मा" और अपनी "अंतरआत्मा"*

?? *जय श्री कृष्णा*??
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#58
*▪️आज का सुविचार ▪️*

*वृक्ष कभी इस बात पर*
*व्यथित नहीं होता कि*
*उसने कितने पुष्प खो दिए*

*वह सदैव नए फूलों के*
*सृजन में व्यस्त रहता है*

*जीवन में कितना कुछ*
*खो गया, इस पीड़ा को*
*भूल कर, क्या नया*
*कर सकते हैं,*

*इसी में जीवन की सार्थकता है*



*? ?सुप्रभात ??*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#59
*जब जल गंदा हो तो उसे हिलाते नहीं*
*बस शांत छोड़ देते हैं जिससे*
*गंदगी अपने आप नीचे बैठ जाती है*
*इसी प्रकार जीवन में परेशानी आने पर*
*बेचैन होने के बजाय शांत रह कर विचार करें*
*हल जरूर निकलेगा !!*

*??सुप्रभात*??
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#60
*अपनों को हमेशा अपने*
*होने का एहसास*
*दिलाते रहिए ,*
*वरना..,,.!!*
*वक्त आपके अपनों*
*को आपके बिना*
*जीना सिखा देगा.।।*
?????
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#61
*बुद्धिमान व्यक्ति कई बार जवाब होते हुए भी पलट कर नहीं बोलते क्योंकि कई बार रिश्तों को जिंदा रखने के लिए खामोश रह कर हारना जरूरी होता है*
*सुप्रभात*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#62
*सफल रिश्ते इस बात पर*
*निर्भर नहीं करते हैं कि*

*हमारे बीच कितना अच्छा*
*सामंजस्य है।*

*बल्कि इस पर निर्भर*
*करते हैं कि*

*हम कितने अच्छे से*
*गलतफहमी से बच पाते हैं।*

*??सुप्रभात??*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#63
जिंदगी मे तोता नहीं बाज़ बनिये
क्युं की तोता बोलता बहुत है
लेकीन उड़ता बहुत कम है
जब की बाज़ शांत रहता है
लेकिन आसमान को छूने की
ताकत रखता है!
*?सुप्रभात ?*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#64
बड़ा आदमी वह है जो अपने पास बैठे व्यक्ति को छोटा महसूस ना होने दे !
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#65
“अच्छे” और “सच्चे” रिश्ते न तो “खरीदे” जा सकते हैं, . न ही “उधार” लिऐ जा सकते हैं इसलिए उन लोगों को जरूर “महत्व” दें जो “आपको” महत्व देते हैं..!!
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#66
क्या खूब कहा है एक पिता ने , हमें तो सुख में साथी चाहिये दुःख में तो मेरी बेटी ही काफी है ।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#67
अगर आप भी सफलता का आनंद लेना चाहते हैं, तो अपने जीवन में कठिनाइयों का भी आगमन करवाइए।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#68
जिससे किसी को उम्मीद नहीं होती अक्सर वही लोग कमाल करते हैं . . .
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#69
बेहतर यही होगा कि आप कोशिश करें शायद इसमे आप नाकामयाब हो जाएं और उससे कुछ सीखें बजाये इसके की आप कुछ करें ही नहीं।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#70
मन में जो है साफ़ – साफ़ कह देना चाहिए क्योकि सच बोलने से फैसले होते है और झूठ बोलने से फासले . . ! !
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#71
अगर आपको यह लगता है कि आप बिल्कुल अकेले हैं, तो सबसे पहले आकाश की तरफ देखें, पूरा ब्राहाण्ड आपका साथ देने के लिए तैयार है, मगर इसके लिए आपको जरूरत है तो सिर्फ मेहनत करने की – एपीजे अब्दुल कलाम
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#72
जब तक हम ये जान पाते हैं कि ज़िन्दगी क्या है तब तक ये आधी ख़तम हो चुकी होती है.
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#73
दर्द और खुशी दोनों ही अच्छे शिक्षक हैं, क्योंकि दोनो ही हमें अपने स्थितियों में कुछ न कुछ सिखाते जरूर हैं – स्वामी विवेकानंद
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#74
क्या खूब कहा है किसी ने महल के नौकर बनने से अच्छा है अपनी झोपड़ी के मालिक बन कर खुश रहो ।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#75
बड़ों की बातें हमेशा ध्यान से सुनो , क्योंकि वे जब भी कुछ कहते है तो अपने तजुर्बे से कहते है ।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#76
रोग अपनी देह में पैदा होकर भी हानि पहुंचाता है और औषधि वन में पैदा होकर भी हमारा लाभ ही करती है।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#77
हर किसी के लिये ” Available ” मत रहो , क्योंकि जो चीज आसानी से उपलब्ध रहती है उसकी कोई कद्र नहीं करता
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#78
बड़ा सोचो, जल्दी सोचो, सबसे आगे सोचो, विचारों पर किसी का भी एकाधिकार नहीं है। – धीरूभाई अंबानी
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#79
दुनिया के लिए शायद आप एक व्यक्ति हो , लेकिन आपके मां – बाप के लिए आप पूरी दुनिया हो ।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#80
हित चाहने वाला पराया भी अपना है और अहित करने वाला अपना भी पराया है।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#81
भले ही ईश्वर मुझे मेरी मेहनत का फ़ल दुसरों की अपेक्षा देरी से देते हैं परंतु मुझे दूसरों से बेहतर चीजें ही मिलती हैं ।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#82
हर इंसान को परछाई और आईने की तरह ही दोस्त बनाने चाहिए, क्योंकि परछाई कभी साथ नहीं छोड़ती और आईना कभी भी झूठ नहीं बोलता।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#83
समस्या का अंतिम हल माफी ही है कर दो या मांग लो ।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#84
यदि आपको जिंदगी में बहुत ज्यादा सफल होना है तो आपको बहुत ज्यादा ध्यान के साथ मेहनत करने की जरुरत है।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#85
सच्चा चाहने वाला आपसे अच्छी बुरी हर तरह की बात करेगा परन्तु धोखा देने वाला सिर्फ प्यार भरी बात करेगा ।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#86
“अतीत की चिंता मत करो, उसे भूल जाओ। बीती हुई बातों में चिंता से सुधार नहीं हो सकता।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#87
में खुद से कभी हारा नहीं , फिर दूसरों में क्या औकात जो मुझे हरा सके ।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#88
जन्म से ना तो कोई दोस्त पैदा होता है और ना ही दुश्मन, वह तो हमारे घमंड, ताकत या व्यवहार से बनते है।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#89
एक अच्छा दोस्त बुरे वक़्त को भी अच्छा बना देता है ।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#90
इंसान की इच्छाएं समुद्र की तरह ही असीमित और अनंत हैं, अगर एक इच्छा पूरी होती है तो, यह समुद्र में कोलाहल की तरह ही अनंत इच्छाएं जागृत करती है।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#91
आपकी किस्मत आपको मौका देगी , मगर आपकी मेहनत सबको चौका देगी ।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#92
समय ना लगाओ तय करने में आपको क्या करना है , वरना समय तय कर लेगा आपका क्या करना है ।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#93
डर हमेशा आपको कैदी बना कर रखेगा और खुले विचार हमेशा आपको एक बादशाह बना कर रखेंगे ।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#94
अगर हम अपनी ताकत का किसी की भलाई करने में इस्तेमाल नहीं कर सकते, तो वो ताकत एक दिन हमारे लिए मुसीबतों का पहाड़ भी खड़ा कर सकती है।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#95
आपको वह नहीं मिलता , जो आप चाहते है बल्कि वही मिलता है जिसके आप योग्य हो
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#96
याद रखना कभी कोई नहीं मरता किसी के बिना , वक़्त सबको जीना सीखा देता है हर किसी के बिना .
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#97
उन्हें छोड़ देना ही उचित है जो आपके होने का मूल्य ही न समझें
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#98
आदत नहीं पीठ पीछे बुराई करने की , दो लफ्ज़ कम बोलता हूं पर सामने बोलता हूं ।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#99
अगर सच में सफलता हासिल करना है मेरे दोस्त , तो कभी भी वक्त और हालात पर रोना नहीं ।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#100
किसी को हद से ज्यादा भाव मत दो कहीं ऐसा न हो वो तुम्हें रद्दी के भाव समझने लगे ।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#101
किसी भी इंसान का व्यक्तित्व तभी उभर कर सामने आता है, जब वह अपनों से ठोकर खाता है।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#102
अगर हम अपना भविष्य न बदल पाए तो ये बिल्कुल अलग बात है, लेकिन अपने वर्तमान को अच्छा बनाना तो हमारे हाथ में हैं – एपीजे अब्दुल कलाम
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#103
अकेले रहना बहुत अच्छा है बजाय उन लोगो के साथ में रहना जो आपकी कद्र नहीं करते ।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#104
जिंदगी में रिस्क लेने से कभी मत डरो या तो जीत मिलेगी और हार भी गए तो सीख मिलेगी ।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#105
सज्जनों का यह लक्षण है कि वे सदैव दया करनेवाले और करुणाशील होते हैं। – महाभारत / Mahabharat
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#106
जो व्यक्ति सीधी और साफ बात करता है उसकी वाणी तीव्र और कठोर हो सकती है लेकिन वो किसी को धोखा नहीं देता
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#107
रिश्ता कोई भी हो , बेकार है जब तक इज्ज़त और यकीन न हो ।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#108
यदि कोई दुर्बल मानव तुम्हारा अपमान करे तो उसे क्षमा कर दो, क्योंकि क्षमा करना ही वीरों का काम है। परंतु यदि अपमान करने वाला बलवान हो तो उसको अवश्य दण्ड दो। – गुरु गोविन्दसिंह / Guru Gobind Singh
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#109
कभी रंग देखकर प्यार मत करना . क्योंकि भूरी चींटी काली चींटी से भी ज्यादा जोर से काटती है ।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#110
क्षमा से क्रोध को जीतो, भलाई से बुराई को जीतो, दरिद्रता को दान से जीतो और सत्य से असत्यवादी को जीतो।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#111
कितना भी पकड़ो फिसलता जरूर है ये वक्त है साहब बदलता जरूर है ।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#112
अपने माँ बाप का दिल जीत लो सब कुछ जीत जाओगे , वरना इस जहां में सब कुछ जीत कर भी हार जाओगे
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#113
वक़्त सबको मिलता है जिंदगी बदलने के लिए , पर जिंदगी दोबारा नहीं मिलती वक़्त बदलने के लिए ।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#114
थोड़ा डूबूंगा , थोड़ा टूटुंगा लेकिन मैं फिर लौट आऊंगा , ए जिंदगी तू देख मैं फिर जीत जाऊंगा
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#115
अगर जिंदगी में कुछ बड़ा करना चाहते हो तो एक बात हमेशा याद रखना , प्यार , इश्क़ और मोहब्बत से दूर ही रहना ।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#116
सुख में सौ मिले , दुःख में मिला न एक , साथ कष्ट में जो खड़ा , साथी वही है नेका
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#117
अगर जीवन में तरक्की चाहते हो तो मन को कन्ट्रोल रखो और इच्छाओं को दबाकर कर रखो ।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#118
सफाई देने में अपना समय मत बर्बाद करिए , लोग केवल वही सुनते है जो वो सुनना चाहते है ।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#119
ऊपर उठने के लिए किसी की डिग्री की जररूत नहीं अच्छे शब्द ही इंसान को बादशाह बना देते है ।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#120
जुबान और घोड़ा दोनों भागते बहत है यदि दोनों को कंट्रोल न किया जाए तो घोड़ा घुड़सवार को और जुबान बोलने वाले को गिरा देती है ।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#121
अनुभव कहता है कि किसी एक व्यक्ति पर पूरा भरोसा करके देखिए . आपको वही व्यक्ति किसी पर भरोसा न करने का सबक सिखाएगा ।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#122
इंतजार मत करो जितना तुम सोचते हो जिंदगी उससे कई ज्यादा तेजी से निकल रही है ।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#123
हर आदमी अपनी ज़िन्दगी में हीरो हैं , बस कुछ लोगो की फिल्मे रिलीज़ नहीं होती ।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#124
अकेले हो तो विचारों पर काबू रखो और सबके साथ हो तो जुबान पर काबू रखो ।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#125
अपनी मेहनत के पसीने में इस तरह से भीग जाओं , कि गर्म हवा भी ठंडी लगने लगे ।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#126
खुद पर हो विश्वास और मन में हो आस्था, फिर कितनी ही आ जाएं बाधाएं मिल ही जाता है रास्ता ।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#127
पानी की तरह बनो जो अपना रास्ता स्वयं बनाता है , पत्थर की तरह नहीं जो दूसरों का रास्ता भी रोक लेता है ।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#128
“गलती कबूल करने और गुनाह छोड़ने में कभी देर ना करना क्योंकि सफर जितना लंबा होगा वापसी उतनी ही मुश्किल हो जाती है”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#129
दुनिया में भगवान का संतुलन कितना अद्भुत है। 100 किलो अनाज बोरा जो उठा सकता है वो खरीद नहीं सकता और जो खरीद सकता है वो उठा नहीं सकता||
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#130
“अच्छे” और “सच्चे” रिश्ते न तो “खरीदे” जा सकते हैं, . न ही “उधार” लिऐ जा सकते हैं इसलिए उन लोगों को जरूर “महत्व” दें जो “आपको” महत्व देते हैं..!!
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#131
जिन लोगों का चरित्र बेदाग है यानी जो लोग बुराइयों से दूर हैं और दूसरों के प्रति गलत भावनाएं नहीं रखते हैं, वे श्रेष्ठ होते हैं।

यदि किसी व्यक्ति का चरित्र दूषित है और विचार पवित्र नहीं हैं तो उनसे दूर रहना चाहिए।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#132
आपका एक दोष आपके सभी गुणों को नष्ट कर सकता है ।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#133
इस कलयुग में रूपया चाहे कितना भी गिर जाए, इतना कभी नहीं गिर पायेगा, जितना रूपये के लिए इंसान गिर चूका है…
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#134
“अतीत की चिंता मत करो, उसे भूल जाओ। बीती हुई बातों में चिंता से सुधार नहीं हो सकता।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#135
“यदि आप किसी को यह इत्मीनान दिलाना चाहते हैं कि वह गलती पर है तो उसे वास्तव में करके दिखाओ। आदमी देखी हुई वस्तुओं पर विश्वास करते हैं, उन्हें देखने दो।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#136
“उत्तम प्रकृति का व्यक्ति क्रोधित होने पर भी भलाई का ही कार्य करता है। जिस प्रकार दूध जो स्वभाव से मीठा होता है, गरम कर देने पर ये और भी स्वादिष्ट हो जाता हैं। “
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#137
“कर्तव्य कार्य जब नहीं किया जाता है तो वह सज्जनों में क्रोध पैदा करता है।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#138
“संसार में अधम व्यक्ति कौन हैं ? इसका सीधा सा-जबाब है, जो अपना कर्तव्य जानते हुए भी उसका पालन नहीं करते।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#139
कोई वस्तु चाहे कितनी ही दूर क्यों न हो, उसका मिलता कितना ही कठिन क्यों न हो और वह पहुंच से बाहर क्यों न हो, कठिन तपस्या अर्थात परिश्रम से उसे भी प्राप्त किया जा सकता है। परिश्रम सबसे शक्तिशाली वस्तु है।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#140
हमारे स्वप्न विशाल होने चाहिए। हमारी महत्वकांक्षा उंची होनी चाहिए। हमारी प्रतिबद्धता गहरी होनी चाहिए और हमारे प्रयत्न बड़े होने चाहिए।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#141
यदि आप एक बार अपने साथी का भरोसा तोड़ देंगे तो फिर कभी आप उनका सत्कार और सम्मान नहीं पा सकेंगे।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#142
“शांति की विजय भी युद्ध की विजय से कम महत्वपूर्ण नहीं है।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#143
“गरीब वह है जिसके पास ‘ज्ञान‘ की दौलत नहीं है। धनहीन ‘ज्ञानी‘ गरीब कभी नहीं होता।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#144
“स्वस्थ और दीर्घ जीवन के आकांक्षी व्यक्ति को सदैव आशावान और कर्मठ बने रहना चाहिए।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#145
“समय” और “धैर्य” वह दो हीरे मोती है जिनके बल पर व्यक्ति मुश्किल से मुश्किल लक्ष्य हासिल कर सकता है।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#146
‘यदि आप गुस्से के एक पल में धैर्य रखते हैं ! तो आप दुःख के सौ दिनों से बच जाएंगे … ‘.
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#147
“छोटी-छोटी बातों में आनंद खोजना चाहिए, क्योंकि बड़ी-बड़ी बातें तो जीवन में कुछ ही होती हैं।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#148
हित चाहने वाला पराया भी अपना है और अहित करने वाला अपना भी पराया है।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#149
रोग अपनी देह में पैदा होकर भी हानि पहुंचाता है और औषधि वन में पैदा होकर भी हमारा लाभ ही करती है।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#150
अपने जीवन का आनंद लेने के लिये आपको जो सबसे आवश्यक चीज चाहिए वह है- खुश रहना. बस यही मायने रखता है.
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#151
जीवन कितना भी मुश्किल लगे, ऐसी कोई न कोई चीज़ अवश्य होती है जो आप कर सकते हैं और उसमें सफल हो सकते हैं.
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#152
जब तक हम ये जान पाते हैं कि ज़िन्दगी क्या है तब तक ये आधी ख़तम हो चुकी होती है.
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#153
जो आत्मशक्ति का अनुसरण करके संघर्ष करता है उसे महान विजय अवश्य मिलती हैं.
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#154
दुनिया की हर चीज ठोकर खाने से टूट जाती है, केवल एक कामयाबी ही हैं जो ठोकर खाकर मिलती है !!
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#155
इच्छा सफलता का शुरूआती बिंदु हैं, यह हमेशा याद रखें, जिस तरह छोटी आग से कम गर्माहट मिलती हैं उसी तरह कमजोर इच्छा से कमजोर परिणाम मिलते है।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#156
बारिश की बूँदे भले ही छोटी हों, लेकिन उनका लगातार बरसना बड़ी नदियों का बहाव बन जाता है, वैसे ही हमारे छोटे छोटे प्रयास भी जिंदगी में बड़ा परिवर्तन ला सकते हैं।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#157
कुछ करने की इच्छा रखने वाले व्यक्ति के लिए, इस दुनिया में कुछ भी असम्भव चींज नहीं।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#158
कर्म ही पूजा है -इस सिद्धांत को माननेवाला कभी भी असफल नहीं हो सकता। कर्म के अभाव में बुद्धिमान तथा श्रेष्ठ व्यक्ति भी बोझ प्रतीत होता है।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#159
जीवन में आगे बढ़ने और सफलता के शिखर तक पहुंचने का रहस्य स्वयं आपके अन्दर छिपा है। यदि आपमें दृढ़ निश्चय, आत्मविश्वास व कड़ी लगन है और आप मेहनत करने से नहीं घबराते हैं तो आप प्रगति की राह के हर बन्द दरवाजे को खोल सकते हैं।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#160
अमेरिका के विश्वप्रसिद्ध विचारक, लेखक व प्रभावशाली वक्ता ऑरीसन स्वेट मार्डेन का कहना हैं कि मनुष्य अर्थात आप स्वयं ही अपने भाग्यविधाता हैं। अपनी असफलताओं का दोष भाग्य के सिर मढ़ देने के बजाय यदि आप दृढ़ इच्छाशक्ति और संकल्प के साथ कठिनाईयों का मुकाबला करें तो आप अपनी असफलता को सफलता में बदलकर जीवन में सभी प्रकार की खुशियां मनाने में कामयाब हो सकते हैं।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#161
ठोकर खाकर ही व्यक्ति संभलता है। गिरकर उठना और फिर भविष्य में संभलकर चलने में ही महानता है। बार-बार ठोकर लगने पर यह न समझें कि राह विकट है, इस पर तो चलना ही बेकार है।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#162
भावनाओं और विचारों की प्रबलता का चमत्कार आप रोज ही देखते हैं। काम तो, आप बहुत-से करना चाहते हैं परन्तु सफलता उन्हीं में मिलती है जिनके पीछे भावना तथा विचारों की प्रबलता होती है।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#163
आशादीप को कभी भी बुझने न दें। इसी की रोशनी में आपको वह राह मिलेगी जो आपको सफलता की मंजिल तक ले जाएगी। सुख, सफलता और विजय पाने के लिए ही आप इस संसार में आए हैं।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#164
याद रखे ! जितना कठोर हमारा परिश्रम होगा उसका फल भी उतना ही मीठा होगा। हो सकता है कि प्रारम्भ में आपको ऐसा लगे कि यह सब इतना आसान नहीं है, जितना आप समझते थे, लेकिन आशंकाओं के फेर में मत पड़िए। योग्यता तो बनाने से बनती है। बार-बार रस्सी के घिसने से पत्थर पर भी निशान पड़ जाता है। जरूरत बस इस बात की है कि आप लक्ष्य प्राप्त करने की भीष्म प्रतिज्ञा कर लें, निशाना साधते वक्त अर्थात् लक्ष्य की राह पर बढ़ते समय आपको अर्जुन की भांति चिड़िया की आंख ही दिखाई दे, पूरी चिड़िया नहीं। यदि आपने ऐसी दक्षता प्राप्त कर ली तो कोई कारण नहीं कि सफलता आपका वरण न करे।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#165
“Success seems to be largely a matter of hanging on after others have let go.”

“सफलता का एक ही सूत्र है और वह जब अन्य हिम्मत हार चुके हों तो भी आप डटे रहते हैं।”

William Feather विलियम फैदर
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#166
धैर्य के माध्यम से कई लोग उन परिस्थितियों में भी सफल हो जाते हैं जो कि एक निश्चित असफलता जान पड़ती है।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#167
“जीवन में सफलता इतना अधिक प्रतिभा अथवा अवसर का विषय नहीं है जितना वह लक्ष्य के प्रति प्रतिबद्धता और डटे रहने का है।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#168
अधिकतर महान लोगों ने अपनी सबसे बड़ी सफलता अपनी सबसे बड़ी विफलता के एक कदम आगे हांसिल की है।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#169
सफलता इसमें नहीं है कि आप कभी कोई गलती ना करें, बल्कि इसमें है कि आप कभी कोई गलती दोबारा ना करें।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#170
सफलता कभी अंतिम नहीं होती, विफलता कभी घातक नहीं होती। जो मायने रखता है वो है साहस।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#171
सफलता पहले से की गयी तैयारी पर निर्भर है, और बिना ऐसी तैयारी के असफलता निश्चित है।

Confucius कन्फ्यूशियस
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#172
मुझे सफलता का मन्त्र नहीं पता, पर सभी को खुश करने का प्रयास करना ही असफलता का मन्त्र है।

Bill Cosby बिल कासबी
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#173
बार-बार असफल होने पर भी उत्साह ना खोना ही सफलता है।

Winston Churchill विंस्टन चर्चिल
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#174
हर दो मिनट की शोहरत के पीछे आठ घंटे की कड़ी मेहनत होती है।

Jessica Savitch जेसिका सैविच
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#175
“Failure is success if we learn from it.”

असफलता सफलता है, यदि हम उससे सीख लें तो।

Malcolm Forbes मैल्कम फ़ोर्ब्स
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#176
लोग अपने कार्य में अक्सर तब बिफल हो जाते हैं जब वो सफल होने ही वाले होते हैं। यदि कोई अंत में उतना ही चौकन्ना रहे जितना कि वो प्रारंभ में था, तो कोई विफलता नहीं होगी।

Lao Tzu लाओ जू
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#177
सफल होने के लिए, सफलता की इच्छा, असफलता के भय से अधिक होनी चाहिए।

Bill Cosby बिल कासबी
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#178
यदि आप सफलता चाहते हैं तो इसे अपना लक्ष्य ना बनाइये, सिर्फ वो करिए जो करना आपको अच्छा लगता है और जिसमे आपको विश्वास है, और खुद-बखुद आपको सफलता मिलेगी।

David Frost डेविड फ्रोस्ट
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#179
“कोई भी पुरुष बिना एक स्त्री के सहयोग के सफल नहीं होता। पत्नी या माँ, अगर दोनों हों, तो वह सचमुच बहुत भाग्यशाली है।”

Harold Mac Milan हैरोल्ड मैक मिलन
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#180
“सफलता का एक आसान फार्मूला है, आप अपना सर्वोत्तम दीजिये और हो सकता है लोग उसे पसंद कर लें।”

Sam Ewing सैम ईविंग
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#181
“जो चाहा वो मिल जाना सफलता है, जो मिल जाये उसे चाहना ख़ुशी है।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#182
“जीतना ही सब कुछ नहीं है, बस यही एक चीज ही है।”

Vince Lombardi विन्स लोम्बार्डी
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#183
“एक सफल व्यक्ति वह है जो औरो द्वारा अपने ऊपर फेंके गए ईंटों से एक मजबूत नीव बना सके।”

David Brinkley डेविड ब्रिंकले
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#184
“असफलता से सफलता का सृजन कीजिये। निराशा और असफलता, सफलता के दो निश्चित आधार स्तम्भ हैं।”

Dale Carnegie डेल कार्नेगी
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#185
जब आप किसी काम की शुरुआत करें, तो असफलता से मत डरें और उस काम को ना छोड़ें। जो लोग इमानदारी से काम करते हैं वो सबसे प्रसन्न होते हैं।

Chanakya चाणक्य
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#186
“हारना सबसे बुरी विफलता नहीं है। कोशिश ना करना ही सबसे बड़ी विफलता है।”

George Edward Woodberry जार्ज ऐडवर्ड वुडबेरी
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#187
“हमेशा याद रखिये कि सफलता के लिए किया गया आपका अपना संकल्प किसी भी और संकल्प से ज्यादा महत्त्व रखता है।”

Abraham Lincoln अब्राहम लिंकन
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#188
“मेरा सचमुच ये मानना है कि जिस चीज को आप चाहते हैं उसमे असफल होना जिस चीज को आप नहीं चाहते उसमे सफल होने से बेहतर है।”

George Burns जॉर्ज बर्न्स
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#189
“ जिस तरह से विभिन्न स्रोतों से उत्पन्न धाराएँ अपना जल समुद्र में मिला देती हैं, उसी प्रकार मनुष्य द्वारा चुना हर मार्ग, चाहे अच्छा हो या बुरा भगवान तक जाता है।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#190
“उठो मेरे शेरो, इस भ्रम को मिटा दो कि तुम निर्बल हो, तुम एक अमर आत्मा हो, स्वच्छंद जीव हो, धन्य हो, सनातन हो, तुम तत्व नहीं हो, ना ही शरीर हो, तत्व तुम्हारा सेवक है तुम तत्व के सेवक नहीं हो।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#191
“ब्रह्माण्ड की सारी शक्तियां पहले से हमारी हैं। वो हमीं हैं जो अपनी आँखों पर हाँथ रख लेते हैं और फिर रोते हैं कि कितना अन्धकार है!”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#192
“कभी मत सोचिये कि आत्मा के लिए कुछ असंभव है। ऐसा सोचना सबसे बड़ा विधर्म है। अगर कोई पाप है, तो वो यही है; ये कहना कि तुम निर्बल हो या अन्य निर्बल हैं।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#193
“किसी की निंदा ना करें: अगर आप मदद के लिए हाथ बढ़ा सकते हैं, तो ज़रुर बढाएं। अगर नहीं बढ़ा सकते, तो अपने हाथ जोड़िये, अपने भाइयों को आशीर्वाद दीजिये, और उन्हें उनके मार्ग पे जाने दीजिये।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#194
“अगर धन दूसरों की भलाई करने में मदद करे, तो इसका कुछ मूल्य है, अन्यथा, ये सिर्फ बुराई का एक ढेर है, और इससे जितना जल्दी छुटकारा मिल जाये उतना बेहतर है।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#195
“हम वो हैं जो हमें हमारी सोच ने बनाया है, इसलिए इस बात का धयान रखिये कि आप क्या सोचते हैं। शब्द गौण हैं। विचार रहते हैं, वे दूर तक यात्रा करते हैं।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#196
“यदि स्वयं में विश्वास करना और अधिक विस्तार से पढाया और अभ्यास कराया गया होता, तो मुझे यकीन है कि बुराइयों और दुःख का एक बहुत बड़ा हिस्सा गायब हो गया होता।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#197
“एक विचार लो. उस विचार को अपना जीवन बना लो ; उसके बारे में सोचो उसके सपने देखो, उस विचार को जियो। अपने मस्तिष्क, मांसपेशियों, नसों, शरीर के हर हिस्से को उस विचार में डूब जाने दो, और बाकी सभी विचार को किनारे रख दो. यही सफल होने का तरीका है।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#198
“मैं उस भगवान या धर्म को नहीं मानता जो विधवाओं के आँसू न पोंछ सकता है और अनाथों के मुँह में न ही एक टुकड़ा रोटी पहुँचा सकता है। किसी के धर्म-सिद्धांत कितने ही ऊँचे और उसका दर्शन कितना ही सुगठित क्यों न हो, जब तक वह कुछ ग्रंथों और मतों तक सीमित है, मैं उसे नहीं मानता। हमारी आँखें सामने हैं, पीछे नहीं।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#199
“संसार जब तारीफ करने लगता है, तब एक अत्यंत कायर भी बहादुर बन जाता है। समाज के समर्थन तथा प्रशंसा से एक मूर्ख भी वीरोचित कार्य कर सकता है। परंतु अपने आस-पास के लोगों की निंदा स्तुति की बिलकुल परवाह न करते हुए सर्वदा सत्कार्य में लगे रहना वास्तव में सबसे बड़ा त्याग है।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#200
“संसार का इतिहास उन थोड़े व्यक्तियों का इतिहास है, जिन में आत्मविश्वास था। यह विश्वास अन्त:स्थिति देवत्व को जगाकर प्रकट कर देता है। तब व्यक्ति कुछ भी कर सकता है, सर्व-समर्थ हो जाता है। असफलता तभी होती है जब तुम अन्त:स्थिति इस अमोघ शक्ति को अभिव्यक्त करने का पूर्ण प्रयत्न नहीं करते।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#201
“लोग कहते है – इस पर विश्वास करो, उस पर विश्वास करो; मैं कहता हूँ – पहले अपने आप पर विश्वास करो। सब शक्ति तुम में है – इसकी धारणा करो और इस शक्ति को जगाओ – कहो हम सब कुछ कर सकते है।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#202
“कभी ‘नहीं’ मत कहना, यह न कहना कि ‘मै नहीं कर सकता’, क्योंकि तुम अनन्तस्वरुप हो। तुम्हारे स्वरूप की तुलना में देश-काल भी कुछ नहीं है। तुम सबकुछ कर सकते हो, तुम सर्वशक्तिमान हो।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#203
“सफलता प्राप्त करने के लिए अटल धैर्य और दृढ़ इच्छा चाहिए। धीर और वीर व्यक्ति कहता है, “मैं समुद्र पी जाउँगा, मेरी इच्छा से पर्वत टुकड़े टुकड़े हो जाएँगे।” इस प्रकार का साहस और इच्छा रखो, कड़ा परिश्रम करो, तुम अपने उद्देश्य में निश्चित सफल हो जाओगे।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#204
“प्रत्येक सफल मनुष्य के स्वभाव में कही-न-कही एक विशाल ईमानदारी और सच्चाई छिपी रहती है, और उसी के कारण उसे जीवन में इतनी सफलता मिलती है। वह सम्पूर्ण रूप से स्वार्थहीन होता तो उसकी सफलता वैसी ही महान होती, जैसी बुद्ध या ईसा की।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#205
“यदि तुम नेता बनना चाहते हो तो सबके दास बनो। यह सच्चा रहस्य है। यदि तुम्हारें वचन कठोर भी होंगे, तब भी तुम्हारा प्रेम स्वत: जान पड़ेगा। मनुष्य प्रेम को पहचानता है, चाहे वह किसी भी भाषा में प्रकट हो।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#206
“खाने में, पहनने में, या लेटने में, गाने में, या खेलने में, मौज में, या बीमारी में, हमेशा उच्चतम स्तर का नैतिक साहस दिखाओ। तुम अगर ऐसे आदर्श की नींव पर अपना चरित्र निर्माण कर सको, तो हजारों दूसरे लोग तुम्हारे पीछे-पीछे चलने लगेंगे।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#207
“यदि मैं एक मिट्टी के ढ़ेले को पूर्णतया जान लूँ, तो सारी मिट्टी को जान लूँगा। यह है सिद्धांतों का ज्ञान, लेकिन उनका समायोजन अलग – अलग होता है। जब तुम स्वयं को जान लोगे, तो सब कुछ जान लोगे।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#208
“मनुष्य की आत्मा कार्यकरण नियम से परे होने के कारण सम्मिश्रण नहीं है, किसी कारण का परिणाम नहीं है, अतएव वह नित्य मुक्त है और नियम के भीतर जो कुछ सीमित है उस सब का शासनकर्ता है। चूंकि वह सम्मिश्रण नहीं है इसलिए उसकी मृत्यु कभी न होगी। जब आत्मा की मृत्यु नहीं हो सकती तो उसका जन्म भी नहीं हो सकता क्योंकि जीवन और मृत्यु एक ही वस्तु की दो विभिन्न अभिव्यक्तियां है। अतएव आत्मा जन्म और मृत्यु से परे है।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#209
“मनुष्य का अंतिम ध्येय सुख नहीं वरन ज्ञान है, क्योंकि सुख और आनंद का तो एक – न – एक दिन अंत हो ही जाता है, अत: यह मान लेना कि सुख ही परम लक्ष्य है, मनुष्य की भारी भूल है !”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#210
“तुम विश्व से अलग हो, जब तुम अपने आप को शरीर समझते हो, तुम अनंत अग्नि के एक स्फुलिंग हो, जब तुम अपने आप को जीव समझते हो, तभी तुम विश्व हो , जब तुम अपने आप को आत्मस्वरूप मानते हो।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#211
“तुम बच्चे को सिखा नहीं सकते जैसे की तुम पौधे को उगा नहीं सकते। जो कुछ तुम कर सकते हो, वह केवल नकारात्मक पक्ष में है – तुम केवल सहायता दे सकते हो। वह तो एक आतंरिक अभिव्यंजना है, वह अपना स्वभाव स्वयं विकसित करता है – तुम केवल बाधाओं को दूर कर सकते हो।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#212
“हर किसी को अपने भीतर से ही विकास करना होता है। इसे कोई सीखा नहीं सकता, कोई अध्यात्मिक नहीं बना सकता। जो कोई सिखाने वाला है वह अंतरात्मा ही है।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#213
“एक विचार ले; उसी विचार को अपना जीवन बनाओ – उसी का चिन्तन करो, उसी का स्वप्न देखो और उसी में जीवन बिताओ। तुम्हारा मस्तिष्क, स्नायु, शरीर के सर्वांग उसी विचार से पूर्ण रहें। दूसरे समस्त विचारों को त्याग दो। यही सिद्ध होने का उपाय है; और इसी प्रकार महान आध्यात्मिक व्यक्तित्व उत्पन्न हुए हैं।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#214
“किसी और के लिए दिया जलाकर आप अपने रास्ते का अंधकार भी दूर करते हैं ।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#215
“दुनिया की हर चीज ठोकर खाने से टूट जाती है, एक कामयाबी ही हैं जो ठोकर खाकर मिलती है ।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#216
“आज तक कोई इन्सान इसलिए सम्मानित नहीं हुआ कि दुनिया से क्या उसने लिया लेकिन इसलिए जरुर हुआ कि उसने क्या दिया ।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#217
“आज तक कोई इन्सान इसलिए सम्मानित नहीं हुआ कि दुनिया से क्या उसने लिया लेकिन इसलिए जरुर हुआ कि उसने क्या दिया ll।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#218
“असफलता के समय आंसू पोछने वाली एक उँगली उन दस उँगलियों से अधिक महत्वपूर्ण है, जो सफलता के समय एक साथ ताली बजाती है ।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#219
“एक राष्ट्र को मजबूत और आजाद रखने के लिए कुछ ऐसी बातें, जो हमेशा मौजूद होगी जब तक मूल्यों और चरित्रों को कायम रखा जाएगा, एक राष्ट्र और उसके लोग सदैव जीवित रहेंगे ।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#220
“एक निराशावादी को हर अवसर में कठिनाई दिखाई देती है, एक आशावादी को हर कठिनाई में अवसर दिखाई देता है ।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#221
“जीवन एक नैतिक और आत्मिक यात्रा है । अनुशासन के साथ किए गए अच्छे व्यवहार का परिणाम होता है अच्छा और मजबूत चरित्र ।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#222
"जैसे एक बछड़ा हज़ारो गायों के झुंड मे अपनी माँ के पीछे चलता है। उसी प्रकार आदमी के अच्छे और बुरे कर्म उसके पीछे चलते हैं।" ~ आचार्य चाणक्य
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#223
"सबसे बड़ा गुरु मंत्र, अपने राज किसी को भी मत बताओ। ये तुम्हे खत्म कर देगा।" ~ आचार्य चाणक्य
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#224
"आदमी अपने जन्म से नहीं अपने कर्मों से महान होता है।" ~ आचार्य चाणक्य
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#225
"एक समझदार आदमी को सारस की तरह होश से काम लेना चाहिए और जगह, वक्त और अपनी योग्यता को समझते हुए अपने कार्य को सिद्ध करना चाहिए।" ~ आचार्य चाणक्य
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#226
"पुस्तकें एक मुर्ख आदमी के लिए वैसे ही हैं, जैसे एक अंधे के लिए आइना।" ~ आचार्य चाणक्य
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#227
"एक राजा की ताकत उसकी शक्तिशाली भुजाओं में होती है। ब्राह्मण की ताकत उसके आध्यात्मिक ज्ञान में और एक औरत की ताक़त उसकी खूबसूरती, यौवन और मधुर वाणी में होती है।" ~ आचार्य चाणक्य
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#228
"आग सिर में स्थापित करने पर भी जलाती है। अर्थात दुष्ट व्यक्ति का कितना भी सम्मान कर लें, वह सदा दुःख ही देता है।" ~ आचार्य चाणक्य
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#229
"जो गुजर गया उसकी चिंता नहीं करनी चाहिए, ना ही भविष्य के बारे में चिंतिंत होना चाहिए। समझदार लोग केवल वर्तमान में ही जीते हैं।" ~ आचार्य चाणक्य
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#230
"जो जिस कार्ये में कुशल हो उसे उसी कार्ये में लगना चाहिए।" ~ आचार्य चाणक्य
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#231
"ये मत सोचो की प्यार और लगाव एक ही चीज है। दोनों एक दूसरे के दुश्मन हैं। ये लगाव ही है जो प्यार को खत्म कर देता है।" ~ आचार्य चाणक्य
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#232
"दौलत, दोस्त ,पत्नी और राज्य दोबारा हासिल किये जा सकते हैं, लेकिन ये शरीर दोबारा हासिल नहीं किया जा सकता।" ~ आचार्य चाणक्य
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#233
"जो हमारे दिल में रहता है, वो दूर होके भी पास है। लेकिन जो हमारे दिल में नहीं रहता, वो पास होके भी दूर है।" ~ आचार्य चाणक्य
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#234
"जैसे एक सूखा पेड़ आग लगने पे पुरे जंगल को जला देता है। उसी प्रकार एक दुष्ट पुत्र पुरे परिवार को खत्म कर देता है।" ~ आचार्य चाणक्य
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#235
"जिस आदमी से हमें काम लेना है, उससे हमें वही बात करनी चाहिए जो उसे अच्छी लगे। जैसे एक शिकारी हिरन का शिकार करने से पहले मधुर आवाज़ में गाता है।" ~ आचार्य चाणक्य
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#236
"वो व्यक्ति जो दूसरों के गुप्त दोषों के बारे में बातें करते हैं, वे अपने आप को बांबी में आवारा घूमने वाले साँपों की तरह बर्बाद कर लेते हैं।" ~ आचार्य चाणक्य
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#237
"एक आदर्श पत्नी वो है जो अपने पति की सुबह माँ की तरह सेवा करे और दिन में एक बहन की तरह प्यार करे और रात में एक वेश्या की तरह खुश करे।" ~ आचार्य चाणक्य
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#238
"वो जो अपने परिवार से अति लगाव रखता है भय और दुख में जीता है। सभी दुखों का मुख्य कारण लगाव ही है, इसलिए खुश रहने के लिए लगाव का त्याग आवशयक है।" ~ आचार्य चाणक्य
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#239
"एक संतुलित मन के बराबर कोई तपस्या नहीं है। संतोष के बराबर कोई खुशी नहीं है। लोभ के जैसी कोई बिमारी नहीं है। दया के जैसा कोई सदाचार नहीं है।" ~ आचार्य चाणक्य
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#240
: मुर्ख लोगो से वाद-विवाद नहीं करना चाहिए क्योंकि ऐसा करने से हम अपना ही समय नष्ट करते है.
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#241
*कमियाँ तो मुझमें भी बहुत है,*
*पर मैं बेईमान नहीं।*
*मैं सबको अपना मानता हूँ,*
*सोचता फायदा या नुकसान नहीं।*
*एक शौक है अपनी मर्जी से जीने का,*
*कोई और मुझमें गुमान नहीं।*
*छोड़ दूँ बुरे वक़्त में आपनों का साथ,*
*वैसा मैं इंसान नहीं।*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#242
किसी के बुरे वक़्त में उसका हाथ
पकड़ो, सहारा दो और उसे हिम्मत
दो, क्यूँकि बुरा वक़्त तो थोड़े समय में
चला जायेगा, लेकिन वो आपको दुआ
ज़िंदगी भर देते रहेगा,
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#243
किसी ने बहुत अच्छी बात कही है.....
मैं तुम्हें इसलिए सलाह नहीं दे रहा कि मैं ज़्यादा समझदार हूँ.....
बल्कि इसलिए दे रहा हूँ कि मैंने ज़िंदगी में ग़लतियाँ तुमसे ज़्यादा की हैं....

raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#244
फल-फूल पेड़ पर पत्तों से
कम होते हे, फिर भी वो पेड़ उन्हीं के
नाम से जाना जाता हे,
उसी तरह हमारे पास अच्छी बातें
कितनी ही क्युंना हो, पेहचान तो
अच्छे कर्मो से ही होगी।।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#245
1.खुद की कमाई से कम खर्च हो ऐसी जिन्दगी बनायें,
2. दिन मेँ कम से कम 3 लोगो की प्रशंशा करें,
3. खुद की भुल स्वीकार ने मेँ कभी भी संकोच मत करें,
4. किसी के सपनो पर कभी भी न हंसें,
5. अपने पीछे खडे व्यक्ति को भी कभी आगे जाने का मौका दें,
6. रोज हो सके तो सुरज को उगता हुआ अवश्य देखे,
7. खुब जरुरी हो तभी कोई चीज उधार लें,
8. किसी से कुछ जानना हो तो, विवेक से दो बार पूछे,
9. कर्ज और शत्रु को कभी बडा मत होने दें,
10. ईश्वर पर अटूट पुरा भरोशा रखें,
11. प्रार्थना करना कभी मत भूले, प्रार्थना मेँ अपार शक्ति होती है,
12. अपने काम से मतलब रखें,
13. समय सबसे ज्यादा कीमती है, इसको फालतु कामो मेँ खर्च मत करें,
14. जो आपके पास है, उसी मेँ खुश रहना सीखें,
15. बुराई कभी भी किसी कि भी मत करें, क्योकिँ बुराई नाव मेँ छेद समान है, छेद छोटी हो या बडी नाव तो डुबो ही देती है,
16. हमेशा सकारात्मक सोच रखे,
17. हर व्यक्ति एक हुनर लेकर पैदा होता हैं, बस उस हुनर को दुनिया के सामने लायें,
18. कोई काम छोटा नही होता, हर काम बडा होता है जैसे कि सोचो जो काम आप कर रहे हो अगर आप वह काम आप नही करते हो तो दुनिया पर क्या असर होता
19. सफलता उनको ही मिलती है जो कुछ करते है,
20. कुछ पाने के लिए कुछ खोना नही बल्कि कुछ करना पडता है.
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#246
किसी की बुराई तलाश करने वाले इंसान की मिसाल उस मक्खी की तरह है
जो सारे खूबसूरत जिस्म को छोडकर केवल जख्म पर ही बैठती है
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#247
किसी की मजबूरियों पर मत हँसिए
कोई मजबूरियां खरीद कर नहीं लाता
डरिये वक्त की मार से क्युकी बुरा वक्त
किसी को बता कर नहीं आता
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#248
पिता की दौलत पर क्या घमंड करना, मज़ा तो तब है..जब दौलत अपनी हो और घमंड पिता करे।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#249
जब दिमाग कमजोर होता है
तो परिस्थितियां समस्या बन जाती हैं
जब दिमाग स्थिर होता है
तो परिस्थितियां आसान बन जाती हैं
जब दिमाग मजबूत होता है
तो परिस्थितियां अवसर बन जाती हैं
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#250
आँखों में मंज़िल थी
गिरे फिर भी संभल गये
आँधियों में इतना दम था नहीं
चिराग तो हवाओं में भी जल गये

मैं क्यों डरूं कि ज़िन्दगी में क्या होगा
मैं क्यों सोचूं कि अच्छा-बुरा क्या होगा
आगे बढ़ता रहूँगा अपनी मंज़िल की ओर
मिल गई तो ठीक हैं वरना तजुर्वा तो होगा
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#251
या तो वक्त बदलना सीखो
या फिर बदलों वक्त के साथ
मज़बूरियों को कोसों मत
हर हालात में जीना सीखो

ज़मीन पर बैठा क्यों आसमान देखता है
अपने पंखों को खोल
ये ज़माना सिर्फ औऱ सिर्फ उड़ान देखता है
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#252
मिल जाये आसानी से उसकी ख़्वाहिश किसको है
ज़िद तो उसकी है जो मुकद्दर में लिखा ही नहीं

यूँ हीं नहीं मिलती राही को मंज़िल
एक जुनून सा दिल में जगाना होता हैं
पूछा चिड़िया से, कैसे बनाया आशियाना
तो बोली, भरनी पड़ती है उड़ान बार-बार
तिनका-तिनका उठाना होता है

सीढ़ियां तो उन्हें मुबारक
जिन्हें सिर्फ छत तक जाना है
मेरी मंज़िल तो आसमान हैं
और रास्ता मुझे खुद बनाना है

रख हौसला वो मंज़र भी आएगा
प्यासे के पास चलके समंदर भी आयेगा
थक हार कर ना बैठ ऐ मंज़िल के मुसाफिर
मंज़िल भी मिलेगी और मिलने का मजा भी आयेगा

जिंदगी बहुत कुछ सिखाती है
कभी हँसाती है कभी रुलाती है
पर जो हर हाल में खुश रहते हैं
जिंदगी उनके आगे सर झुकाती है
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#253
हर पल पे तेरा ही नाम होगा
तेरे हर कदम पे दुनिया का सलाम होगा
मुश्किलो का सामना हिम्मत से करना
देखना एक दिन वक़्त भी तेरा ग़ुलाम होगा

वक़्त से लड़कर जो अपना नसीब बदल दे
इंसान वही जो अपनी तकदीर बदल दे
कल क्या होगा कभी मत सोचो
क्या पता कल वक़्त खुद अपनी लकीर बदल दे

जिंदगी तो जिंदा दिल जिया करते हैं
मुर्दा दिल क्या खाक जिया करते हैं
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#254
सारा जहाँ उसी का है जो मुस्कुराना जानता है
रोशनी भी उसी की है जो शमा जलाना जानता है
हर जगह मंदिर मस्जिद गुरुद्वारे हैं
लेकिन ईश्वर उसी का है जो सर झुकाना जानता है

मंजिले तो मिलती हैं
भटक कर ही सही
पर गुमराह तो वो हैं
जो घर से निकलते ही नहीं
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#255
ज़िंदगी भी उसी को आज़माती है
जो हर मोड़ पर चलना जानता है
कुछ पाकर तो हर कोई मुस्कुरा लेता है
ज़िंदगी तो उसी की होती है
जो सब कुछ खोकर भी मुस्कुराना जानता है

मंजिल मिले ना मिले
ये तो मुकदर की बात है
लेकिन हम कोशिश भी ना करे
ये तो गलत बात है

गुजरी हुई जिंदगी की
कभी याद ना कर
तकदीर मे जो लिखा है
उसकी फरियाद ना कर
जो होगा वो होकर रहेगा
तू कल की फिकर में
आज की हँसी बर्बाद न कर

परिंदों को भी मिलेगी मंजिल
ये उनके पर बोलते हैं
रहते हैं कुछ लोग खामोश
लेकिन उनका हुनर बोलता हैं
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#256
मुश्किलों से भागना आसान होता है
हर पहलू ज़िंदगी का इम्तिहान होता है
डरने वालो को कुछ नही मिलता ज़िंदगी में
लड़ने वालो के कदमो में जहाँ होता है

मुश्किलें दिल के इरादे आजमाती हैं
सपने के परदे निगाहों से हटाती हैं
हौसला मत हार गिर कर ए मुसाफिर
ठोकरें ही इन्सान को चलना सिखाती हैं
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#257
मंजिले उन्ही को मिलती है
जिनके सपनो में जान होती है
पंखो से कुछ नहीं होता
उड़ान तो होसलों से होती है
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#258
जब टूटने लगे होसले तो बस ये याद रखना
बिना मेहनत के हासिल तख्तो-ताज नहीं होते
ढूंढ लेना अंधेरों में मंजिल अपनी
जुगनू कभी रौशनी के मोहताज़ नहीं होते

काम करो ऐसा कि पहचान बन जाये
हर कदम ऐसे चलो कि निशान बन जाये
यहां जिंदगी तो सब काट लेते हैं
जिंदगी ऐसे जियो कि मिसाल बन जाये

रात नहीं ख़्वाब बदलता है
मंज़िल नहीं कारवाँ बदलता है
ज़ज़्बा रखो जीतने का क्योकि
किस्मत बदले न बदले
पर वक्त ज़रुर बदलता है
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#259
डर मुझे भी लगा था फासला देख कर
पर मैं बढ़ता गया रास्ता देख कर
लेकिन खुद-ब-खुद मेरे करीब आती गई
मेरी मंजिल मेरा हौंसला देख कर

गम की अँधेरी रातो में
दिल को न बेकरार कर
सुबह जरूर आयेगी
सुबह का इंतजार कर

रास्ते में रुक के दम ले लूँ
ये मेरी आदत नहीं
लौट कर वापस चला जाऊ
ये मेरी फितरत नहीं
और कोई मिले न मिले
लेकिन मुझे रुकना नहीं
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#260
हमे रोक सके
ये जमाने में दम नहीं
हमसे है जमाना
जमाने से हम नहीं

अगर देखना चाहते हो
तुम मेरी उड़ान को
तो जाओ जाकर
थोड़ा ऊंचा करो इस आसमान को

अगर फलक को ज़िद है
बिजलियाँ गिराने की
तो हमें भी जिद है
वहीं पे आशियाना बनाने की

जिन्दगी तो अपने दम पर जी जाती है
दूसरों के कंधों पे तो सिर्फ जनाजे उठा करते हैं

खोल दो पंख मेरे
अभी ऒर उड़ान बाकी है
ज़मीन नहीं है मंज़िल मेरी
अभी तो पूरा आसमान बाक़ी है
लहरों की ख़ामोशी को
समन्दर की बेबसी न समझो
जितनी गहराई अंदर है
बाहर उतना ही तूफ़ान बाक़ी है
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#261
जब कड़ी से कड़ी जोड़ते हैं
तभी तो जंजीर बनती हैं
और जब मेहनत पे मेहनत करते है
तभी तो तक़दीर बनती है।

टूटे हैं ख़्वाब मगर हौंसले जिंदा है
मुश्किलें भी हमारे आगे शर्मिंदा हैं

सोचने भर से कहाँ मिलते हैं तमन्नाओं के शहर
चलना भी तो जरूरी है मंज़िल पाने के लिए

मंजिल सामने हो तो रास्ता ना मोड़ना
मन में जो भी हो सपना वो मत तोड़ना
कदम कदम पर मिलेगी मुश्किलें आपको
बस सितारो को छूने के लिए जमीन मत छोड़ना
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#262
1. हमेशा प्रसन्न रहना कुछ ऐसा है जिसे प्राप्त करना कठिन है। कहने का अर्थ है, प्रसन्नता और दुःख किसी के जीवन में आते-जाते रहते हैं और ऐसा नही हो सकता ही कि लगातार सिर्फ प्रसन्नता ही बनी रहे।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#263
2. केवल डरपोक और कमजोर ही चीजों को भाग्य पर छोड़ते हैं लेकिन जो मजबूत और खुद पर भरोसा करने वाले होते हैं वे कभी भी नियति या भाग्य पर निर्भर नही करते।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#264
3. दुःख व्यक्ति का साहस खत्म कर देता है। वह व्यक्ति की सीख खत्म कर देता है। हर किसी का सबकुछ नष्ट कर देता है। दुःख से बड़ा कोई शत्रु नहीं है।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#265
4. बच्चों के लिए उस कर्ज को चुकाना मुश्किल है जो उनके माता-पिता ने उन्हें बड़ा करने के लिए किया है।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#266
5. किसी भी नेक उद्देश्य की प्राप्ति के लिए निम्नलिखित गुणों का होना आवश्यक हैं : उदास व दुखी न होना , अपने कर्तव्य पालन की क्षमता, अथवा कठिनाइयों का बल पूर्वक सामना करने की क्षमता।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#267
6. यदि जीवित रहेंगे तो सुख और आनंद की प्राप्ति कभी न कभी अवश्य होगी।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#268
7. सर्वनाश के प्रमुख 3 कारण इस प्रकार हैं : दूसरों के धन की चोरी, दूसरे की पत्नी पर बुरी नजर और अपने ही मित्रों के चरित्र व अखंडता पर शक।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#269
जो किसी से धन व सामग्री की सहायता लेने के पश्चात अपने दिए हुए वचन का पालन नहीं करता, तो वह संसार में सबसे अधिक बुरा माना जाता हैं।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#270
चरित्रहीन व्यक्ति की मित्रता उस पानी की बूंद की भांति होती है जो कमल फूल की पत्ती पर होते हुए भी उस पे चिपक नहीं सकता।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#271
सभी का चेहरा उनकी अंदरूनी विचारधाराओं व भावनाओं का दर्पण होता हैं। इन विचारधाराओं व भावनाओं को छुपाना लगभग असम्भव होता हैं और देखने वाला उन्हें भाँप सकता हैं।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#272
उदासी अत्यंत बुरी चीज होती है। हमें कभी भी अपने मस्तिष्क का नियंत्रण उदासी के हाथ में नहीं देना चाहिये। उदासी एक व्यक्ति को उसी प्रकार मार डालती है, जैसे कि एक क्रोधित साँप किसी बच्चे को।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#273
अपने जीवन का अंत कर देने में कोई अच्छाई नहीं होती, सुख और आनंद का रास्ता जीवन से ही निकलता है।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#274
दुष्टों व राक्षसों से समझौते की बात या नम्र शब्दों से कोई लाभ नहीं हो सकता। इसी प्रकार किसी धनवान व्यक्ति को कोई छोटा मोटा उपहार दे कर उसे शांत नहीं किया जा सकता।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#275
उत्साह हीन, निर्बल व दुःख में डूबा हुआ व्यक्ति कोई अच्छा कार्य नहीं कर सकता। अतः वह धीरे धीरे दुःख की गहराइयों में डूब जाता हैं।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#276
जो अपनों को त्याग कर दुश्मनों के शिविर में चला जाता हैं, उसी के पुराने शिविर के अपने ही साथी दुश्मन को मारने के पश्चात उसे भी मार डालते हैं।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#277
जो क्रोधित है वह इसमें अंतर नहीं कर सकता कि क्या बोला जा सकता है औ क्या बोलने के अयोग्य है। ऐसा कोई अपराध नहीं है जो क्रोधित व्यक्ति नहीं कर सकता। ऐसा कुछ भी नहीं है जो वो नहीं बोल सकता।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#278
परिस्थितियाँ हमारे लिए समस्या नहीं बनती हैं समस्या तो तब बनती है जब हमें परिस्थितियों से निपटना नहीं आता।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#279
अतिसंघर्ष से चंदन में भी आग प्रकट हो जाती है, उसी प्रकार बहुत अवज्ञा किए जाने पर ज्ञानी के भी हृदय में भी क्रोध उपज जाता है।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#280
लक्ष्य प्राप्त करने के बाद आपको क्या मिलता है यह इतना महत्वपूर्ण नहीं है जितना लक्ष्य की प्राप्ति के बाद आप क्या बनते हो वह महत्वपूर्ण है।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#281
अपनी आँखों को हमेशा आसमान की तरफ रखो और अपने पैरो को हमेशा जमीन पर।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#282
कभी भी अपने रहस्यों को किसी और को न बताएं, आपकी यह आदत आपको बर्बाद कर सकती है।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#283
अपने घर को छोड़ कर और किसी के घर में रहना किसी भी पीड़ा से ज्यादा कष्टदायी है।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#284
हर किसी मित्रता के पीछे कोई-न-कोई स्वार्थ छिपा होता है, यह एक बहुत बड़ा सत्य है और यह सत्य हकीकत भी है।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#285
किसी भी व्यक्ति को जरुरत से ज्यादा प्रमाणिक नहीं होना चाहिए क्योंकि जो प्रमाणिक व्यक्ति होता है वही लाइफ में ज्यादा कष्ट उठाता है।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#286
अगर किसी व्यक्ति से भूतकाल में कोई भूल हो तो उसे अपने वर्तमान को सुधारकर अपने भविष्य को अच्छा बनाना चाहिए।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#287
जो आपके सामने आपके कार्यों की प्रशंसा करे और आपकी पीठ के पीछे आपका काम बिगड़ दे ऐसे लोग सांप के समान है, उनसे दूर रहने में ही भलाई है।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#288
जो आपका कुमित्र है उन पर कभी भी विश्वास नहीं करना चाहिए, और जो मित्र है उन पर भी अँधा विश्वास नहीं करना चाहिए।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#289
जो व्यक्ति किसी से भेदभाव नहीं करता और सबके साथ अच्छा व्यवहार करता है वह आदमी जीवन में खूब प्रगति करता है, ऐसे आदमी की हर इच्छा पूरी होती है।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#290
जो व्यक्ति हमेशा अच्छा, मीठा बोलता हो, हर समय अपनी भाषा का ध्यान रखता हो, और किसी भी परिस्थिति में बुरे शब्दों का उपयोग नहीं करता वह व्यक्ति जीवन में हमेशा प्रगति करता है।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#291
अलंकार (Alankar)
अलंकार दो शब्दों से मिलकर बना होता है – अलम + कार। यहाँ पर अलम का अर्थ होता है ‘ आभूषण।’ मानव समाज बहुत ही सौन्दर्योपासक है उसकी प्रवर्ती के कारण ही अलंकारों को जन्म दिया गया है। जिस तरह से एक नारी अपनी सुन्दरता को बढ़ाने के लिए आभूषणों को प्रयोग में लाती हैं उसी प्रकार भाषा को सुन्दर बनाने के लिए अलंकारों का प्रयोग किया जाता है। अथार्त जो शब्द काव्य की शोभा को बढ़ाते हैं उसे अलंकार कहते हैं।

साहित्यों में रस और शब्द की शक्तियों की प्रासंगिकता गद्य और पद्य दोनों में ही की जाती है परंतु कविता में इन दोनों के अलावा भी अलंकार, छंद और बिंब का प्रयोग किया जाता है जो कविता में विशिष्टता लाने का काम करता है हालाँकि पाठ्यक्रम में कविताओं को अपना आधार मानकर ही अलंकार, छंद, बिंब और रस की विवेचना की जाती है।

उदाहरण :- ‘भूषण बिना न सोहई – कविता, बनिता मित्त।’
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#292
अलंकार के प्रयोग का आधार :
कोई भी कवी कथनीय वास्तु को अच्छी से अच्छी अभिव्यक्ति देने की सोच से अलंकारों को प्रयुक्त करता है जिनके द्वारा वह अपने भावों को उत्कर्ष प्रदान करता है या फिर रूप, गुण या क्रिया का अधिक अनुभव कराता है। कवी के मन का ओज ही अलंकारों का असली कारण होता है। जो व्यक्ति रुचिभेद आएँबर या चमत्कारप्रिय होता है वह व्यक्ति अपने शब्दों में शब्दालंकार का प्रयोग करता है लेकिन जो व्यक्ति भावुक होता है वह व्यक्ति अर्थालंकार का प्रयोग करता है।

अलंकार के भेद
शब्दालंकार
अर्थालंकार
उभयालंकार
1. शब्दालंकार
शब्दालंकार दो शब्दों से मिलकर बना होता है – शब्द + अलंकार। शब्द के दो रूप होते हैं – ध्वनी और अर्थ। ध्वनि के आधार पर शब्दालंकार की सृष्टी होती है। जब अलंकार किसी विशेष शब्द की स्थिति में ही रहे और उस शब्द की जगह पर कोई और पर्यायवाची शब्द के रख देने से उस शब्द का अस्तित्व न रहे उसे शब्दालंकार कहते हैं।

अर्थार्त जिस अलंकार में शब्दों को प्रयोग करने से चमत्कार हो जाता है और उन शब्दों की जगह पर समानार्थी शब्द को रखने से वो चमत्कार समाप्त हो जाये वहाँ शब्दालंकार होता है।

शब्दालंकार के भेद :-

अनुप्रास अलंकार
यमक अलंकार
पुनरुक्ति अलंकार
विप्सा अलंकार
वक्रोक्ति अलंकार
शलेष अलंकार
अनुप्रास अलंकार क्या होता है :-

अनुप्रास शब्द दो शब्दों से मिलकर बना है – अनु + प्रास | यहाँ पर अनु का अर्थ है- बार-बार और प्रास का अर्थ होता है – वर्ण। जब किसी वर्ण की बार – बार आवर्ती हो तब जो चमत्कार होता है उसे अनुप्रास अलंकार कहते है।

जैसे :- जन रंजन मंजन दनुज मनुज रूप सुर भूप।
विश्व बदर इव धृत उदर जोवत सोवत सूप।।

अनुप्रास के भेद :-

छेकानुप्रास अलंकार
वृत्यानुप्रास अलंकार
लाटानुप्रास अलंकार
अन्त्यानुप्रास अलंकार
श्रुत्यानुप्रास अलंकार
1. छेकानुप्रास अलंकार क्या होता है :- जहाँ पर स्वरुप और क्रम से अनेक व्यंजनों की आवृति एक बार हो वहाँ छेकानुप्रास अलंकार होता है।

जैसे :- रीझि रीझि रहसि रहसि हँसि हँसि उठै।
साँसैं भरि आँसू भरि कहत दई दई।।

2. वृत्यानुप्रास अलंकार क्या होता है :- जब एक व्यंजन की आवर्ती अनेक बार हो वहाँ वृत्यानुप्रास अलंकार कहते हैं।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#293
जैसे :- “चामर-सी, चन्दन – सी, चंद – सी,
चाँदनी चमेली चारु चंद-सुघर है।”

3. लाटानुप्रास अलंकार क्या होता है :- जहाँ शब्द और वाक्यों की आवर्ती हो तथा प्रत्येक जगह पर अर्थ भी वही पर अन्वय करने पर भिन्नता आ जाये वहाँ लाटानुप्रास अलंकार होता है। अथार्त जब एक शब्द या वाक्य खंड की आवर्ती उसी अर्थ में हो वहाँ लाटानुप्रास अलंकार होता है।

जैसे :- तेगबहादुर, हाँ, वे ही थे गुरु-पदवी के पात्र समर्थ,
तेगबहादुर, हाँ, वे ही थे गुरु-पदवी थी जिनके अर्थ।

4. अन्त्यानुप्रास अलंकार क्या होता है :- जहाँ अंत में तुक मिलती हो वहाँ पर अन्त्यानुप्रास अलंकार होता है।

जैसे :- “लगा दी किसने आकर आग।
कहाँ था तू संशय के नाग?”

5. श्रुत्यानुप्रास अलंकार क्या होता है :- जहाँ पर कानों को मधुर लगने वाले वर्णों की आवर्ती हो उसे श्रुत्यानुप्रास अलंकार कहते है।

जैसे :- “दिनान्त था, थे दीननाथ डुबते,
सधेनु आते गृह ग्वाल बाल थे।”

2. यमक अलंकार क्या होता है :-

यमक शब्द का अर्थ होता है – दो। जब एक ही शब्द ज्यादा बार प्रयोग हो पर हर बार अर्थ अलग-अलग आये वहाँ पर यमक अलंकार होता है।

जैसे :- कनक कनक ते सौगुनी, मादकता अधिकाय।
वा खाये बौराए नर, वा पाये बौराये।

3. पुनरुक्ति अलंकार क्या है :-

पुनरुक्ति अलंकार दो शब्दों से मिलकर बना है – पुन: +उक्ति। जब कोई शब्द दो बार दोहराया जाता है वहाँ पर पुनरुक्ति अलंकार होता है।

4. विप्सा अलंकार क्या है :-

जब आदर, हर्ष, शोक, विस्मयादिबोधक आदि भावों को प्रभावशाली रूप से व्यक्त करने के लिए शब्दों की पुनरावृत्ति को ही विप्सा अलंकार कहते है।

जैसे :- मोहि-मोहि मोहन को मन भयो राधामय।
राधा मन मोहि-मोहि मोहन मयी-मयी।।

5. वक्रोक्ति अलंकार क्या है :-

जहाँ पर वक्ता के द्वारा बोले गए शब्दों का श्रोता अलग अर्थ निकाले उसे वक्रोक्ति अलंकार कहते है।

वक्रोक्ति अलंकार के भेद :-

काकु वक्रोक्ति अलंकार
श्लेष वक्रोक्ति अलंकार
1. काकु वक्रोक्ति अलंकार क्या है :- जब वक्ता के द्वारा बोले गये शब्दों का उसकी कंठ ध्वनी के कारण श्रोता कुछ और अर्थ निकाले वहाँ पर काकु वक्रोक्ति अलंकार होता है।

जैसे :- मैं सुकुमारि नाथ बन जोगू।

2. श्लेष वक्रोक्ति अलंकार क्या है :- जहाँ पर श्लेष की वजह से वक्ता के द्वारा बोले गए शब्दों का अलग अर्थ निकाला जाये वहाँ श्लेष वक्रोक्ति अलंकार होता है।

जैसे :- को तुम हौ इत आये कहाँ घनस्याम हौ तौ कितहूँ बरसो।
चितचोर कहावत है हम तौ तहां जाहुं जहाँ धन सरसों।।

6. श्लेष अलंकार क्या होता है :-

जहाँ पर कोई एक शब्द एक ही बार आये पर उसके अर्थ अलग अलग निकलें वहाँ पर श्लेष अलंकार होता है।

जैसे :- रहिमन पानी राखिए बिन पानी सब सून।
पानी गए न उबरै मोती मानस चून।।

अर्थ – यह दोहा रहीम जी का है जिसमें रहीम जी ने पानी को तीन अर्थों में प्रयोग किया है जिसमें पानी का पहला अर्थ आदमी या मनुष्य के संदर्भ में है जिसका मतलब विनम्रता से है क्योंकि मनुष्य में हमेशा विनम्रता होनी चाहिए। पानी का दूसरा अर्थ चमक या तेज से है जिसके बिना मोतियों का कोई मूल्य नहीं होता है। पानी का तीसरा अर्थ जल से है जिसे आटे को गूथने या जोड़ने में दिखाया गया है क्योंकि पानी के बिना आटे का अस्तित्व नम्र नहीं हो सकता है और मोती का मूल्य उसकी चमक के बिना नहीं हो सकता है उसी तरह से मनुष्य को भी अपने व्यवहार को हमेशा पानी की ही भांति विनम्र रखना चाहिए जिसके बिना उसका मूल्यह्रास होता है।

श्लेष अलंकार के भेद :

अभंग श्लेष अलंकार
सभंग श्लेष अलंकार
1. अभंग श्लेष अलंकार :- जिस अलंकार में शब्दों को बिना तोड़े ही एक से अधिक या अनेक अर्थ निकलते हों वहां पर अभंग श्लेष अलंकार होता है।

जैसे :- रहिमन पानी राखिए, बिन पानी सब सून।
पानी गए न ऊबरै, मोती, मानुस, चून।।

अर्थ – यह दोहा रहीम जी का है जिसमें रहीम जी ने पानी को तीन अर्थों में प्रयोग किया है जिसमें पानी का पहला अर्थ आदमी या मनुष्य के संदर्भ में है जिसका मतलब विनम्रता से है क्योंकि मनुष्य में हमेशा विनम्रता होनी चाहिए। पानी का दूसरा अर्थ चमक या तेज से है जिसके बिना मोतियों का कोई मूल्य नहीं होता है। पानी का तीसरा अर्थ जल से है जिसे आटे को गूथने या जोड़ने में दिखाया गया है क्योंकि पानी के बिना आटे का अस्तित्व नम्र नहीं हो सकता है और मोती का मूल्य उसकी चमक के बिना नहीं हो सकता है उसी तरह से मनुष्य को भी अपने व्यवहार को हमेशा पानी की ही भांति विनम्र रखना चाहिए जिसके बिना उसका मूल्यह्रास होता है।

2. सभंग श्लेष अलंकार :- जिस अलंकार में शब्दों को तोडना बहुत अधिक आवश्यक होता है क्योंकि शब्दों को तोड़े बिना उनका अर्थ न निकलता हो वहां पर सभंग श्लेष अलंकार होता है।

जैसे :- सखर सुकोमल मंजु, दोषरहित दूषण सहित।

2. अर्थालंकार क्या होता है
जहाँ
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#294
जहाँ पर कोई एक शब्द एक ही बार आये पर उसके अर्थ अलग अलग निकलें वहाँ पर श्लेष अलंकार होता है।

जैसे :- रहिमन पानी राखिए बिन पानी सब सून।
पानी गए न उबरै मोती मानस चून।।

अर्थ – यह दोहा रहीम जी का है जिसमें रहीम जी ने पानी को तीन अर्थों में प्रयोग किया है जिसमें पानी का पहला अर्थ आदमी या मनुष्य के संदर्भ में है जिसका मतलब विनम्रता से है क्योंकि मनुष्य में हमेशा विनम्रता होनी चाहिए। पानी का दूसरा अर्थ चमक या तेज से है जिसके बिना मोतियों का कोई मूल्य नहीं होता है। पानी का तीसरा अर्थ जल से है जिसे आटे को गूथने या जोड़ने में दिखाया गया है क्योंकि पानी के बिना आटे का अस्तित्व नम्र नहीं हो सकता है और मोती का मूल्य उसकी चमक के बिना नहीं हो सकता है उसी तरह से मनुष्य को भी अपने व्यवहार को हमेशा पानी की ही भांति विनम्र रखना चाहिए जिसके बिना उसका मूल्यह्रास होता है।

श्लेष अलंकार के भेद :

अभंग श्लेष अलंकार
सभंग श्लेष अलंकार
1. अभंग श्लेष अलंकार :- जिस अलंकार में शब्दों को बिना तोड़े ही एक से अधिक या अनेक अर्थ निकलते हों वहां पर अभंग श्लेष अलंकार होता है।

जैसे :- रहिमन पानी राखिए, बिन पानी सब सून।
पानी गए न ऊबरै, मोती, मानुस, चून।।

अर्थ – यह दोहा रहीम जी का है जिसमें रहीम जी ने पानी को तीन अर्थों में प्रयोग किया है जिसमें पानी का पहला अर्थ आदमी या मनुष्य के संदर्भ में है जिसका मतलब विनम्रता से है क्योंकि मनुष्य में हमेशा विनम्रता होनी चाहिए। पानी का दूसरा अर्थ चमक या तेज से है जिसके बिना मोतियों का कोई मूल्य नहीं होता है। पानी का तीसरा अर्थ जल से है जिसे आटे को गूथने या जोड़ने में दिखाया गया है क्योंकि पानी के बिना आटे का अस्तित्व नम्र नहीं हो सकता है और मोती का मूल्य उसकी चमक के बिना नहीं हो सकता है उसी तरह से मनुष्य को भी अपने व्यवहार को हमेशा पानी की ही भांति विनम्र रखना चाहिए जिसके बिना उसका मूल्यह्रास होता है।

2. सभंग श्लेष अलंकार :- जिस अलंकार में शब्दों को तोडना बहुत अधिक आवश्यक होता है क्योंकि शब्दों को तोड़े बिना उनका अर्थ न निकलता हो वहां पर सभंग श्लेष अलंकार होता है।

जैसे :- सखर सुकोमल मंजु, दोषरहित दूषण सहित।

2. अर्थालंकार क्या होता है
जहाँ पर अर्थ के माध्यम से काव्य में चमत्कार होता हो वहाँ अर्थालंकार होता है।

अर्थालंकार के भेद

उपमा अलंकार
रूपक अलंकार
उत्प्रेक्षा अलंकार
द्रष्टान्त अलंकार
संदेह अलंकार
अतिश्योक्ति अलंकार
उपमेयोपमा अलंकार
प्रतीप अलंकार
अनन्वय अलंकार
भ्रांतिमान अलंकार
दीपक अलंकार
अपहृति अलंकार
व्यतिरेक अलंकार
विभावना अलंकार
विशेषोक्ति अलंकार
अर्थान्तरन्यास अलंकार
उल्लेख अलंकार
विरोधाभाष अलंकार
असंगति अलंकार
मानवीकरण अलंकार
अन्योक्ति अलंकार
काव्यलिंग अलंकार
स्वभावोती अलंकार
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#295
आपका असली मुकाबला केवल अपने आप से है
अगर आप आज खुदको बीते कल से बेहतर बाते हो तो ये आप की बड़ी जीत है
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#296
यदि आप सही है तो आपको
गुस्सा होने की जरूरत नहीं
और अगर आप गलत है तो आपको
गुस्सा करने का कोई हक़ नहीं
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#297
इतने मजबूत बनिए कि आप किसी भी परिस्थिति का रुख मोड़ सकें, और इतने लचीले बनिए कि जरूरत पड़ने पर किसी भी परिस्थिति के अनुसार ढल जाइए
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#298
रास्ते अक्सर मिल जाते हैं
बस चलने का ज़ज्बा हो
मंज़िल चूमती कदम तुम्हारी
बस पाने का हौसला हो
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#299
1.खुद की कमाई से कम खर्च हो ऐसी जिन्दगी बनायें,
2. दिन मेँ कम से कम 3 लोगो की प्रशंशा करें,
3. खुद की भुल स्वीकार ने मेँ कभी भी संकोच मत करें,
4. किसी के सपनो पर कभी भी न हंसें,
5. अपने पीछे खडे व्यक्ति को भी कभी आगे जाने का मौका दें,
6. रोज हो सके तो सुरज को उगता हुआ अवश्य देखे,
7. खुब जरुरी हो तभी कोई चीज उधार लें,
8. किसी से कुछ जानना हो तो, विवेक से दो बार पूछे,
9. कर्ज और शत्रु को कभी बडा मत होने दें,
10. ईश्वर पर अटूट पुरा भरोशा रखें,
11. प्रार्थना करना कभी मत भूले, प्रार्थना मेँ अपार शक्ति होती है,
12. अपने काम से मतलब रखें,
13. समय सबसे ज्यादा कीमती है, इसको फालतु कामो मेँ खर्च मत करें,
14. जो आपके पास है, उसी मेँ खुश रहना सीखें,
15. बुराई कभी भी किसी कि भी मत करें, क्योकिँ बुराई नाव मेँ छेद समान है, छेद छोटी हो या बडी नाव तो डुबो ही देती है,
16. हमेशा सकारात्मक सोच रखे,
17. हर व्यक्ति एक हुनर लेकर पैदा होता हैं, बस उस हुनर को दुनिया के सामने लायें,
18. कोई काम छोटा नही होता, हर काम बडा होता है जैसे कि सोचो जो काम आप कर रहे हो अगर आप वह काम आप नही करते हो तो दुनिया पर क्या असर होता
19. सफलता उनको ही मिलती है जो कुछ करते है,
20. कुछ पाने के लिए कुछ खोना नही बल्कि कुछ करना पडता है
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#300
जब खुशी का एक दरवाजा बंद होता है, तो दूसरा खुलता है; लेकिन हम अक्सर बंद दरवाजे पर इतने लंबे समय तक देखते हैं कि हमें वह नहीं दिखता जो हमारे लिए खोला गया है।
*?सुप्रभात ?*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#301
*_Confidence and Hardwork is the best medicine to kill the disease called..._*

*_Failure_*

*_It will make u a_*
*_Successful person_*

*_GooD MorninG...?_*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#302
*Problems in life are not solved by over thinking.*
*But are solved by having a right mindset.*

*GooD MorninG...?*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#303
*You should drive money ~ Money shouldn't drive you.*

*_GooD MorninG...♥️_*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#304
*"Happiness and sadness run parallel to each other. When one takes a rest, the other one tends to take up the slack.”*

*GooD MorninG...?*



*STAY SAFE & POSITIVE*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#305
??

*इंसान की एक खास*
*बात होती है - सच्ची*
*बातें दिल पर नहीं लेता*
*और झूठी दिमाख*
*पर ले लेता है..*

? * GoodMorning * ?
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#306
*इतर से कपड़ों का महकाना कोई*
*बड़ी बात नहीं है …,*
*मज़ा तो तब है जब आपके*
*किरदार से खुशबु आये..!*
?
*संसार में सिर्फ़ " शहद " ही ऐसा पदार्थ है जिसको सौ साल के बाद भी खाया जा सकता है,*
*और "शहद " जैसी बोली से सालों साल तक लोगों के दिलों में राज किया जा सकता है।*
*?जय जिनेंद्र ?.....*
?
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#307
*जीवन की कश्ती में*
*सोच-समझकर चलना यारो ,*

*जब चलती ..*
*है तो किनारा नही मिलता*

*और*

*जब डूबती है तो सहारा नही मिलता।*



*? सुप्रभात ?*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#308
*? Jaijinendra.?.*
*आज का सुविचार...*
✍?
*माँ बाप के साथ आपका सुलूक*
*एक ऐसी कहानी है*
*जिसे लिखते तो आप हो*
*लेकिन*
*आपकी औलाद आपको पढ़कर सुनाती है*

*?सुप्रभात....*
*??आपका दिन शुभ हो...??*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#309
*सोचा था कोरोना जा रहा है*
*सुना है वो अपग्रेड होकर आ रहा है*

अभी तो छूने से फैलता है
अब क्या निहारने से फैलेगा ???

नाक मुँह तो ढक लिया
अब क्या आंखो को छिपाना पडेगा ???

घर मे तो बंद किया अपने को
अब क्या रजाई मे रहना पडेगा ???

खूब पिया काढा
अब क्या काढे मे डूबना पढेगा ???

समस्या जा रही है
या भंयकर आ रही है

थाली पीटी
अब क्या सर पीटेगे
दिया जलाया
अब क्या घर जला देगे

खूब डर लिया 2020 मे
अब क्या 2021 मे और ज्यादा डरना पडेगा ???

क्या दुनिया बदल गई
हमको भी बदलना पडेगा

क्या जीवन अब ऐसे ही चलेगा ???

जो कहे सरकार
सुनना तो पडेगा
और जो ना कहे सरकार
वो भी करना पडेगा !!!

कुल मिलाकर
हमको भी खुद अपग्रेड करना पडेगा !!!

*Be safe-Wear A Mask?& MaintainSocialDistancing*
*जय श्री राधे*
??
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#310
*मुसीबत* मुसीबत मुसीबत होती है
जो बिना बताए आति हे।
संभल गये तो ठीक वरना
ठिक कर चली जाति है।।

सहि मे ए सारे मुसिबतों
की जड तो हम खुद है।
गलतियाँ हम करते है।
दोष दूसरों पर जडते है।

हँस कर मुसीबत झेलो
मुसीबत रूठ जाती है।
रुठीहुई मुसीबत फीर
लौटकर नही आती है।

raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#311

*?श्रम की महक?*

*एक बार की बात है। एक गांव में एक महान संत रहते थे।*
*वे अपना स्वयं का आश्रम बनाना चाहते थे,जिसके लिए वे कई लोगों से मुलाकात करते थे।और उन्हें एक जगह से दूसरी जगह यात्रा के लिए जाना पड़ता था।*
*इसी यात्रा के दौरान एक दिन उनकी मुलाकात एक साधारण सी कन्या विदुषी से हुई।विदुषी ने उनका बड़े हर्ष से स्वागत किया और संत से कुछ समय कुटिया में रुक कर विश्राम करने की याचना की।*
*संत उसके व्यवहार से प्रसन्न हुए और उन्होंने उसका आग्रह स्वीकार किया। विदुषी ने संत को अपने हाथों से स्वादिष्ट भोज कराया।*
*और उनके विश्राम के लिए खटिया पर एक दरी बिछा दी।और खुद धरती पर टाट बिछा कर सो गई।विदुषी को सोते ही नींद आ गई।उसके चेहरे के भाव से पता चल रहा था कि विदुषी चैन की सुखद नींद ले रही हैं।*
*उधर संत को खटिया पर नींद नहीं आ रही थी।उन्हें मोटे नरम गद्दे की आदत थी,जो उन्हें दान में मिला था।वो रात भर चैन की नींद नहीं सो सके और सोचते रहे कि विदुषी कैसे इस कठोर जमीन पर इतने चैन से सो सकती है।*
*दूसरे दिन सवेरा होते ही संत ने विदुषी से पूछा कि- तुम कैसे इस कठोर जमीन पर इतने चैन से सो रही थी।विदुषी ने बड़ी ही सरलता से उत्तर दिया-हे गुरु देव! मेरे लिए मेरी ये छोटी सी कुटिया एक महल के समान ही भव्य है।*
*इसमें मेरे श्रम की महक है।अगर मुझे एक समय भी भोजन मिलता है,तो मैं खुद को भाग्यशाली मानती हूं।जब दिन भर के कार्यों के बाद मैं इस धरा पर सोती हूं, तो मुझे मां की गोद का आत्मीय अहसास होता हैं।*
*मैं दिन भर के अपने सत्कर्मों का विचार करते हुए चैन की नींद सो जाती हूँ। मुझे अहसास भी नहीं होता कि मैं इस कठोर धरा पर हूँ।*
*यह सब सुनकर संत जाने लगे,तब विदुषी ने पूछा-हे गुरुवर ! क्या मैं भी आपके साथ आश्रम के लिए धन एकत्र करने चल सकती हूं?तब संत ने विनम्रता से उत्तर दिया-तुमने जो मुझे आज ज्ञान दिया है,उससे मुझे पता चला कि मन का सच्चा सुख कहां है।*
*अब मुझे किसी आश्रम की इच्छा नहीं रह गई।यह कहकर संत वापस अपने गांव लौट गये और एकत्र किया धन उन्होंने गरीबो में बांट दिया और स्वयं एक कुटिया बनाकर रहने लगे।*
*जिसके मन में संतोष नहीं है, सब्र नहीं है,वह लाखों-करोड़ों की दौलत होते हुए भी खुश नहीं रह सकता।*
*बड़े-बड़े महलों,बंगलों में मखमल के गद्दों पर भी उसे चैन की नींद नहीं आ सकती।उसे हमेशा और ज्यादा पाने का मोह लगा रहता है*
*इसके विपरीत जो अपने पास जितना है,उसी में संतुष्ट है,जिसे और ज्यादा पाने का मोह नहीं है वह कम संसाधनों में भी खुशी से रह सकता है..!!*
*?????जय जय श्री राधे*??????
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#312
जो भी व्यक्ति जीवन के संघर्ष से परिचित नहीं होता,
इतिहास गवाह है वह कभी चर्चित नहीं होता..!!

?जय श्री महाकाल?
?? सुप्रभात??
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#313
*_A beautiful life does not just happen..._*

*_It's built daily with love laughter, sacrifice, grace and forgiveness._*

*_GooD MorninG...?_*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#314
Life is choice between process of *AGEING* and *GROWING*
*AGEING* is *adding Years* to your Life.
While *GROWING* is *adding Life* to your Years.

*_GooD MorninG...?_*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#315
*"Be more concerned with your character than reputation, because your character is what you really are, while your reputation is merely what others think you are.”*

*GooD MorninG...?*



*STAY SAFE & POSITIVE*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#316
*_Never try to defeat 'Anyone'_*
*_Just try to Win 'Everyone'_*

*_Don't Laugh 'AT' anyone_*
*_But Laugh 'WITH' everyone_*

*_GooD MorninG...?_*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#317
*The Tragedy Of Life Is Not Death.*
*But What We Let Die Inside Us While We Live.*

*GooD MorninG...?*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#318
*Luck is ~ When Opportunity Knocks And You Answer...*

*_GooD MorninG...?_*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#319
*"The greatest happiness you can have is knowing that you do not necessarily require happiness."*

*GooD MorninG...?*



*STAY SAFE & POSITIVE*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#320
1990 से पहले जन्म वाले जरुर पढ़े
बहुत अच्छी फीलिंग आयेगी ☺
.
हम लोग,
जो 1947 से 1990
के बीच जन्में है,
We are blessed because,



? हमें कभी भी

?हमारें माता- पिता को
हमारी पढाई को लेकर
कभी अपने programs
आगे पीछे नही करने पड़ते थे...!

? स्कूल के बाद हम
देर सूरज डूबने तक खेलते थे

? हम अपने
real दोस्तों के साथ खेलते थे;
net फ्रेंड्स के साथ नही ।

? जब भी हम प्यासे होते थे
तो नल से पानी पीना
safe होता था और
हमने कभी mineral water bottle को नही ढूँढा ।

? हम कभी भी चार लोग
गन्ने का जूस उसी गिलास से ही
पी करके भी बीमार नही पड़े ।

? हम एक प्लेट मिठाई
और चावल रोज़ खाकर भी
बीमार नही हुए ।

? नंगे पैर घूमने के बाद भी
हमारे पैरों को कुछ नही होता था ।

? हमें healthy रहने
के लिए Supplements नही
लेने पड़ते थे ।

? हम कभी कभी अपने खिलोने
खुद बना कर भी खेलते थे ।

? हम ज्यादातर अपने parents के साथ या grand- parents के पास ही रहे ।

?हम अक्सर 4/6 भाई बहन
एक जैसे कपड़े पहनना
शान समझते थे.....
common. वाली नही
एकतावाली feelings ...
enjoy करते थे

? हमारे पास
न तो Mobile, DVD's,
PlayStation, Xboxes,
PC, Internet, chatting,
क्योंकि
हमारे पास real दोस्त थे ।

? हम दोस्तों के घर
बिना बताये जाकर
मजे करते थे और
उनके साथ खाने के
मजे लेते थे।
कभी उन्हें कॉल करके
appointment नही लेना पड़ा ।

? हम एक अदभुत और
सबसे समझदार पीढ़ी है क्योंकि
हम अंतिम पीढ़ी हैं जो की
अपने parents की सुनते हैं...
और
साथ ही पहली पीढ़ी
जो की
अपने बच्चों की सुनते हैं ।

We are not special,
but.
We are
LIMITED EDITION
and we are enjoying the
Generation Gap......

share if u r agree
*तेरी बुराइयों* को हर *अख़बार* कहता है,
और तू मेरे *गांव* को *गँवार* कहता है //

*ऐ शहर* मुझे तेरी *औक़ात* पता है //
तू *चुल्लू भर पानी* को भी *वाटर पार्क* कहता है //

*थक* गया है हर *शख़्स* काम करते करते //
तू इसे *अमीरी* का *बाज़ार* कहता है।

*गांव* चलो *वक्त ही वक्त* है सबके पास !!
तेरी सारी *फ़ुर्सत* तेरा *इतवार* कहता है //

*मौन* होकर *फोन* पर *रिश्ते* निभाए जा रहे हैं //
तू इस *मशीनी दौर* को *परिवार* कहता है //

जिनकी *सेवा* में *खपा* देते थे जीवन सारा,
तू उन *माँ बाप* को अब *भार* कहता है //

*वो* मिलने आते थे तो *कलेजा* साथ लाते थे,
तू *दस्तूर* निभाने को *रिश्तेदार* कहता है //

बड़े-बड़े *मसले* हल करती थी *पंचायतें* //
तु अंधी *भ्रष्ट दलीलों* को *दरबार* कहता है //

बैठ जाते थे *अपने पराये* सब *बैलगाडी* में //
पूरा *परिवार* भी न बैठ पाये उसे तू *कार* कहता है //

अब *बच्चे* भी *बड़ों* का *अदब* भूल बैठे हैं //
तू इस *नये दौर* को *संस्कार* कहता है *.//*

किसी मित्र ने पोस्ट किया था जिसे पढ़ने के बाद मैं खुद को रोक न सका और आप सभी के बीच समर्पित किया !!.???
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#321
???शुभ प्रभात???
*बर्बादी की दुष्प्रवृत्ति*
समय की बर्बादी को यदि लोग धन की हानि से बढ़कर मानने लगें, तो क्या हमारा जो बहुमूल्य समय यों ही आलस में बीतता रहता है क्या कुछ उत्पादन करने या सीखने में न लगे? विदेशों में आजीविका कमाने के बाद बचे हुए समय में से कुछ घंटे हर कोई व्यक्ति अध्ययन के लिए लगाता है और इसी क्रम के आधार पर जीवन के अन्त तक वह साधारण नागरिक भी उतना ज्ञान संचय कर लेता है जितना कि हम में से उद्भट विद्वान समझे जाने वाले लोगों को भी नहीं होता। जापान में बचे हुए समय को लोग गृहउद्योगों में लगाते हैं और फालतू समय में अपनी कमाई बढ़ाने के अतिरिक्त विदेशों में भेजने के लिए बहुत सस्ता माल तैयार कर देते हैं जिससे उनकी राष्ट्रीय भी बढ़ती है। एक ओर हम हैं जो स्कूल छोड़ने के बाद अध्ययन को तिलाञ्जलि ही दे देते हैं और नियत व्यवसाय के अतिरिक्त कोई दूसरी सहायक आजीविका की बात भी नहीं सोचते। क्या स्त्री क्या पुरुष सभी इस बात में अपना गौरव समझते हैं कि उन्हें शारीरिक श्रम न करना पड़े।समय की बर्बादी शारीरिक नहीं मानसिक दुर्गुण है। मन में जब तक इसके लिए रुचि,आकाँक्षा एवं उत्साह पैदा न होगा , जब तक इस हानि को मन हानि ही नहीं मानेगा तब तक सुधार का प्रश्न ही कहाँ पैदा होगा? टाइम टेबल बनाकर कार्यक्रम निर्धारित कर, कितने लोग अपनी दिनचर्या चलाते हैं? फुरसत न मिलने की बहानेबाजी हर कोई करता है पर ध्यानपूर्वक देखा जाय तो उसका बहुत सा समय, आलस, प्रमाद, लापरवाही और मंदगति से काम करने में नष्ट होता है। समय के अपव्यय को रोककर और उसे नियमित दिनचर्या की सुदृढ़ श्रृंखला में आबद्ध कर हम अपने आज के सामान्य जीवन को असामान्य जीवन में बदल सकते हैं। पर यह होगा तभी न जब मन का अवसाद टूटे? जब लक्षहीनता, अनुत्साह एवं अव्यवस्था से पीछा छूटे?
पं श्रीराम शर्मा आचार्य
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#322
*_सिर्फ़ आत्मविश्वास होना चाहिये…!_*

*ज़िन्दगी का क्या है..,*_
*_कहीं से भी शुरू की जा सकती है…!!_*


?GOOD MORNING?
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#323
*"Descending in mind"* and *"Descending from mind"* depends only on our behavior.

*GooD MorninG...?*

raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#324
*Success seems to be connected to action.*
*Successful people keep moving. They make mistakes,*
*But they don't quit.*

*_GooD MorninG...?_*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#325
*You will never change your life.*
*Until you Change something you do daily.*

*GooD MorninG...?*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#326
*Do everything with a Good Heart*
*And expect nothing in return.*
*You will never be disappointed.*

*_GooD MorninG...?_*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#327
*अपने माता पिता का सम्मान करने के 35 तरीके*
1. उनकी उपस्थिति में अपने फोन को दूर रखो.
2. वे क्या कह रहे हैं इस पर ध्यान दो.
3. उनकी राय स्वीकारें.
4. उनकी बातचीत में सम्मिलित हों.
5. उन्हें सम्मान के साथ देखें.
6. हमेशा उनकी प्रशंसा करें.
7. उनको अच्छा समाचार जरूर बताएँ.
8. उनके साथ बुरा समाचार साझा करने से बचें.
9. उनके दोस्तों और प्रियजनों से अच्छी तरह से बोलें.
10. उनके द्वारा किये गए अच्छे काम सदैव याद रखें.
11. वे यदि एक ही कहानी दोहरायें तो भी ऐसे सुनें जैसे पहली बार सुन रहे हो.
12. अतीत की दर्दनाक यादों को मत दोहरायें.
13. उनकी उपस्थिति में कानाफ़ूसी न करें.
14. उनके साथ तमीज़ से बैठें.
15. उनके विचारों को न तो घटिया बताये न ही उनकी आलोचना करें.
16. उनकी बात काटने से बचें.
17. उनकी उम्र का सम्मान करें.
18. उनके आसपास उनके पोते/पोतियों को अनुशासित करने अथवा मारने से बचें.
19. उनकी सलाह और निर्देश स्वीकारें.
20. उनका नेतृत्व स्वीकार करें.
21. उनके साथ ऊँची आवाज़ में बात न करें.
22. उनके आगे अथवा सामने से न चलें.
23. उनसे पहले खाने से बचें.
24. उन्हें घूरें नहीं.
25. उन्हें तब भी गौरवान्वित प्रतीत करायें जब कि वे अपने को इसके लायक न समझें.
26. उनके सामने अपने पैर करके या उनकी ओर अपनी पीठ कर के बैठने से बचें.
27. न तो उनकी बुराई करें और न ही किसी अन्य द्वारा की गई उनकी बुराई का वर्णन करें.
28. उन्हें अपनी प्रार्थनाओं में शामिल करें.
29. उनकी उपस्थिति में ऊबने या अपनी थकान का प्रदर्शन न करें.
30. उनकी गलतियों अथवा अनभिज्ञता पर हँसने से बचें.
31. कहने से पहले उनके काम करें.
32. नियमित रूप से उनके पास जायें.
33. उनके साथ वार्तालाप में अपने शब्दों को ध्यान से चुनें.
34. उन्हें उसी सम्बोधन से सम्मानित करें जो वे पसन्द करते हैं.
35. अपने किसी भी विषय की अपेक्षा उन्हें प्राथमिकता दें...!!!

*माता – पिता इस दुनिया में सबसे बड़ा खज़ाना हैं..!!* यह मेसेज हर घर तक पहुंचने मे मदद करे तो बड़ी कृपा होगी मानव जाति का उद्धार संभव हैं, यदि ऊपर लिखी बातों को जीवन में उतार लिया तो। *सबसे पहले भगवान, गुरु माता पिता ही हैं,* हर धर्म में इस बात का उल्लेख है ...!!!

सभी के माता पिता को नमन...!!!???
????
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#328
नहीं खाई ठोकरें सफर में तो
मंजिल की अहमियत कैसे जानोगे
अगर नही टकराए गलत से तो
सही को कैसे पहचानोगे
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#329
*संसार में प्रत्येक प्राणी सुख की ही तलाश में है। वह चाहे पद- धन-प्रतिष्ठा या कुछ और भी हो सबके मूल में सुख की ही कामना है।*
*दो तरह के लोग ही वास्तव में सुख का अनुभव कर सकते हैं। पहला जो विरक्त है। यहाँ विरक्तता का अर्थ सब कुछ छोड़कर जंगल में चले जाना नहीं है। विरक्तता का अर्थ है किसी से किसी भी प्रकार की अपेक्षा ना रखना।*
*हमें कोई नहीं रुलाता, हमारी चाह हमें रुलाती है। हमें कोई परेशान नहीं करता हम अपनी आसक्ति और इच्छा के कारण परेशान रहते हैं। जिस दिन आसक्ति का त्याग कर दिया, फिर कोई हमें दुःखी नहीं कर सकता। आशा छोड़ कर देखो तो एक बार जिसके कारण आप बार दुःखी हो रहे हो।*

*Զเधॆ Զเधॆ*??
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#330
*The Best Apology Is Changed Behaviour.*

*_GooD MorninG...♥️_*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#331
*Three words to start your day...*
*I have the choice,*
*I have the power,*
*And I have control.*
*Find your Inner strength to live a Positive Life.*

*GooD MorninG...?*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#332
_The One who has_ *ANGER*, _doesn't require an_ *ENEMY.*

_The One who has_ *KNOWLEDGE,* _doesn't require_ *WEALTH.*

_And the One who has_ *KINDNESS*, _doesn't require_ *PROTECTION.*

*_GooD MorninG...?_*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#333
शोर गुल मचाने से नाम
नहीं बनता काम ऐसा
करो की खामोशी भी
अखबारों में छप जाए
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#334
|| जय श्रीमन्नारायण , राम राम , सादर प्रणाम ||
जय श्री राधे कृष्ण?

*"रोग" अपनी "देह" में पैदा होकर भी हानि पहुंचाता है।*
*और "औषधि" वन में पैदा होकर भी हमारा*
*लाभ ही करती है।।*
*"हित" चाहने वाला पराया भी अपना हैं*
*और अहित करने वाला अपना भी पराया है।।*।

*जीवन में मित्र जरूरी है!*
*पर चलने वाले को गिराने वाला नहीं!*
*गिरे हुए को उठाने वाला चाहिए!*

?????
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#335
*जिंदगी का कैल्कुलेशन*
*बहुत बार किया।*
*लेकिन "सुख-दुःख" का*
*एकांउट" कभी समझा ही नहीं!*
*जब टोटल किया तो समझ आया...*
*"कर्मो" के सिवा.....*
*कुछ भी बैलेंस रहता नहीं !*

*?सुप्रभात?*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#336
*उचित समय पर पिए गये*
*कड़वे घूँट*
*सदैव जीवन मीठा*
*कर दिया करते है*

*इंसान वही श्रेष्ठ है जो बुरी*
*स्थिति में फिसले नहीं*
*एवं अच्छी स्थिति में उछले नहीं*

*सुप्रभात*. ?????
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#337
*वक्त और किस्मत पर कभी घमण्ड मत करना क्योकि...*

*सुबह उनकी भी होती है जिनका दिन खराब होता है*

*सुप्रभातम*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#338
*When you have lost sight of your path,*
*Listen for the destination in your heart.*

*G⭕?D*
*〽?➰N❗N G*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#339
*When we give label Good and Bad to any person or situations,*
*It is a reflection of our own mentality & Virtues.*

*GooD MorninG...?*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#340
कर्म के पास तो
ना कागज है ना किताब है
फीर भी सारे
जगत का हिसाब है
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#341
*Life has no rewinds and forwards.*
*It unfolds itself at its own pace.*
*So never miss a chance to live today to make a beautiful story for tomorrow.*

*GooD MorninG...?*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#342
*Walk with the time is not necessary,*
*But always walk with truth.*
*One day automatically time will walk with you.*

*_GooD MorninG...?_*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#343
*A Person Becomes 10 Times Attractive,*
*Not by their Looks but by their Act of Kindness, Love, Respect, Honest and Loyalty they show.*

*GooD MorninG...?*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#344
*You can't reach for anything new if your hands are still full of yesterday junk.*

*_GooD MorninG...♥️_*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#345
*"Happiness and sadness run parallel to each other. When one takes a rest, the other one tends to take up the slack.”*

*GooD MorninG...?*

raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#346
*...संतान को दोष न दें...*?

बालक को *'इंग्लिश मीडियम'* में पढ़ाया... *'अंग्रेजी'* बोलना सिखाया...?

*'बर्थ डे'* और *'मैरिज एनिवर्सरी'*

जैसे जीवन के *'शुभ प्रसंगों'* को *'अंग्रेजी कल्चर'* के अनुसार जीने को ही *'श्रेष्ठ'* मानकर...

माता-पिता को *'मम्मा'* और
*'डैड'* कहना सिखाया...?

?जब *'अंग्रेजी कल्चर'* से परिपूर्ण बालक बड़ा होकर, आपको *'समय'* नहीं देता, आपकी *'भावनाओं'* को नहीं समझता, आप को *'तुच्छ'* मानकर *'जुबान लड़ाता'* है और आप को बच्चों में कोई *'संस्कार'* नजर नहीं आता है, तब घर के वातावरण को *'गमगीन किए बिना'*... या... *'संतान को दोष दिए बिना'*... कहीं *'एकान्त'* में जाकर *'रो लें'*...?

*क्योंकि...*

पुत्र की पहली वर्षगांठ से ही,
*'भारतीय संस्कारों'* के बजाय

*'केक'* कैसे काटा जाता है ? सिखाने वाले आप ही हैं...?

*'हवन कुण्ड में आहुति'* कैसे डाली जाए...

*'मंदिर, मंत्र, पूजा-पाठ, आदर-सत्कार के संस्कार देने के बदले,'...*

केवल *'फर्राटेदार अंग्रेजी'* बोलने को ही, अपनी *'शान'* समझने वाले आप...?

बच्चा जब पहली बार घर से बाहर निकला तो उसे
*'प्रणाम-आशीर्वाद'*

के बदले
*'बाय-बाय'*
कहना सिखाने वाले आप...?

परीक्षा देने जाते समय
*'इष्टदेव/बड़ों के पैर छूने'* के बदले

*'Best of Luck'*

कह कर परीक्षा भवन तक छोड़ने वाले आप...?

बालक के *'सफल'* होने पर, घर में परिवार के साथ बैठ कर *'खुशियाँ'* मनाने के बदले...

*'होटल में पार्टी मनाने'* की *'प्रथा'* को बढ़ावा देने वाले आप...?

बालक के विवाह के पश्चात्...

*'कुल देवता / देव दर्शन'*
को भेजने से पहले...

*'हनीमून'* के लिए *'फाॅरेन/टूरिस्ट स्पॉट'* भेजने की तैयारी करने वाले आप...?

ऐसी ही ढेर सारी *'अंग्रेजी कल्चर्स'* को हमने जाने-अनजाने *'स्वीकार'* कर लिया है...?

अब तो बड़े-बुजुर्गों और श्रेष्ठों के *'पैर छूने'* में भी *'शर्म'* आती है...?

गलती किसकी...??
मात्र आपकी *'(माँ-बाप की)'*...?

अंग्रेजी International *'भाषा'* है...

इसे *'सीखना'* है...

इसकी *'संस्कृति'* को,
*'जीवन में उतारना'* नहीं है...?

*मानो तो ठीक...नहीं तो भगवान ने जिंदगी दी है......चल रही है, चलती रहेगी।*

*सोच कर अपने और अपने परिवार, समाज, संस्कृति और देश को बचाने का प्रयास करें, बाकी आपकी ईच्छा।*
*??*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#347
रिश्तों को निभाना उन्हीं के लिए मुश्किल
होता है जो रिश्ता निभाना चाहते है
जिन्हें रिश्तों की परवाह ही न हो
उनके लिए क्या मुश्किल क्या आसान
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#348
*आज का सुविचार*
*भावुक लोग सम्बन्ध को*
*सम्भालते है*
*प्रेक्टिकल लोग सम्बन्ध का*
*फायदा उठाते हैं*
*और प्रोफेशनल लोग*
*फायदा देखकर ही सम्बन्ध*
*बनाते हैं*

raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#349
*एक फ़कीर नदी के किनारे बैठा था, किसी ने पूछा बाबा क्या कर रहे हो?*
*फ़कीर ने कहा इंतजार कर रहा हूं की पूरी नदी बह जाएं तो फिर पार करूं,*
*उस व्यक्ति ने कहा कैसी बात करते हो बाबा पूरा जल बहने के इंतजार में तो तुम कभी नदी पार ही नहीं कर पाओगे.*

*फ़कीर ने कहा यही तो मै तुम लोगो को समझाना चाहता हूं, कि तुम लोग जो सदा ये कहते रहते हो कि एक बार जीवन की जिम्मेदारियां पूरी हो जाये तो*
*मौज करूं, घूमूं फिरूं, सबसे मिलूं, सेवा करूं.*
*जैसे नदी का जल कभी खत्म नहीं होगा,*
*हमें ही जल से पार जाने का रास्ता बनाना है,*
*इसी प्रकार जीवन ख़तम हो जायेगा पर जीवन के काम कभी ख़तम नहीं होंगे.*

*तो 2021 से जिंदगी मज़े में जीना शुरू कर दो क्योंकि जिंदगी का महत्व 2020 ने हमें दिखा ही दिया है.*??‍♂️??
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#350
? *श्रीकृष्णाः शरणं मम*?

*कामयाबी के दरवाजे उन्हीं के लिए खुलते हैं जो उन्हें खटखटाने की ताकत रखते हैं..!!*
*संस्कारों से बड़ी कोई*
*वसीयत नहीं....*
*और*
*ईमानदारी से बड़ी कोई*
*विरासत नहीं...!!!*

*༺꧁ जय श्री कृष्णा꧂༻*

?
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#351
? #चुभन....!* ?

*पुरानी साड़ियों के बदले बर्तनों के लिए मोल भाव करती एक सम्पन्न घर की महिला ने अंततः दो साड़ियों के बदले एक टब पसंद किया . "नहीं दीदी ! बदले में तीन साड़ियों से कम तो नही लूँगा ." बर्तन वाले ने टब को वापस अपने हाथ में लेते हुए कहा .*

*अरे भैया ! एक एक बार की पहनी हुई तो हैं.. ! बिल्कुल नये जैसी . एक टब के बदले में तो ये दो भी ज्यादा हैं , मैं तो फिर भी दे रही हूँ . नहीं नहीं , तीन से कम में तो नहीं हो पायेगा ." वह फिर बोला .*

*एक दूसरे को अपनी पसंद के सौदे पर मनाने की इस प्रक्रिया के दौरान गृह स्वामिनी को घर के खुले दरवाजे पर देखकर सहसा गली से गुजरती अर्द्ध विक्षिप्त महिला ने वहाँ आकर खाना माँगा...*

*आदतन हिकारत से उठी महिला की नजरें उस महिला के कपडों पर गयी.... अलग अलग कतरनों को गाँठ बाँध कर बनायी गयी उसकी साड़ी उसके युवा शरीर को ढँकने का असफल प्रयास कर रही थी....*

*एकबारगी उस महिला ने मुँह बिचकाया . पर सुबह सुबह का याचक है सोचकर अंदर से रात की बची रोटियाँ मँगवायी . उसे रोटी देकर पलटते हुए उसने बर्तन वाले से कहा -*

*तो भैय्या ! क्या सोचा ? दो साड़ियों में दे रहे हो या मैं वापस रख लूँ ! "बर्तन वाले ने उसे इस बार चुपचाप टब पकड़ाया और दोनों पुरानी साड़ियाँ अपने गठ्ठर में बाँध कर बाहर निकला...*

*अपनी जीत पर मुस्कुराती हुई महिला दरवाजा बंद करने को उठी तो सामने नजर गयी... गली के मुहाने पर बर्तन वाला अपना गठ्ठर खोलकर उसकी दी हुई दोनों साड़ियों में से एक साड़ी उस अर्ध विक्षिप्त महिला को तन ढँकने के लिए दे रहा था ! !!*

*हाथ में पकड़ा हुआ टब अब उसे चुभता हुआ सा महसूस हो रहा था....! बर्तन वाले के आगे अब वो खुद को हीन महसूस कर रही थी . कुछ हैसियत न होने के बावजूद बर्तन वाले ने उसे परास्त कर दिया था ! !! वह अब अच्छी तरह समझ चुकी थी कि बिना झिकझिक किये उसने मात्र दो ही साड़ियों में टब क्यों दे दिया था .*

*कुछ देने के लिए आदमी की हैसियत नहीं , दिल बड़ा होना चाहिए....!! आपके पास क्या है ? और कितना है ? यह कोई मायने नहीं रखता ! आपकी सोच व नियत सर्वोपरि होना आवश्यक है .*

*और ये वही समझता है जो इन परिस्थितियों से गुजरा हो.....! !!*

??
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#352
? *बहुत* *सुन्दर* *बात* ?
*दर्द* *कितना* *खुशनसीब* *है* *जिसे*
*पा* *कर* *लोग* *अपनों* *को* *याद*
*करते* *है*, *दौलत* *कितनी*
*बदनसीब* *है* *जिसे* *पा* *कर* *लोग*
*अक्सर* *अपनों* *को* *भूल* *जाते* *है*...

?? *good morning* ??
good morning ?????
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#353
*"जरूर कोई तो लिखता होगा...*
*कागज और पत्थर का भी नसीब...*

*वरना ये मुमकिन नहीं की...*
*कोई पत्थर ठोकर खाये और कोई पत्थर भगवान बन जाये...*

*और...*

*कोई कागज रद्दी और कोई कागज गीता बन जाये"...!*

? *सुप्रभात* ?
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#354
*पाने को कुछ नहीं,*
*ले जाने को कुछ नहीं;*
*उड़ जाएंगे एक दिन...*
*तस्वीर से रंगों की तरह!*
*हम वक्त की टहनी पर...*
*बैठे हैं परिंदों की तरह !!*
*ना राज़ है... “ज़िन्दगी”*
*ना नाराज़ है... “ज़िन्दगी";*
*बस जो है, वो आज है... “ज़िन्दगी”*

*???*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#355
*((एक बोध कथा ))* *((((एक भगवान ही हर जीव के साथ होते है))))* *एक बार एक राजा एक गांव से दूसरे गांव जा रहा था ।* *रास्ते में उसने देखा-* *एक छोटा बालक मिट्टी में खेल रहा है ।* *उसको देखकर राजा आश्चर्यचकित रह गया-* *'कैसी सौम्यता कैसा स्मित कैसी पवित्रता झलक रही है। चेहरे पर अपूर्व शांति दिख रही है ।'*

*घोड़े पर से नीचे उतर कर वह बालक के पास गया और कहां-* *"अरे बेटा!* *तुम माटी में खेल रहे हो ?* *बालक ने कहाँ-* *माटी का पुतला माटी के साथ नहीं खेलेगा तो और किसके साथ खेलेगा ?*

*एक छोटे से बालक का यह जवाब सुनकर राजा दंग रह गया ।* *वह सोच में पड़ गया कि क्या एक बालक का जवाब ऐसा हो सकता है?* *राजा उसकी बुद्धि के सामने नतमस्तक हो गया।*

*राजा ने कहाँ-" बेटा !* *तू मुझे बहुत प्यारा लगता है ,तु मुझे बहुत दुलारा लगता है ।* *इसलिए तू मेरे साथ मेरे महल में चल ।"*
*राजा को ध्यान से देखकर बालक ने पूछा-* *"आप कौन हो?"*

*राजा ने कहाँ-* *"मैं राजा हूँ।"*
*लड़का-* *"आप राजा हो और मुझे महल में ले जाना चाहते हो?"*
*राजा-* *" हां बेटा !"*
*लड़का-* *"मैं महल में जरूर आऊंगा, लेकिन मेरी दो शर्ते है।* *पहले शर्त यह कि आप लगातार मेरे साथ रहोगे और दूसरे जब मैं सो जाऊँ, तब आप जागते रहोगे ।* *अगर आपको यह दो शर्त मंजूर हो तो मैं आपके साथ चलने को तैयार हूँ ।"*

*राजा बोल उठा-"* *मुझे माफ करना! मेरे लिए यह दोनों बातें संभव नहीं है ।* *ना तो मैं तुम्हारे साथ लगातार रह सकता हूं और ना ही तुम सो जाओ तब मैं जाग सकता हूं।"*

*राजा का जवाब सुनकर लड़का बोल उठा -* *"तो फिर मैं भी राज महल नहीं आ सकता ।*
*क्योंकि मेरे भगवान तो लगातार मेरे साथ ही रहते हैं और जब मैं सो जाता हूँ तब मेरे भगवान जागते रहते हैं ।अतः* *भगवान को छोड़कर आपके साथ आने की मूर्खता मैं कभी नहीं करूंगा ।"*

*राजा स्तब्ध रह गया, तुरन्त ही भगवान के चरणों में गया और फूट-फूट कर रोने लगा- हे भगवान!* *मुझे जीवन में चाहे कुछ दे ना दे,* *बस इस छोटे से बालक जैसे श्रद्धा* *आस्था ,पवित्रता और निष्कपटता का जीवन देना..* *मुझे और कुछ दे ना दे,हे प्रभु ! बस तेरा जीवन भर का साथ देना ..* *आज मुझे समझ आ गया है कि बाकी सब तो कभी ना कभी साथ छोड़ते ही है, लेकिन सिर्फ और सिर्फ भगवान है जो कभी अपना हाथ नहीं छोड़ते है कभी अपना साथ नहीं छोड़ते है...*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#356
????Bahut hi sundar kavita ????

*कंद-मूल खाने वालों से*
मांसाहारी डरते थे।।

*पोरस जैसे शूर-वीर को*
नमन 'सिकंदर' करते थे॥

*चौदह वर्षों तक खूंखारी*
वन में जिसका धाम था।।

*मन-मन्दिर में बसने वाला*
शाकाहारी *राम* था।।

*चाहते तो खा सकते थे वो*
मांस पशु के ढेरो में।।

लेकिन उनको प्यार मिला
' *शबरी' के जूठे बेरो में*॥

*चक्र सुदर्शन धारी थे*
*गोवर्धन पर भारी थे*॥

*मुरली से वश करने वाले*
*गिरधर' शाकाहारी थे*॥

*पर-सेवा, पर-प्रेम का परचम*
चोटी पर फहराया था।।

*निर्धन की कुटिया में जाकर*
जिसने मान बढाया था॥

*सपने जिसने देखे थे*
मानवता के विस्तार के।।

*नानक जैसे महा-संत थे*
वाचक शाकाहार के॥

*उठो जरा तुम पढ़ कर देखो*
गौरवमय इतिहास को।।

*आदम से आदी तक फैले*
इस नीले आकाश को॥

*दया की आँखे खोल देख लो*
पशु के करुण क्रंदन को।।

*इंसानों का जिस्म बना है*
शाकाहारी भोजन को॥

*अंग लाश के खा जाए*
क्या फ़िर भी वो इंसान है?

*पेट तुम्हारा मुर्दाघर है*
या कोई कब्रिस्तान है?

*आँखे कितना रोती हैं जब*
उंगली अपनी जलती है

*सोचो उस तड़पन की हद*
जब जिस्म पे आरी चलती है॥

*बेबसता तुम पशु की देखो*
बचने के आसार नही।।

*जीते जी तन काटा जाए*,
उस पीडा का पार नही॥

*खाने से पहले बिरयानी*,
चीख जीव की सुन लेते।।

*करुणा के वश होकर तुम भी*
गिरी गिरनार को चुन लेते॥

*शाकाहारी बनो*...!


ज्ञात हो इस कविता का जब TV पर प्रसारण हुआ था तब हज़ारो लोगो ने मांसाहार त्याग कर *शाकाहार* का आजीवन व्रत लिया था।

????????

*कृपया ये msg मानवता को* जीवित रखने के लिए सभी को भेजें।
*...*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#357
*सभी इंसान है, लेकिन फर्क सिर्फ इतना है।*
कुछ जख्म देते है,
कुछ जख्म भरते हैं।
*हमसफर यहां सभी है, फर्क सिर्फ इतना है*
कुछ साथ चलते हैं
कुछ साथ छोड़ जाते हैं
*प्यार सभी करते हैं, फर्क सिर्फ इतना है*
कुछ जान देते हैं
कुछ जान लेते हैं
*रिश्ते यहां सभी बनाते हैं,मगर फर्क सिर्फ इतना है*
कुछ रिश्ते निभाते हैं
कुछ इसे आजमाते हैं
Radhe Radhe ji
?????
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#358
Don’t be so
Quick to believe
What you hear ?
Because lies
Spread faster
Than the truth.

*Good Morning*...
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#359
Remember not only to say the Right thing in the Right place,
Also to leave the wrong thing, at the *Most Tempting Moment...*

*_GooD MorninG...?_*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#360
*You have to fight through some Bad days to earn the Best days of your Life.*

*_GooD MorninG...?_*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#361
*It takes the same energy to worry as it does to be positive. Use your energy to think positive and positive things will happen.*

*GooD MorninG...?*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#362
*शब्द यात्रा करते हैं...इसलिए पीठ पीछे भी, किसी की निंदा न करें।।*
*अपनी कीमत उतनी ही रखिये जो आसानी से अदा हो सके।*
*अनमोल हो जाओगे तो तन्हा हो जाओगे... कोहिनूर इसका सबसे बेहतरीन उदाहरण है...*

? *सुप्रभात* ?
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#363
आप चाहकर भी लोगों की अपने प्रति
लोगों की धारणा नही बदल सकते,
इसलिए सूकून से अपनी जिन्दगी जिए और खुश रहें।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#364
जिस किसी भी इंसान की संगती से
आपके विचार शुद्ध होने लगें...
तो समझ लेना
वो कोई साधारण व्यक्ति नही हैं।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#365
आज से हम भी बदलेगे,
जिन्दगी मेें राबता सबसे होगा,
वास्ता किसी से नही..!!!
??┄┅══❁♥❁════┅??
अकेले ही गुज़रती है ज़िन्दगी…
लोग तसल्लियां तो देते हैं ,
पर साथ नहीं…!!
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#366
दिखावा मत कर शहर में शरीफ होने का
लोग खामोश तो है लेकिन नासमझ नही।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#367
मनुष्य यदि जिह्वा पर लगाम लगा के देखे, तो सारा क्लेश खत्म हो जायेगा।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#368
मनुष्य यदि जिह्वा पर लगाम लगा के देखे, तो सारा क्लेश खत्म हो जायेगा।जिंदगी में एक दूसरे के जैसा होना आवश्यक नहीं है
बल्कि एक दूसरे के लिए होना आवश्यक है।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#369
व्यक्ति को अकेले में अपने विचारों को संभालना चाहिए।
और जब लोगों के बीच में हों तब अपने शब्दों को संभालना चाहिए॥
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#370
मनुष्य को कुछ हंसकर और कुछ बोलकर टाल देना चाहिए।
जीवन में परेशानियां बहुत हैं कुछ वक्त पर डाल देना चाहिए।।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#371
सागर को घमंड था की मैं, सारी दुनिया को डुबा सकता हूँ।
इतने में तेल की एक बूद आयी, और तैर कर निकल गयी।।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#372
यदि आप किसी मकसद के लिए खड़े हो, तो बृक्ष की तरह रहो।
और गिरो तो बीज की तरह, क्योकि पुनः उगकर उस मकसद को पूरा कर सको।।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#373
माली पौधों में पानी प्रतिदिन देता है, लेकिन फल सिर्फ मौसम में ही आता है।
इसीलिये जीवन में धॆर्य रखें, हर काम अपने समय पर ही होगा॥
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#374
“व्यक्ति” क्या है? ये महत्वपूर्ण नहीं है, लेकिन
“व्यक्ति में” क्या है ? ये बहुत ही महत्वपूर्ण है।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#375
जिन्दगी जब भी रुलाने लगे,
आप इतने _मुस्कुराओ_ की दर्द भी शरमाने लगे,
निकले ना आंसू कभी आपकी आँखों से,
और किस्मत भी मजबूर होकर आपको _हंसाने_ लगे !!
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#376
दुःख भोगने से
सुख के मूल्य का ज्ञान होता है।
जब तक किसी काम को किया नहीं जाता,
तब तक वह संभव लगता है।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#377
??┄┅══❁♥❁════┅??
श्री कृष्ण कहते हैं "
जीवन तब तक हैं,
जब तक कर्म करेंगे,
इसलिए
कष्ट को भूलकर संघर्ष करते रहेंगे...!!
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#378
पीठ पीछे जो बोलते हैं उन्हें पीछे ही रहने दे
अगर हमारे कर्म, भावना और रास्ता सही है
तो गैर से भी,
लगाव मिलता रहेगा ।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#379
कुंए में उतरने वाली बाल्टी यदि झुकती है;
तो भरकर बाहर आती है;
जीवन का भी यही गणित है;
जो झुकता है वह प्राप्त करता है।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#380
??┄┅══❁♥❁════┅??
अच्छे और बुरे की पहचान कराती है जिन्दगी,
एक पल हंसाकर दुसरे पल रुलाती है जिन्दगी,
छोडो शिकवे गिले और हंसकर गुजार लो,
वर्ना चाहतें दिल में रह जाती है और
सबकुछ छोड़कर चली जाती है जिन्दगी !!
??┄┅══❁♥❁════┅??
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#381
केवल पैसों से आदमी धनवान नहीं होता,
असली धनवान वो है
जिसके पास, अच्छी सोच,
अच्छे दोस्त और अच्छे विचार हैं..!!!
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#382
कड़वी किन्तु सच्ची बात
जीवन में कभी भी मुसीबत आए
तो किसी से मदद मत मांगना क्योकि
मुसीबत थोड़ी देर की होती है और
अहसान जिंदगी भर का रह जाता हैं।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#383
आप जिस पर आँख बंद करके भरोसा करते है,
अक्सर वही आप की आँखे खोल जाता है।
सच्ची बात
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#384
??┄┅══❁♥❁════┅??
जरुरी नहीं की सजदे हो हर वक्त,
और उसमे खुदा का नाम आये,
जिन्दगी तो खुद ही एक इबादत है..!!
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#385
बहुत सा पानी ..
बहुत सा पानी छुपाया है
मैंने अपनी पलकों में.....
जिंदगी लम्बी बहुत है
क्या पता कब प्यास लग जाए....!!!
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#386
“अच्छे” और “सच्चे” रिश्ते न तो “खरीदे” जा सकते हैं, . न ही “उधार” लिऐ जा सकते हैं इसलिए उन लोगों को जरूर “महत्व” दें जो “आपको” महत्व देते हैं..!!
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#387
क्या खूब कहा है एक पिता ने , हमें तो सुख में साथी चाहिये दुःख में तो मेरी बेटी ही काफी है ।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#388
यदि आपको जिंदगी में बहुत ज्यादा सफल होना है तो आपको बहुत ज्यादा ध्यान के साथ मेहनत करने की जरुरत है।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#389
बेहतर यही होगा कि आप कोशिश करें शायद इसमे आप नाकामयाब हो जाएं और उससे कुछ सीखें बजाये इसके की आप कुछ करें ही नहीं।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#390
मन में जो है साफ़ – साफ़ कह देना चाहिए क्योकि सच बोलने से फैसले होते है और झूठ बोलने से फासले . . ! !
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#391
अगर आपको यह लगता है कि आप बिल्कुल अकेले हैं, तो सबसे पहले आकाश की तरफ देखें, पूरा ब्राहाण्ड आपका साथ देने के लिए तैयार है, मगर इसके लिए आपको जरूरत है तो सिर्फ मेहनत करने की –
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#392
दर्द और खुशी दोनों ही अच्छे शिक्षक हैं, क्योंकि दोनो ही हमें अपने स्थितियों में कुछ न कुछ सिखाते जरूर हैं
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#393
क्या खूब कहा है किसी ने महल के नौकर बनने से अच्छा है अपनी झोपड़ी के मालिक बन कर खुश रहो ।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#394
हर किसी के लिये ” Available ” मत रहो , क्योंकि जो चीज आसानी से उपलब्ध रहती है उसकी कोई कद्र नहीं करता
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#395
बड़ा सोचो, जल्दी सोचो, सबसे आगे सोचो, विचारों पर किसी का भी एकाधिकार नहीं है। –
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#396
हर इंसान को परछाई और आईने की तरह ही दोस्त बनाने चाहिए, क्योंकि परछाई कभी साथ नहीं छोड़ती और आईना कभी भी झूठ नहीं बोलता।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#397
सच्चा चाहने वाला आपसे अच्छी बुरी हर तरह की बात करेगा परन्तु धोखा देने वाला सिर्फ प्यार भरी बात करेगा ।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#398
में खुद से कभी हारा नहीं , फिर दूसरों में क्या औकात जो मुझे हरा सके ।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#399
इंसान की इच्छाएं समुद्र की तरह ही असीमित और अनंत हैं, अगर एक इच्छा पूरी होती है तो, यह समुद्र में कोलाहल की तरह ही अनंत इच्छाएं जागृत करती है।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#400
छोटी चीजों में बारे हमेशा वफादार रहिये क्योंकि इन्ही में आपकी शक्ति निहित होती है। – मदर टेरेसा
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#401
मौन किसी इंसान की कमज़ोरी नहीं, उसका बडप्पन होता है ।

वरना जिसको सहना आता है, उसको कहना भी आता है ।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#402
आज की कड़वी सच्चाई यही हैं की
लोग पैसे वाले लोगों को महत्व देते हैं,

चाहे सामने वाले व्यक्ति का चरित्र,
इरादा और आदतें कैसी भी क्यों ना हो..!
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#403
कलम तभी साफ और अच्छा लिख पाती है जब..

वो थोड़ा झुक कर चलती है, वही हाल “जिंदगी” में इंसान का है..!!
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#404
हमारा विश्वास
पहाड़ को भी खिसका सकता है

लेकिन

हमारा शक
पहाड़ खड़ा कर सकता है।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#405
“होशियार” होना अच्छी बात है

पर दुसरो को “मूर्ख” समझना..

…बेवकूफी है!
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#406
दरवाज़े पर “ताला” इसीलिए लगाया
जाता हैं, जिससे ईमानदार व्यक्ति
का ईमान ना डगमगाए…

वरना चोर के लिए “ताला” तोड़ना कौन
सी बड़ी बात हैं..!!!
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#407
“सुबह की नींद इंसान के इरादों को कमजोर बनाती है, मंजिल को हासिल करने वाले कभी देर तक सोया नही करते।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#408
“समस्याएं उतनी ताक़तवर नहीं होती जितना हम उन्हें मान लेते हैं…कभी सुना है कि अँधेरे ने सुबह नहीं होने दी।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#409
“जिंदगी इतनी मुश्किल इसलिए है क्योंकि लोग आसानी से मिली चीज की कीमत नहीं जानते।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#410
“जिस तरह से एक नदी अपने बहाव से नवीन दिशाओं में भी अपनी राह बना लेती है, उसी तरह एक इंसान को भी मेहनत के बल पर नए क्षेत्र में भी अपनी पहचान बनाने की कोशिश करनी चाहिए।” – रवींद्रनाथ टैगोर
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#411
“यदि आप कोशिश करते हो और कुछ भी हासिल नहीं होता तो उसमें आपकी कोई गलती नहीं है। लेकिन यदि आप ज़रा भी कोशिश नहीं करते और हार जाते हैं तो इसमें पूरी आप की ही गलती है।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#412
“एक मिनट लगता है रिश्तों का मज़ाक उड़ाने में, लेकिन हम भूल जाते है जिंदगी रिश्तों से ही सजती और सँवरती है।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#413
मनुष्य को अपने लक्ष्य में
कामयाब होने के लिए
खुद पर विश्वास होना
बहुत जरूरी है!
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#414
? जय श्री राधेकृष्णा ?

"शब्द मुफ़्त में मिलते हैं लेकिन उनके चयन पर निर्भर करता है कि उनकी क़ीमत मिलेगी या चुकानी पड़ेगी...!!!"

सुप्रभात...

??आपका दिन शुभ हो...??
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#415
???????

*जहां प्रेम होता हैं*
*वही सागर बहता है*

*प्रभू भी वहीं बसते हैं और ...*
*वहां रिश्ते भी अपने आप ही बन जाते हैं*

*ये प्रेम ही तो है जो..*
*हम आपको रोज याद करते हैं*

*क्योंकि........*
*मनुष्य के जीवन में*
*प्रेम ईश्वरीय देन है*
*अतः, प्रेम से बढ़कर कुछ भी नहीं*



*??सुप्रभात??*
??जय श्री महाँकाल???
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#416
???????????
*"प्रशंसा" से "पिंघलना" मत,...*
*"आलोचना" से "उबलना" मत,....*
*निस्वार्थ भाव से कर्म करिए,..*
*क्योंकि....??*
*इस "धरा" का, इस "धरा" पर, सब "धरा" रह जाऐगा।*
*????सुप्रभात????*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#417
*जरुरत से ज्यादा मिले*
*उसको कहते हैं......"*
*नसीब".....*
????????
*सबकुछ हैं फिर भी रोता है*
*उसको कहते हे...*
*"बदनसीब"*
????????
*और जिंदगी में थोडा कम*
*पाकर भी हमेशा खुश*
*रहता है...उसको कहते है...*
*"खुशनसीब"*......
????????
?? *सुप्रभात* ??
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#418
???????

*प्रेम से ज़्यादा शुद्ध और कुछ नहीं हैं*
*जब प्रेम होता हैं तो परवाह होता हैं*

*कभी भी उसको अनजाने*
*में भी चोट ना पहुँचाने का*
*प्रयत्न होता हैं*

*प्रेम निस्वार्थ हैं वो*
*प्रेम के बदले प्रेम भी नहीं माँगता*
*ऐसा प्रेम ही सत्य हैं*


*??सुप्रभात??*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#419
*क्रोध में...*
*उत्तर मत दीजिए,*
और
*दुःख में...*
*निर्णय मत लीजिए।*

*विवेकशील बनें*

*?जय श्री राम?*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#420
?जीवन में धैर्य रखें प्रत्येक चीज अपने समय पर होगी
?हमें प्रतिदिन बेहतर काम करते रहना चाहिये , समय पर फल जरुर मिलता है ?नेक लोगों की संगत से हमेशा भलाई ही मिलती हे,
?दर्द एक संकेत है कि हम जिंदा है
?समस्या एक संकेत है कि हम मजबूत है
?दोस्त और परिवार एक संकेत है कि हम अकेले नहीं है
?छोटीसी जिन्दगी है,हर बात में खुश रहो
?जो चेहरा पास ना हो उसकी आवाज में खुश रहो,
?कोई रूठा हो आप से उसके अंदाज में खुश रहो,
?जो लौट के नही आने वाले उनकी याद में खुश रहो,
?कल किसने देखा अपने आज में खुश रहो
?सुप्रभात, ज़रा मुस्कुराइये , आपका दिन शुभ हो
?सबका साथ ही परिवार की पहचान है
अपना ध्यान रखे , सबका ख़्याल रखे
?प्रभु की कृपा हम सब पर हमेसा बनी रहे
??
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#421
आपसे लोगों की अपेक्षाओं का कोई अंत नहीं है,

जहां आप चूके, वहीं लोग बुराई निकाल लेते हैं,

और पिछली सारी अच्छाइयों को भूल जाते हैं ।


इसलिए अपने कर्म करते चलो,
लोग आपसे कभी भी संतुष्ट नहीं हो पाएंगे।

━━━━✧❂✧━━━━
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#422
???????

*उन व्यक्तियों के जीवन में,*
*"आनंद और शांति ",*
*कई गुणा बढ़ जाती हैं...!*


*जिन्होंने "प्रशंसा और निंदा" में,*
*एक जैसा रहना सीख लिया हो...!!*?❤️



*??सुप्रभात??*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#423
*श्याम भक्ति का नशा सारी उम्र न उतरे,*
*श्याम की भक्ति में सारी जिन्दगी गुजरे।*
*दीवाने दिल की तड़प कुछ तो काम आये,*
*मेरे लब जब भी खुले सिर्फ श्याम का नाम आये*

*?ॐ श्री श्याम देवाय नमः ?*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#424
*"दर्द" एक संकेत है कि तुम "जिंदा" हो*
*"समस्या" एक संकेत है कि तुम मजबूत हो*
*"प्रार्थना" एक संकेत है कि तुम अकेले नहीं हो*।

???? *सुप्रभात*????
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#425
??

*सिर्फ एक गलती की देर है*
*फिर लोग भूल जाएंगे की*

*आप पहले कितने अच्छे थे।*

??
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#426
?????

शरीर से
महत्वपूर्ण
इंद्रियां.......हैं।
इंद्रियों से महत्वपूर्ण
मन है..मन से महत्वपूर्ण
बुद्धि है।बुद्धि से
महत्वपूर्ण
विवेक
है।


विवेक से महत्वपूर्ण भाव है।
भाव से महत्वपूर्ण आत्मा है।

?..........?️.........✍??
*आप से प्रेम बांटने को उत्सुक,*
*आप के ह्रदय के समीप,*
*आपका मित्र* ☀️?


*??सुप्रभात??*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#427
*किस हद तक जाना है*
*कौन जानता है,*
*किस मंज़िल को पाना है*
*कौन जानता है,*
*अपनो के साथ दो पल, जी भर के जी लो यारों,*
*कब बिछड़ जाना है*
*कौन जानता है।*

*?जय श्री श्याम??*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#428
*संगत का प्रभाव*
एक राजा का तोता मर गया। उन्होंने कहा-- मंत्रीप्रवर! हमारा पिंजरा सूना हो गया। इसमें पालने के लिए एक तोता लाओ।
.
तोते सदैव तो मिलते नहीं। राजा पीछे पड़ गये तो मंत्री एक संत के पास गये और कहा-- भगवन्! राजा साहब एक तोता लाने की जिद कर रहे हैं। आप अपना तोता दे दें तो बड़ी कृपा होगी। संत ने कहा- ठीक है, ले जाओ।

.
राजा ने सोने के पिंजरे में बड़े स्नेह से तोते की सुख-सुविधा का प्रबन्ध किया।
.
ब्रह्ममुहूर्त में तोता बोलने लगा-- जय श्री राम ,,, ओम् तत्सत्....ओम् तत्सत् ... उठो राजा! उठो महारानी! दुर्लभ मानव-तन मिला है। यह सोने के लिए नहीं, भजन करने के लिए मिला है।
.
'चित्रकूट के घाट पर भई संतन की भीर। तुलसीदास चंदन घिसै तिलक देत रघुबीर।।'
.
कभी रामायण की चौपाई तो कभी गीता के श्लोक उसके मुँह से निकलते। पूरा राजपरिवार बड़े सवेरे उठकर उसकी बातें सुना करता था। राजा कहते थे कि सुग्गा क्या मिला, एक संत मिल गये।
.
हर जीव की एक निश्चित आयु होती है। एक दिन वह सुग्गा मर गया। राजा, रानी, राजपरिवार और पूरे राष्ट्र ने हफ़्तों शोक मनाया। झण्डा झुका दिया गया।
.
किसी प्रकार राजपरिवार ने शोक संवरण किया और राजकाज में लग गये। पुनः राजा साहब ने कहा-- मंत्रीवर ! खाली पिंजरा सूना-सूना लगता है, एक तोते की व्यवस्था हो जाती!
मंत्री ने इधर-उधर देखा, एक कसाई के यहाँ वैसा ही तोता एक पिंजरे में टँगा था। मंत्री ने कहा कि इसे राजा साहब चाहते हैं।
.
कसाई ने कहा कि आपके राज्य में ही तो हम रहते हैं। हम नहीं देंगे तब भी आप उठा ही ले जायेंगे।
.
मंत्री ने कहा-- नहीं, हम तो प्रार्थना करेंगे।
.
कसाई ने बताया कि किसी बहेलिये ने एक वृक्ष से दो सुग्गे पकड़े थे। एक को उसने महात्माजी को दे दिया था और दूसरा मैंने खरीद लिया था। राजा को चाहिये तो आप ले जायँ।
.
अब कसाईवाला तोता राजा के पिंजरे में पहुँच गया।
.
राजपरिवार बहुत प्रसन्न हुआ। सबको लगा कि वही तोता जीवित होकर चला आया है।
.
दोनों की नासिका, पंख, आकार, चितवन सब एक जैसे थे। लेकिन बड़े सवेरे तोता उसी प्रकार राजा को बुलाने लगा जैसे वह कसाई अपने नौकरों को उठाता था कि..
.
उठ ! हरामी के बच्चे! राजा बन बैठा है। मेरे लिए ला अण्डे, नहीं तो पड़ेंगे डण्डे!
.
राजा को इतना क्रोध आया कि उसने तोते को पिंजरे से निकाला और गर्दन मरोड़कर किले से बाहर फेंक दिया।
.
दोनों सुग्गे, सगे भाई थे। एक की गर्दन मरोड़ दी गयी, तो दूसरे के लिए झण्डे झुक गये, भण्डारा किया गया, शोक मनाया गया।
.
आखिर भूल कहाँ हो गयी ? अन्तर था तो संगति का ! सत्संग की कमी थी।
तो जैसा संग वैसा रंग

भावार्थ:-
परमात्मा ने भाग्य की कलम हमारे हाथ में दी है जैसे भी लिखना चाहो। अच्छी संगत का असर इंसान के स्वभाव और मन पर पड़ता है।
जैसा कर्म करेगा वैसा फल देगा भगवान् यह है गीता का ज्ञान।

_*खुश रहिए और मुस्कुराइए।*
*जो प्राप्त है-पर्याप्त है*
*जिसका मन मस्त है*
*उसके पास समस्त है!!*_
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#429
*कौन कहता है कि बड़ी गाड़ियों में ही सफर अच्छा होता है,*
*सच्चे रिश्ते और अच्छे मित्र साथ हो तो*
*जिंदगी पैदल भी मजेदार होती है।*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#430
*परिंदे शुक्रगुजार हैं,*
*पतझड़ के भी दोस्तो....*
*तिनके कहां से लाते,*
*अगर हमेशा बहार रहती।*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#431
???????

*सिर्फ बंधन को*
*विश्वास नहीं कहते,....*

*हर आँसू को जज्बात*
*नहीं कहते ।......*

*किस्मत से मिलते है*
*रिश्ते जिंदगी में,......*

*इसलिए रिश्तों को कभी*
*इत्तेफ़ाक़ नहीं कहते ......*


*??सुप्रभात??*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#432
???????

*???: एक खूबसूरत सोच :➖*


*✍?जन्म से ना तो कोई दोस्त पैदा होता है*
*और ना ही दुश्मन, वह तो हमारे घमंड,*
*ताकत या व्यवहार से बनते है।*

*ज़िंदगी को अगर खुल कर जीना है*
*तो थोडा सा झुक कर जियो,*
*तब देखो फिर,*
*ये ईश्वर आपको कितना ऊँचा उठा देंगा....*

*❣दिल से लिखी बातें*
*दिल को छू जाती हैं*

*कुछ लोग मिलकर बदल जाते हैं*
*और*
*कुछ लोगों से मिलकर*
*जिन्दगी बदल जाती है।*


*??सुप्रभात??*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#433
*तालाब सदा कुँऐ से*
*सैंकड़ों गुना बड़ा होता*
*है फिर भी लोग कुँऐ का*
*ही पानी पीते हैं.,*
*क्योंकि कुँऐ में गहराई*
*और शुद्धता होती है…!*
*मनुष्य का बड़ा होना*
*अच्छी बात है., लेकिन*
*उसके व्यक्तित्व में*
*गहराई और विचारों में*
*शुद्धता भी होनी चाहिए*
*तभी वह महान बनता है…!!*

*??जय श्री कृष्णा??*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#434
?????

*जीवन में उन सपनों का...*
*कोई भी महत्व नहीं,*

*जिनको पूरा करने के लिए...*
*अपनों से ही छल करना पड़े।*


*??सुप्रभात??*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#435
*जीवन में उन सपनों का...*
*कोई भी महत्व नहीं,*

*जिनको पूरा करने के लिए...*
*अपनों से ही छल करना पड़े।*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#436
*दूसरों की गलतियों से*
*सीखने में ही बुद्धिमानी है,*
*जिंदगी इतनी बड़ी नही होती*
*कि सारी गलतियां खुद करके सीखें।*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#437

*भरोसा सब पर किजिए, लेकिन सावधानी के साथ, क्योकि कभी कभी खुद के दांत भी जीभ को काट लेते है ।*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#438
चलते देखा है लोगो को
अक्सर अपनी चाल से तेज
पर वक्त और तक़दीर से आगे
कभी कोई निकल नहीं पाया
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#439
जिन्दगी में ऐसे लोग भी मिलते है
जो वादे तो नहीं करते लेकिन
निभा बहुत कुछ जाते है
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#440
बात कहने के सौ तरीके हैं

कुछ न कहना भी एक तरीका है

???
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#441
*कुछ सिखाकर ये दौर भी गुजर जायेगा..*
*फिर एक बार हर इंसान मुस्कुराएगा...*
*मायूस न होना इस बुरे वक़्त से,*
*कल ,आज है और आज , कल हो जाएगा।*स्वस्थ रहो*मस्त रहो*अपनी ओर अपनोकी*सुरक्षा में व्यस्त रहो*जियो ओर जिनेदो*✊????☺️
diwasanUser is not available now
[PM 393]
Rank : Newbie
Status : Member

#442
An eye for eye make the whole world Blind
diwasanUser is not available now
[PM 393]
Rank : Newbie
Status : Member

#443
बात बस नजरिए की है,काफी अकेला हूं,या अकेला काफ़ी हूं
Sourav112User is not available now
[PM 2687]
Rank : Newbie
Status : Member

#444

अगर जिंदगी में सुकून चाहते हो तो

Focus अपने काम पर करो लोगों की

बातो पर नहीं..
Sourav112User is not available now
[PM 2687]
Rank : Newbie
Status : Member

#445

जो मेहनत पे भरोसा करते हैं

वो किस्मत की बात कभी नही करते"
Sourav112User is not available now
[PM 2687]
Rank : Newbie
Status : Member

#446
मंजिलें भी जिद्दी हैं .
रास्ते भी जिद्दी हैं,
देखते है कल क्या होगा,
हौसले भी तो जिद्दी हैं
Sourav112User is not available now
[PM 2687]
Rank : Newbie
Status : Member

#447
उड़ान तो भरना है।
चाहे कई बार गिरना पड़े
सपनों को पूरा करना है
चाहे खुद से भी लड़ना पड़े
Sourav112User is not available now
[PM 2687]
Rank : Newbie
Status : Member

#448
व्यक्ति खुद को control
कर सकता है वो जिंदगी में कुछ
भी कर सकता है।

KTSIKKAUser is not available now
[PM 2229]
Rank : Newbie
Status : Member

#449
*तराशिये खुद को कुछ इस क़दर,*

*कि*

*पाने वाले को नाज हो,*
*और खोने वाला अफसोस में* *रहे।*

*?प्रातः नमन??*
*?जय श्री कृष्णा??*
KTSIKKAUser is not available now
[PM 2229]
Rank : Newbie
Status : Member

#450
*कभी कभी रिश्तों की कीमत वो समझा देते हैं*


*जिनसे हमारा कोई रिश्ता ही नहीं होता है..!!*

*सुप्रभात*??
*जय श्री कृष्णा*??
lolutan9999User is not available now
[PM 2713]
Rank : Junior Member
Status : Member

#451
जो मेहनत पे भरोसा करते हैं

वो किस्मत की बात कभी नही करते"
KTSIKKAUser is not available now
[PM 2229]
Rank : Newbie
Status : Member

#452
एक बात बोलू ....
जो आपकी खुशी में अपना दर्द भूल जाएं
उस इंसान से ज्यादा आपको कोई प्यार नही कर सकता

KTSIKKAUser is not available now
[PM 2229]
Rank : Newbie
Status : Member

#453
बेवजह ही खुश रहो यारो क्योंकि
इस जमाने मे खुश रहने की वजह बहुत महंगी है।।

KTSIKKAUser is not available now
[PM 2229]
Rank : Newbie
Status : Member

#454
*बड़ों की बातें हमेशा ध्यान से सुनो , क्योंकि वे जब भी कुछ कहते है तो अपने तजुर्बे से कहते है!*
*?जय श्री महाँकाल?*
KTSIKKAUser is not available now
[PM 2229]
Rank : Newbie
Status : Member

#455
*मिले हुए समय को*
*ही अच्छा बनाए अगर*
*अच्छे समय की राह*
*देखोगे तो पूरा जीवन **
*कम पड़ जायेगा ।*

?✨ *सुप्रभात*?✨
KTSIKKAUser is not available now
[PM 2229]
Rank : Newbie
Status : Member

#456
*हार जाना गलत नहीं है..*
*लेकिन हार मान*
*लेना गलत*
*है..*

*क्योंकि पूर्ण-विराम केवल अन्त ही नहीं,*
*एक नये "वाक्य" की*
*शुरुआत भी*
*है!*

*??सुप्रभात??*
*?? जय श्री कृष्णा??*
KTSIKKAUser is not available now
[PM 2229]
Rank : Newbie
Status : Member

#457
*खूबसूरत चेहरा भी*
*बूढ़ा हो जाता है*
*ताकतवर जिस्म भी*
*एक दिन ढल जाता है*
*ओहदा और पद भी*
*एक दिन खत्म होता है*

*लेकिन एक अच्छा इंसान*
*हमेशा अच्छा इंसान ही रहता है।*

KTSIKKAUser is not available now
[PM 2229]
Rank : Newbie
Status : Member

#458
दुःख हमें इंसान बनाता है,
हार हमें विनम्रता सिखाती है,
अभ्यास हमें बलवान बनाता है,
जीत हमारे व्यक्तित्व को निखारती है।

लेकिन सिर्फ़ विश्वास ही है,
जो हमें आगे बढने की
प्रेरणा देता है इसलिए

हमेशा अपने लोगों पर
अपने आप पर और
अपने ईश्वर पर विश्वास
रखना चाहि
KTSIKKAUser is not available now
[PM 2229]
Rank : Newbie
Status : Member

#459
*अपने भविष्य को*
*पूरी शक्ति से अपने भीतर खींचे..!*
*अपने वर्तमान को*
*अपनी क्षमता अनुसार रोक कर रखें..!!*

*अपने भूतकाल को*
*पूरी ताकत से बाहर निकाल दें..!*

*यही है सर्वश्रेष्ठ जीवन योग..!!*

KTSIKKAUser is not available now
[PM 2229]
Rank : Newbie
Status : Member

#460
*?? सुविचार ??*
*सच्चे साथ देने वालों की*
*बस एक ही निशानी है,* ..
*कि,*वो ज़िक्र नही करते*............!
*हमेशा फिक्र किया करते हैं..*!


KTSIKKAUser is not available now
[PM 2229]
Rank : Newbie
Status : Member

#461
*हर कोई चन्दन नहीं,*
*कि 'सुगन्धित' कर सके;*

*कुछ नीम के पेड़ भी हैं,*

*जो सुगन्धित तो नहीं करते*
*पर काम बहुत आते हैं।*

? *प्रातः नमन* ?
? *जय श्री कृष्णा* ?
*❣️ ❣️*
⚜️⚜️⚜️⚜️⚜️⚜️⚜️⚜️⚜️⚜️
KTSIKKAUser is not available now
[PM 2229]
Rank : Newbie
Status : Member

#462


KTSIKKAUser is not available now
[PM 2229]
Rank : Newbie
Status : Member

#463
*"मन के अनुकूल" हो तो*
*"हरि कृपा"*
*और*
*"मन के विपरीत" हो तो*
*"हरि इच्छा"*

*इस तथ्य को धारण कर लें*
*तो जीवन में आनंद ही आनंद है।*

*जय श्री कृष्णा*
????????
KTSIKKAUser is not available now
[PM 2229]
Rank : Newbie
Status : Member

#464
*_જિંદગીને સમજવા માટે ખોટા વ્યક્તિ પર વિશ્વાસ કરવો ખુબ જ જરૂરી છે !!_*

*?શુભ સવાર?*

KTSIKKAUser is not available now
[PM 2229]
Rank : Newbie
Status : Member

#465
*સમસ્યા ઉપર ચેલેન્જનું લેબલ મારો રોજ સવારે દિવસની શરૂઆત બાંય ચઢાવીને કરો*

*_?Good MorninG_?*
gustrzoUser is not available now
[PM 2266]
Rank : Junior Member
Status : Member

#466
*किस हद तक जाना है*
*कौन जानता है,*
*किस मंज़िल को पाना है*
*कौन जानता है,*
*अपनो के साथ दो पल, जी भर के जी लो यारों,*
*कब बिछड़ जाना है*
*कौन जानता है।*

*?जय श्री श्याम??*-----------------
1 ❤:
raman31,
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#467
?राधे राधे हरे हरे ?
हरे कृष्णा हरे कृष्णा ।
कृष्णा कृष्णा हरे हरे
हरे राम हरे राम ।
राम राम हरे हरे ।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#468
*मरे हुए लोग ही नही...*

*कभी कभी जिंदा लोग भी लौटकर नही आते...*


*®️*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#469
*जब हारने से काम बन रहा हो तो,* *फ़िर जीत की ख्वाहिश छोड़ देनी चाहिए ..!*

...❣️☕
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#470
*इसलिए तो ज़माने में अजनबी हूँ मैं !*

*लोग सारे फ़रिश्ते हैं और साधारण हूँ मैं !!*

raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#471
*दुआएं जमा,*
*करने में लग जाओ साहब,*

*खबर पक्की है,*
*दौलत और शोहरत साथ,*
*नहीं जाएगी,*
SonuUser is not available now
[PM 26]
Rank : Shri Krishna
Status : Head Admin

#472
Keep it up bro ???

raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#473
------कभी कभी .....
.......रिश्तो की क़ीमत
वो लोग समझा देते हैं,,,,,

जिनसे हमारा कोई....
रिश्ता तक नहीं होता..!! ?

????
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#474
??

*वृक्ष कितना भी मजबूत क्यों न हो, समय के अनुरूप फूल, फल आते रहते हैं, झड़ते रहते हैं.....*

*उसी तरह हम कितने भी नीति पूर्वक जियें कष्ट और आँसू आते रहते हैं..... जाते रहते हैं।*

*सीखने वाली बात हड़बड़ाना नहीं दृढ़ता से खड़े रहना।*


*शुभ प्रभात*


???
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#475
*"लगन" व्यक्ति से वो करवा लेती है,*
*जो वह नहीं कर सकता...*
*"साहस' व्यक्ति से वो करवाता है,*
*जो वह कर सकता है...*
*किन्तु*
*"अनुभव"व्यक्ति से वही करवाता है,*
*जो वास्तव में उसे करना चाहिये !!!*
????????
*"अवसर"और "सूर्योदय" में एक ही समानता है,देर करने वाले इन्हें हमेशा खो देते हैं।*
?जय माता दी ?
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#476
✍?✍?✍?
*भावनाओं को समझने बाला*
*एक अनपढ़ आदमी*

*दुनियां का सबसे पड़ा लिखा*
*आदमी होता है*
*?राधे राधे?*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#477
???????

*यूं ही न अपने मिजाज*
*को चिड़चिड़ा कीजिये,*

*अगर कोई बात छोटी करे*
*तो आप दिल बड़ा कीजिये...*

*एक जैसी ही दिखती थी*
*माचिस की वो तीलियाँ,*
*कुछ ने "दीए" जलाये*
*और कुछ ने "घर",*

_*मिली हैं रूहें तो,*
*रस्मों की बंदिशें क्या है,*_

_*यह जिस्म तो ख़ाक हो जाना है फिर रंजिशें क्या हैं,*_

*है छोटी सी ज़िन्दगी तकरारें किस लिए,*
*रहो एक दूसरे के दिलों में यह दीवारें किस लिए....*



*??सुप्रभात??*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#478
? जय श्री राधेकृष्णा ?

“जिसका उदय निश्चित है उसे दुनिया की कोई ताक़त नहीं रोक सकती...!!!"

सुप्रभात...

??आपका दिन शुभ हो...??
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#479
♥️ पता नहीं क्यों पिताजी हमेशा पिछड़ रहे हैं।
1. माँ की तपस्या 9 महीने की होती है! पिताजी की तपस्या 25 साल तक होती हैं, दोनों बराबर हैं, मगर फिर भी पता नहीं क्यों पिताजी पिछड़ रहे हैं।
2. माँ परिवार के लिए भुगतान किए बिना काम करती है, पिताजी भी अपना सारा वेतन परिवार के लिए ही खर्च करते हैं, उनके दोनों के प्रयास बराबर हैं, फिर भी पता नहीं क्यों पिताजी पिछड़ रहे हैं।
3. माँ आपको जो चाहे पकाती है, पिताजी भी आप जो भी चाहते हैं, खरीद देते हैं, प्यार दोनों का बराबर है, लेकिन माँ का प्यार बेहतर है। पता नहीं क्यों पिताजी पिछड़ रहे हैं।
4. जब आप फोन पर बात करते हैं, तो आप पहले मॉम से बात करना चाहते हैं, अगर आपको कोई चोट लगी है, तो आप 'मॉम' का रोना रोते हैं। आपको केवल पिताजी की याद होगी जब आपको उनकी आवश्यकता होगी, लेकिन पिताजी को कभी बुरा नहीं लगता कि आप उन्हें सदैव और हर बार याद नहीं करते? जब पीढ़ियों के लिए बच्चों से प्यार प्राप्त करने की बात आती है, तो कोई यह नहीं जानता कि पिताजी क्यों पिछड़ रहे हैं।
5. अलमारी बच्चों के लिए रंगीन कपड़ो व साड़ियों और कई कपड़ों से भरी होगी लेकिन पिताजी के कपड़े बहुत कम हैं, वह अपनी जरूरतों के बारे में परवाह नहीं करते हैं, फिर भी यह नहीं जानते कि पिताजी क्यों पिछड़ रहे हैं।
6. माँ के पास सोने के कई गहने हैं, लेकिन पिताजी के पास केवल एक अंगूठी है जो उनकी शादी के दौरान दी गई थी। फिर भी माँ को कम आभूषण की शिकायत हो सकती है और पिताजी को नहीं। अभी भी नहीं पता कि पिताजी क्यों पिछड़ रहे हैं।
7. परिवार की देखभाल करने के लिए पिताजी अपना सारा जीवन बहुत परिश्रम करते हैं, लेकिन जब मान्यता प्राप्त करने की बात आती है, तो पता नहीं क्यों वह हमेशा पीछे रह जाते है।
8. माँ कहती है, हमें इस महीने कॉलेज ट्यूशन का भुगतान करने की आवश्यकता है, कृपया त्योहार के लिए मेरे लिए एक साड़ी न खरीदें, जबकि पिताजी ने अपने नए कपड़ों के बारे में तो कभी सोचा भी नहीं। दोनों का प्यार बराबर है, फिर भी पता नहीं क्यों पिताजी पिछड़ रहे हैं।
9. जब माता-पिता बूढ़े हो जाते हैं, तो बच्चे कहते हैं, माँ घर के कामों में कम से कम मदद करती हैं, लेकिन वे कहते हैं, पिताजी बेकार हैं। घर में फालतू पड़े रहते हैं।
पिताजी पीछे हैं (या the सबसे पीछे &rsquo क्योंकि वह परिवार की रीढ़ हैं। उसकी वजह से हम अपने दम पर खड़े हो पा रहे हैं।
शायद, यही कारण है कि वह पिछड़ रहै है .... !!! क्योंकि रीढ़ ही शरीर को साधे रहती है मगर वो सबसे पीछे होती है
? ?
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#480
*पिता की तरफ से बेटी को अदभुत भेंट*

?????????

*विवाह के बाद, पहली बार मायके आयी बेटी का स्वागत सप्ताह भर चला।*

*सम्पूर्ण सप्ताह भर बेटी को जो पसन्द है, वही सब किया गया, वापिस ससुराल जाते समय, पिता ने बेटी को एक अति सुगंधित अगरबत्ती का पुडा दिया, और कहाकि बेटी तुम जब ससुराल में पूजा करने जाओगी तब यह अगरबत्ती जरूर जलाना,*

*माँ ने कहा, बिटिया प्रथम बार मायके से ससुराल जा रही है, तो ऐसे कोई अगरबत्ती जैसी चीज कोई देता है भला,*

*पिता ने झट से जेब में हाथ डाला और जेब में जितने भी रुपये थे वो सब बेटी को दे दिए,*

*ससुराल में पहुंचते ही सासु माँ ने बहु के मात-पिता ने बेटी को बिदाई में क्या दिया यह देखा, तो वह अगरबत्ती का पुडा भी दिखा, सासु माँ ने मुंह बना कर बहु को बोला कि , कल पूजा में यह अगरबत्ती लगा लेना,*

*सुबह जब बेटी पूजा करने बैठी तो वह अगरबत्ती का पुडा खोला, उसमे से एक चिट्ठी निकली,*

*_लिखा था....*

*!! "बेटा यह अगरबत्ती स्वतः जलती है, मगर संपूर्ण घर को सुगंधी कर देती है, इतना ही नहीं आजु-बाजू के पूरे वातावरण को भी अपनी महक से सुगंधित एवम प्रफुल्लित कर देती है....!!*

*हो सकता है कि तुम कभी पति से कुछ समय के लिए रुठ जाओगी, या कभी अपने सास-ससुरजी से नाराज हो जाओगी, कभी देवर या ननद से भी रूठोगी, कभी तुम्हे किसी से बातें सुननी भी पड़ जाए, या फिर कभी अडोस-पड़ोसियों के वर्तन पर तुम्हारा दिल खट्टा हो जाये, तब तुम मेरी यह भेंट ध्यान में रखना,*

*_अगरबत्ती की तरह जलना, जैसे अगरबत्ती स्वयं जलते हुए पूरे घर और सम्पूर्ण परिसर को सुगंधित और प्रफुल्लित कर ऊर्जा से भरती है, ठीक उसी तरह तुम स्वतः सहन कर तेरे ससुराल को अपना मायका समझ कर सब को अपने व्यवहार और कर्म से सुगंधित और प्रफुल्लित करना...._*

*बेटी चिट्ठी पढ़कर फफकर रोने लगी, सासूमां लपककर आयी, पति और ससुरजी भी पूजा घर में पहुंचे जहां बहु रो रही थी।*

*"अरे हाथ को चटका लग गया क्या?, ऐसा पति ने पूछा।*

*"क्या हुआ यह तो बताओ, ससुरजी बोले।*

*सासूमाँ आजुबाजुके सामान में कुछ है क्या यह देखने लगी,*

*तो उन्हें पिता द्वारा सुंदर अक्षरों में लिखी हुई चिठ्ठी नजर आयी, चिट्ठी पढ़ते ही उन्होंने बहु को गले से लगा लिया, और चिट्ठी ससुरजी के हाथों में दी, चश्मा ना पहने होने की वजह से, चिट्ठी बेटे को देकर पढ़ने के लिए कहा।*

*सारी बात समझते ही संपूर्ण घर स्तब्ध हो गया।*

*"सासु माँ बोली अरे, यह चिठ्ठी फ्रेम करानी है यह मेरी बहु को मिली हुई सबसे अनमोल भेंट है, पूजा घर के बाजू में ही इसकी फ्रेम होनी चाहिए,*

*और फिर सदैव वह फ्रेम अपने शब्दों से, सम्पूर्ण घर, और अगल-बगल के वातावरण को अपने अर्थ से महकाती रही, अगरबत्ती का पुडा खत्म होने के बावजूद भी.......*

*इसे कहते हैं,....*

*!! संस्कार....... मायके के !*
नारायण नारायण ??
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#481
**शुभ प्रभात*

**अपने जीवन में तीन लोगों को कभी भी नहीं भूलना चाहिए*
*पहला – मुसीबत में जो आपके काम आए,*
*दूसरा- जो मुसीबत में आपका साथ छोड़ दे,*
*तीसरा- जो आपको मुसीबत में डाल दे।**

? *जय श्री राम* ?
? *श्री राधे राधे* ?
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#482
सबसे सरल और सबसे कठिन काम संसार में क्या है ?

       यदि हम एक हज़ार व्यक्तियों को लें तो उनमें नौ सौ निन्यानवे व्यक्ति दुष्ट, कपटी, स्वार्थी और बदमाश मिलेंगे और अच्छा-भला व्यक्ति मिलेगा केवल एक और उस एक को खोजने निकलेंगे तो पहले उन नौ सौ निन्यानवे से भेंट होगी और वे नौ सौ निन्यानवे व्यक्ति आपको भेंटस्वरूप एक-एक बुराई देते जायेंगे। अन्त में परिणाम यह होगा कि जब तक हम उस एकाकी अच्छे व्यक्ति के पास पहुंचेंगे, तब तक हम स्वयं इतने भारी बदमाश, स्वार्थी, कपटी और चरित्रहीन बन चुके होंगे कि उस एकमात्र अच्छे चरित्रवान व्यक्ति का प्रभाव न पड़ सकेगा हम पर। इसलिए हे बन्धु ! यदि जीवन को गंगाजल की तरह हम पवित्र शुद्ध और निर्मल (हालाँकि गंगाजल भी इसी तरह दुष्ट लोगों के कारण लगातार प्रदूषित होता जा रहा है) रखना चाहते हैं तो कम से कम व्यक्तियों के संपर्क में आएं।

       *संसार में सबसे सरल और सबसे कठिन काम क्या है ?*

       सबसे सरल काम है संसार में--दूसरे की निन्दा करना, बुराई करना, दूसरों में दोष निकालना और सबसे कठिन काम है--आत्मपरीक्षण।

हम हर समय अच्छे और सज्जन होने का मुखौटा लगाये दूसरों को धोखा देते रहते हैं। यह बात भले ही दूसरों से छिपी रहे परन्तु अपनी आत्मा को भी जो धोखा देना है, वह कैसे छिपा रह सकेगा ? सबसे छिपा लेंगे अपने पापों को लेकिन अपनी आत्मा से कभी नहीं छिपा सकेंगे।
       संसार, समाज से दूर आत्मलीन व्यक्ति अंतर्मुखी होता है, वह दूसरों की तुलना में असामान्य भी होता है। साधारण लोग उसे समझ नहीं सकते। उन्हें समझाने की उसे आवश्यकता भी नहीं है। वे समझेंगे भी तो बेवकूफ। वे यह नहीं समझेंगे कि ऐसे आत्मलीन अंतर्मुखी व्यक्ति के ह्रदय में एक दर्द रहता है और वह दर्द है--उसका प्राण और उसका अश्रुसिंचित भावुक जीवन। भावुक जीवन में कई लोग अपने बनकर आ जाते हैं, पर वे ठहरते नहीं। स्वार्थ के वशीभूत होकर जीवन के किस अंधे मोड़ पर खो जाते हैं, पता भी नहीं चलता।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#483
*पिता की तरफ से बेटी को अदभुत भेंट*

?????????

*विवाह के बाद, पहली बार मायके आयी बेटी का स्वागत सप्ताह भर चला।*

*सम्पूर्ण सप्ताह भर बेटी को जो पसन्द है, वही सब किया गया, वापिस ससुराल जाते समय, पिता ने बेटी को एक अति सुगंधित अगरबत्ती का पुडा दिया, और कहाकि बेटी तुम जब ससुराल में पूजा करने जाओगी तब यह अगरबत्ती जरूर जलाना,*

*माँ ने कहा, बिटिया प्रथम बार मायके से ससुराल जा रही है, तो ऐसे कोई अगरबत्ती जैसी चीज कोई देता है भला,*

*पिता ने झट से जेब में हाथ डाला और जेब में जितने भी रुपये थे वो सब बेटी को दे दिए,*

*ससुराल में पहुंचते ही सासु माँ ने बहु के मात-पिता ने बेटी को बिदाई में क्या दिया यह देखा, तो वह अगरबत्ती का पुडा भी दिखा, सासु माँ ने मुंह बना कर बहु को बोला कि , कल पूजा में यह अगरबत्ती लगा लेना,*

*सुबह जब बेटी पूजा करने बैठी तो वह अगरबत्ती का पुडा खोला, उसमे से एक चिट्ठी निकली,*

*_लिखा था....*

*!! "बेटा यह अगरबत्ती स्वतः जलती है, मगर संपूर्ण घर को सुगंधी कर देती है, इतना ही नहीं आजु-बाजू के पूरे वातावरण को भी अपनी महक से सुगंधित एवम प्रफुल्लित कर देती है....!!*

*हो सकता है कि तुम कभी पति से कुछ समय के लिए रुठ जाओगी, या कभी अपने सास-ससुरजी से नाराज हो जाओगी, कभी देवर या ननद से भी रूठोगी, कभी तुम्हे किसी से बातें सुननी भी पड़ जाए, या फिर कभी अडोस-पड़ोसियों के वर्तन पर तुम्हारा दिल खट्टा हो जाये, तब तुम मेरी यह भेंट ध्यान में रखना,*

*_अगरबत्ती की तरह जलना, जैसे अगरबत्ती स्वयं जलते हुए पूरे घर और सम्पूर्ण परिसर को सुगंधित और प्रफुल्लित कर ऊर्जा से भरती है, ठीक उसी तरह तुम स्वतः सहन कर तेरे ससुराल को अपना मायका समझ कर सब को अपने व्यवहार और कर्म से सुगंधित और प्रफुल्लित करना...._*

*बेटी चिट्ठी पढ़कर फफकर रोने लगी, सासूमां लपककर आयी, पति और ससुरजी भी पूजा घर में पहुंचे जहां बहु रो रही थी।*

*"अरे हाथ को चटका लग गया क्या?, ऐसा पति ने पूछा।*

*"क्या हुआ यह तो बताओ, ससुरजी बोले।*

*सासूमाँ आजुबाजुके सामान में कुछ है क्या यह देखने लगी,*

*तो उन्हें पिता द्वारा सुंदर अक्षरों में लिखी हुई चिठ्ठी नजर आयी, चिट्ठी पढ़ते ही उन्होंने बहु को गले से लगा लिया, और चिट्ठी ससुरजी के हाथों में दी, चश्मा ना पहने होने की वजह से, चिट्ठी बेटे को देकर पढ़ने के लिए कहा।*

*सारी बात समझते ही संपूर्ण घर स्तब्ध हो गया।*

*"सासु माँ बोली अरे, यह चिठ्ठी फ्रेम करानी है यह मेरी बहु को मिली हुई सबसे अनमोल भेंट है, पूजा घर के बाजू में ही इसकी फ्रेम होनी चाहिए,*

*और फिर सदैव वह फ्रेम अपने शब्दों से, सम्पूर्ण घर, और अगल-बगल के वातावरण को अपने अर्थ से महकाती रही, अगरबत्ती का पुडा खत्म होने के बावजूद भी.......*

*इसे कहते हैं,....*

*!! संस्कार....... मायके के !*
नारायण नारायण ??
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#484
♥️ पता नहीं क्यों पिताजी हमेशा पिछड़ रहे हैं।
1. माँ की तपस्या 9 महीने की होती है! पिताजी की तपस्या 25 साल तक होती हैं, दोनों बराबर हैं, मगर फिर भी पता नहीं क्यों पिताजी पिछड़ रहे हैं।
2. माँ परिवार के लिए भुगतान किए बिना काम करती है, पिताजी भी अपना सारा वेतन परिवार के लिए ही खर्च करते हैं, उनके दोनों के प्रयास बराबर हैं, फिर भी पता नहीं क्यों पिताजी पिछड़ रहे हैं।
3. माँ आपको जो चाहे पकाती है, पिताजी भी आप जो भी चाहते हैं, खरीद देते हैं, प्यार दोनों का बराबर है, लेकिन माँ का प्यार बेहतर है। पता नहीं क्यों पिताजी पिछड़ रहे हैं।
4. जब आप फोन पर बात करते हैं, तो आप पहले मॉम से बात करना चाहते हैं, अगर आपको कोई चोट लगी है, तो आप 'मॉम' का रोना रोते हैं। आपको केवल पिताजी की याद होगी जब आपको उनकी आवश्यकता होगी, लेकिन पिताजी को कभी बुरा नहीं लगता कि आप उन्हें सदैव और हर बार याद नहीं करते? जब पीढ़ियों के लिए बच्चों से प्यार प्राप्त करने की बात आती है, तो कोई यह नहीं जानता कि पिताजी क्यों पिछड़ रहे हैं।
5. अलमारी बच्चों के लिए रंगीन कपड़ो व साड़ियों और कई कपड़ों से भरी होगी लेकिन पिताजी के कपड़े बहुत कम हैं, वह अपनी जरूरतों के बारे में परवाह नहीं करते हैं, फिर भी यह नहीं जानते कि पिताजी क्यों पिछड़ रहे हैं।
6. माँ के पास सोने के कई गहने हैं, लेकिन पिताजी के पास केवल एक अंगूठी है जो उनकी शादी के दौरान दी गई थी। फिर भी माँ को कम आभूषण की शिकायत हो सकती है और पिताजी को नहीं। अभी भी नहीं पता कि पिताजी क्यों पिछड़ रहे हैं।
7. परिवार की देखभाल करने के लिए पिताजी अपना सारा जीवन बहुत परिश्रम करते हैं, लेकिन जब मान्यता प्राप्त करने की बात आती है, तो पता नहीं क्यों वह हमेशा पीछे रह जाते है।
8. माँ कहती है, हमें इस महीने कॉलेज ट्यूशन का भुगतान करने की आवश्यकता है, कृपया त्योहार के लिए मेरे लिए एक साड़ी न खरीदें, जबकि पिताजी ने अपने नए कपड़ों के बारे में तो कभी सोचा भी नहीं। दोनों का प्यार बराबर है, फिर भी पता नहीं क्यों पिताजी पिछड़ रहे हैं।
9. जब माता-पिता बूढ़े हो जाते हैं, तो बच्चे कहते हैं, माँ घर के कामों में कम से कम मदद करती हैं, लेकिन वे कहते हैं, पिताजी बेकार हैं। घर में फालतू पड़े रहते हैं।
पिताजी पीछे हैं (या the सबसे पीछे &rsquo क्योंकि वह परिवार की रीढ़ हैं। उसकी वजह से हम अपने दम पर खड़े हो पा रहे हैं।
शायद, यही कारण है कि वह पिछड़ रहै है .... !!! क्योंकि रीढ़ ही शरीर को साधे रहती है मगर वो सबसे पीछे होती है
? ?
kuma_rraj1234User is not available now
[PM 3758]
Rank : Beginner
Status : Member

#485
"Success की सबसे खास बात है की, वो मेहनत करने वालों पर फ़िदा हो जाती है I"
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#486
*??भोर सुहानी??*

*_”उम्मीद” और “भरोसा” कभी गलत नहीं होते_*

*_बस ये हम पर निर्भर करता है कि हमने किससे “उम्मीद” की_*

*_और_*
*_किस पर “भरोसा”_*

*?मंगलमय सु प्रभात ?*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#487
*??मोर्निंग बैल??*


*"अच्छे दोस्त सफ़ेद रंग जैसे होते हैं,*

*सफ़ेद में कोई भी रंग मिलाओ तो नया रंग बन सकता है,*

*लेकिन दुनिया के सभी रंग मिलाकर भी सफ़ेद रंग नहीं बना सकते "..!!*


*G⭕⭕D?〽️⭕➰N❗NG*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#488
???????☘️

*रेत में गिरी हुई शक्कर*
*चींटी तो उठा सकती है,*
*मगर हाथी नहीं,*
*"इसलिए"*
*छोटे आदमी को*
*छोटा ना समझें*
*कभी कभी छोटा आदमी भी*
*बड़ा काम कर जाता है.!*
*पैसा सिर्फ़ लाइफ़्स्टायल बदल सकता है*
*दिमाग़, नीयत और क़िस्मत नहीं*

*??पुष्प प्रभात??*
daz007User is not available now
[PM 4128]
Rank : Average Member
Status : Member

#489
जीवन में शांति चाहते हैं तो दुसरों की शिकायतें करने से बेहतर है खुद को बदल लें।
क्योंकि पुरी दुनिया में कारपेट बिछाने से खुद के पैरों में चप्पल पहन लेना अधिक सरल है।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#490
आप कितनी ही कोशिश कर लें लोगों की धारणा आपके प्रति नहीं बदलेगी
इसलिए हमेशा ख़ुशी और सुकून से अपनी जिन्दगी जिए और खुश रहे।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#491
किसी के भी बुरे समय में उसका सहारा बनकर उसे हिम्मत दो
क्योंकि बुरा वक्त तो थोड़े समय बाद निकल जायेगा लेकिन वह आपको जिन्दगी भर दुआ देता रहेगा।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#492
जो लोग आपकी कीमत नहीं समझते
उनसे दूरी बनाकर रहना ही अच्छा है।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#493
पद्म पुराण में कहा गया है, ‘जो जन्म लेता है, उसकी मृत्यु निश्चित है। इसलिए मृत्यु से भयभीत होने की जगह सत्कर्मों के माध्यम से मरण को शुभ बनाने के प्रयास करने चाहिए।’

जैन संत आचार्य तुलसी एक बोधकथा सुनाया करते थे एक मछुआरा समुद्र से मछलियाँ पकड़ता और उन्हें बेचकर अपनी जीविका चलाता था। एक दिन एक वणिक उसके पास आकर बैठा। उसने पूछा, ‘मित्र, क्या तुम्हारे पिता है?’

उसने जवाब दिया, ‘नहीं, उन्हें समुद्र की एक बड़ी मछली निगल गई।’ उसने फिर पूछा, ‘और तुम्हारा बड़ा भाई ? ‘ मछुआरे ने जवाब दिया, ‘नौका डूब जाने के कारण वह समुद्र में समा गया।’

वणिक ने फिर पूछा, ‘दादाजी और चाचाजी की मृत्यु कैसे हुई ?’ मछुआरे ने बताया कि वे भी समुद्र में लीन हो गए थे। वणिक ने यह सुना, तो बोला, ‘मित्र, यह यमुद्र तुम्हारे विनाश का कारण है, बावजूद इसके तट पर आकर जाल डालते हो। क्या तुम्हें मरने कर भया नहीं है ??

मछुआरा बोला, ‘भैया, मौत जिस दिन आनी होगी, आएगी ही। तुम्हारे घरवालों में से दादा, परदादा, पिता में से शायद ही कोई इस समुद्र तक आया होगा। फिर भी वे सब चल बसे । मौत कब आती है और कैसे आती है, यह आज तक कोई भी नहीं समझ सका है। फिर मैं बेकार ही मौत से क्यों डरूँ??

भगवान् महावीर ने कहा था, ‘नाणागमो मच्चुमुहस्य अत्थि’ यानी मृत्यु किसी भी द्वार से आ सकती है, इसलिए आत्मज्ञानी ही मौत के भय से बचा रह सकता है।
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#494
आध्यात्मिक विभूति श्री हनुमानप्रसाद पोद्दार से मिलने कलकत्ता के एक धनाढ्य परिचित पहुँचे। उन्होंने कहा, ‘जब मैं किसी तीर्थ में जाता हूँ, तो दान अवश्य करता हूँ।’ उन्होंने एक अखबार भी दिखाया, जिसमें किसी को कपड़े दान करते हुए उनका चित्र छपा था।

पोद्दारजी ने कहा, ‘तुमने तो अपने दान को एक ही दिन में निष्फल बना डाला, जबकि दान का पुण्य तो लंबे समय तक मिलता है। धर्मशास्त्रों में कहा गया है कि जो प्रशंसा या किसी बदले की इच्छा से दान करता है, वह उसका पुण्य फल कदापि नहीं प्राप्त कर सकता।’

उन्होंने कुछ क्षण रुककर कहा, ‘पद्मपुराण में कहा गया है कि मानव को धन-संपत्ति भगवान् की कृपा से प्राप्त होती है, इसलिए इसका उपयोग अपने परिवार के पालन-पोषण में सतर्कता से करना चाहिए।

उसका अत्यधिक भाग यज्ञ आदि धार्मिक कार्यों और अभावग्रस्त लोगों की सेवा – सहायता में लगाना चाहिए। यह मानकर दान करना चाहिए कि भगवान् की चीज भगवान् को ही अर्पित की जा रही है।

यदि कोई अहंकार में अपने को बड़ा धर्मात्मा प्रकट करने के लिए दान करता है, तो वह पुण्य की जगह पाप का भागी बनता है। ‘ पोद्दारजी कहते हैं, ‘जो व्यक्ति निष्काम सेवा सहायता करता है, प्रभु उसी पर कृपा-दृष्टि रखते हैं।

जो आदमी लालसा में सेवा का प्रदर्शन करता है, उसे ढोंग मानना चाहिए। इसलिए कहा गया है कि एक हाथ से किसी को दान देते वक्त दूसरे हाथ को भी इसका पता नहीं चलना चाहिए । गुप्तदान को शास्त्र में सर्वश्रेष्ठ दान माना गया है।’
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#495
*जिन्दगी हमें हमेशा नया पाठ पढ़ाती है*
*लेकिन हमें समझाने के लिए नहीं बल्कि हमारी सोच बदलने के लिए।*


*कोशिश ये मत करो कि कोई आपको अच्छा कहे, कोशिश ये करो कि कोई आपको बुरा ना कहे।*


*जिंदगी "जीनी" है तो "तकलीफें" भी बर्दाश्त करनी पड़ेगी...!*
*वरना "मरने" के बाद तो "जलने" का भी "एहसास" नही होता...!!*

*सुप्रभात*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#496
? जय श्री राधेकृष्णा ?

"आज मुश्किल है कल थोडा बेहतर होगा, बस उम्मीद मत छोड़ना भविष्य जरूर बेहतरीन होगा...!!!"

सुप्रभात...

??आपका दिन शुभ हो...??
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#497
*मुस्कुराकर देखो तो सारा जहां रंगीन है,*
*वर्ना....*
*भीगी पलकों से तो,आईना भी धुंधला नजर आता है।*
?जय श्रीकृष्ण ?
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#498
*प्रातः वंदन,,,,?*

*गलत सोच और गलत अंदाजा*
*इंसान को हर रिश्ते से गुमराह कर देता है*
*रिश्तों में आपस में जितनी*
*सहनशीलता क्षमाशीलता और*
*समझदारी होगी आपसी*
*रिश्तोंकी उम्र उतनी ही लंबी होगी*
*मनुष्य के पास सबसे बड़ी पूंजी*
*अच्छे विचार हैं क्योंकि धन और बल*
*किसी को भी गलत राह पर*
*ले जा सकते हैं किन्तु अच्छे विचार सदैव*
*अच्छे कार्यो के लिए ही प्रेरित करेंगे*
*विचार और व्यवहार हमारे बगीचेके वो फ़ूल हैं*
*जो हमारे पूरे व्यक्तित्व को महका देतें हैं*
*बहस और बातचीत में एक बड़ा फर्क*
*बहस सिर्फ़ यह सिद्ध करती है*
*कि कौन सही है जबकि बातचीत यह*
*तय करती है कि क्या सही है*

*सुप्रभात,,,,?*
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#499
*_?? ??_*
®️
❤ ? ? ? ? ? ❤

*_? आज का विचार ?_*

? *कीमती तो बहुत कुछ*
*होता है ज़िन्दगी में लेकिन*
*हर चीज़ की कीमत सिर्फ़*
*वक़्त ही समझा सकता है..!*

? *लोग आपके असली रूप*
*से नफ़रत करें ये अच्छा है*
*बजाय इसके कि वे आपके*
*नकली रूप से प्रेम करें...!*

*_? शुभ: प्रभात् ?_*

*_भारत माता की जय ??_*

❤ ? ? ? ? ? ❤
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#500
? जय श्री राधेकृष्णा ?

"ज़्यादा सोचना बंद करें और उस दुनिया से बाहर आएं जो हक़ीक़त में है ही नहीं...!!!"

सुप्रभात...

??आपका दिन शुभ हो...??
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#501
*प्रातः वंदन,,,,?*

*बदल गई है रंगत अब जमाने की*
*अनजान वही बनते हैं जो सब जानते हैं*
*कौन कहता है कि*
*बड़ी गाड़ियों में ही सफर अच्छा होता है*
*सच्चे रिश्ते साथ हो तो*
*जिंदगी पैदल भी मजेदार होती हैं*
*वजह की तलाश में*
*वक्त ना गवाया करें*
*वेवजह, बेपरवाह बस मुस्कुराया करें*
*क्योंकि जिंदगी पल पल ढलती है*
*जैसे रेत मुट्ठी से फिसलती है*
*शिकवे कितने भी हों हर पल*
*फिर भी सदैव हंसते रहिए*
*क्योंकि यह जिंदगी जैसी भी है*
*बस एक ही बार मिलती है*


*सुप्रभात,,,,??*
kuma_rraj1234User is not available now
[PM 3758]
Rank : Beginner
Status : Member

#502
देर से बनो पर जरूर कुछ बनो, क्योंकि लोग वक्त के साथ खैरियत नही हैसियत पूछते हैं।
CasanovaUser is not available now
[PM 1932]
Rank : Newbie
Status : Member

#503
जिस व्यक्ति का मन का भाव सच्चा होता है, उस व्यक्ति का हर काम अच्छा होता है।
CasanovaUser is not available now
[PM 1932]
Rank : Newbie
Status : Member

#504
अगर आप उन बातों और परिस्थितियों की वजह से चिंतित हो जाते हैं, जो आपके नियंत्रण में नहीं;
तो इसका परिणाम समय की बर्बादी और भविष्य का पछतावा हैं…
CasanovaUser is not available now
[PM 1932]
Rank : Newbie
Status : Member

#505
“बुरा वक्त भी हमे कुछ नया सीखा जाता है, कुछ नया नहीं तो, हमे अपने और पराये की पहचान करा ही जाता है।”
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#506
*मृदुल स्नेह, अटूट विश्वास और समर्पण से परिपूर्ण भाई-बहन के पावन पर्व रक्षाबंधन की आप सभी को हार्दिक बधाई, शुभकामनाएं।* ?
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#507
कभी जीने की आशा,
कभी मन की निराशा,
कभी खुशियो की धूप,
कभी हकीकत की छांव,
कुछ खोकर कुछ पाने की आशा,
शायद यही है जीवन की परिभाषा…!!!

?? वंदन अभिनंदन !! ??
raman31User is not available now
[PM 109]
Rank : SMS ExperT
Status : Member

#508
? जय श्री राधेकृष्णा ?

"हर कोई चंदन तो नहीं कि जीवन सुगंधित कर सके, कुछ नीम के पेड़ भी होते है, जो सुगंधित तो नहीं करते, पर काम बहुत आते है...!!!"

सुप्रभात...


Reply
You are not logged in, please

Login

Page: 1   

Jump To Page:

Keywords:,
Related threads:





Daily Physical Exercises Everyone Must Do



This trick will keep you away from premature aging


Indian Polity by M Lakshmikanth book review


INDIAN ECONOMY by GAURAV AGARWAL BOOK REVIEW



TERMS & CONDITIONS | DMCA POLICY | PRIVACY POLICY
Home | Top | Official Blog | Tools | Contact | Sitemap | Feed
Page generated in 7.5 microseconds
FRENDZ4M © 2024